लाइव टीवी

बैंक में लगा था नोटिस- 'बुर्का, हेलमेट-चश्मा लगाकर न करें एंट्री', बवाल के बाद हटाया

News18Hindi
Updated: May 5, 2019, 10:13 AM IST
बैंक में लगा था नोटिस- 'बुर्का, हेलमेट-चश्मा लगाकर न करें एंट्री', बवाल के बाद हटाया
प्रतीकात्मक तस्वीर

बैंक ऑफ बड़ौदा की ही तरह सूरत स्थित न्यू सिविल हॉस्पिटल कैंपस के देना बैंक शाखा में भी कुछ ऐसी नोटिस लगाई गई थी.

  • Share this:
देश भर में बुर्का और घूंघट पर चल रही बहस के बीच नया मामला सामने आया है. गुजरात के कुछ बैंकों में ऐसी नोटिस चस्पा की गईं जिन पर बुर्का पहन कर बैंक में एंट्री नहीं मिलेगी. हालांकि, आपत्ति सामने आने के बाद ऐसी नोटिस हटा ली गईं. मामला राज्य के सूरत का है. अंबाजी रोड के बैंक ऑफ बड़ौदा की शाखा पर नोटिस लगाई गई थी कि उन लोगों को यहां प्रवेश नहीं मिलेगा जो 'बुर्का, हेलमेट और सनग्लासेज' लगाकर बैंक में आएंगे.

बैंक ऑफ बड़ौदा की ही तरह सूरत स्थित न्यू सिविल हॉस्पिटल कैंपस के देना बैंक शाखा में भी कुछ ऐसी नोटिस लगाई गई थी. इस नोटिस पर अल्पसंख्यक समुदाय के लोग नाराज हुए और सोशल मीडिया पर नोटिस की तस्वीर साझा की. बताया गया कि बैंक ऑफ बड़ौदा की एक शाखा पर बुरका बैन करने संबंधी सूचना को हटा लिया गया है.

यह भी पढ़ें: बुर्का वाले बयान पर जावेद अख्तर का यू-टर्न, बोले- घूंघट पर भी लगे बैन

अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार अंबाजी रोड स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा की शाखा के मैनेजर नवीन गोखिया ने कहा कि 'किसी भी समुदाय की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का इरादा नहीं था.' उन्होंने कहा कि 'हमने नोटिस हटा दिए हैं. कुछ हफ्ते पहले इन्हें लगाया गया था लेकिन आपत्ति अब उठाई गई.'

यह भी पढ़ें: बुर्के पर फिर क्यों दुनियाभर में मचा है कोहराम, खफा हैं मुस्लिम


अंबाजी रोड स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा की शाखा में लगी नोटिस पर लिखा था- 'कृपया, हेलमेट या बुर्का हटा दें. हेलमेट और बुर्का संग प्रवेश की अनुमति नहीं है.' अखबार की रिपोर्ट के अनुसार देना बैंक की शाखा में चस्पा नोटिस में कहा गया था- पुलिस कमिश्नर के आगदेशानुसार, बैंक या उसके एटीएम में कोई बुर्का, हेलमेट और बड़ा चश्मा लगा कर प्रवेश की अनुमति नहीं है.यह भी पढ़ें: संगीत सोम ने बुर्के पर बैन लगाने की मांग, कहा- इसके आड़ में पनप रहा आतंकवाद


रिपोर्ट के अनुसार, वकील और मुस्लिम समुदाय के नेता बाबू पठान ने कहा, 'बैंक यह कह सकता है कि सुरक्षा कारणों से चेहरा ढका हुआ न हो, लेकिन बुर्का जो कि महिला को सिर से पांव तक कवर करता है, वह इसे बैन नहीं कर सकते.'

रिपोर्ट के अनुसार, जब पुलिस कमिश्नर सतीश शर्मा से इस बारे में पूछा गया, तो उन्होंने कहा कि पुलिस की ओर से ऐसा कोई आदेश नहीं जारी हुआ है. वहीं, सूरत के जिला अधिकारी धवल पटेल ने कहा कि हमें इस संबंध में कोई शिकायत नहीं मिली है.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Gujarat से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 5, 2019, 9:28 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर