लाइव टीवी

दिल्ली उच्च न्यायालय व निचली अदालतों के वकील सोमवार को काम नहीं करेंगे

News18Hindi
Updated: November 3, 2019, 10:58 PM IST
दिल्ली उच्च न्यायालय व निचली अदालतों के वकील सोमवार को काम नहीं करेंगे
दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट में पुलिस और वकीलों के बीच हुई झड़प का मामला अभी शांत होता नहीं दिख रहा है (फोटो क्रेडिट- PTI)

तीस हजारी कोर्ट (Tis Hazari Court) परिसर में हुई झड़प पर वकीलों ने कहा कि वे किसी भी प्रकार के न्यायिक कार्य में हिस्सा नहीं लेंगे और सिर्फ जूनियर वकील (Junior Advocates) विभिन्न मुद्दों पर तारीख लेने के लिये अदालत (Court) में पेश होंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 3, 2019, 10:58 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली उच्च न्यायालय (Delhi High Court) और सभी जिला अदालतों के वकीलों ने तीस हजारी अदालत (Tis Hazari Court) परिसर में शनिवार को वकीलों (Advocates) और पुलिस (Police) के बीच हुयी झड़प को लेकर सोमवार को काम नहीं करने का फैसला किया है.

वकीलों ने कहा कि वे किसी भी प्रकार के न्यायिक कार्य में हिस्सा नहीं लेंगे और सिर्फ जूनियर वकील (Junior Advocates) विभिन्न मुद्दों पर तारीख लेने के लिये अदालत में पेश होंगे.

'किसी को नहीं करेंगे मजबूर, सिर्फ सदस्यों से अनुरोध किया'
दिल्ली उच्च न्यायालय बार संघ (Delhi High Court Bar Association) के अध्यक्ष मोहित माथुर ने कहा कि उन्होंने विरोध दर्ज कराने के लिये सभी सदस्यों से सोमवार को काम नहीं करने का अनुरोध किया है. उन्होंने कहा, "जूनियर वकील तारीख लेने के लिए अदालत में मौजूद रहेंगे. हम किसी को मजबूर नहीं कर रहे हैं, हमने सदस्यों से सिर्फ अनुरोध किया है."

अधिकारियों और चश्मदीदों के अनुसार शनिवार दोपहर तीस हजारी अदालत परिसर में वकीलों और पुलिस के बीच झड़प में 20 पुलिसकर्मी तथा कई वकील घायल हो गये जबकि 17 वाहनों में तोड़फोड़ की गयी.

इससे पहले हाई कोर्ट ने खुद लिया था संज्ञान
इससे पहले दिल्ली (Delhi) के तीस हजारी कोर्ट (Tis Hazari Court) परिसर में पुलिस और वकीलों (Police-Lawyers) के बीच मारपीट मामले में हाईकोर्ट काफी सख्त होता दिखाई दिया था. मामले का संज्ञान खुद मुख्य न्यायाधीश ने लिया. फिर केंद्र, दिल्ली सरकार, बार काउंसिल ऑफ इंडिया और दिल्ली की निचली अदालतों के बार काउंसिल को नोटिस जारी कर दिया गया.
Loading...

लेकिन दूसरी तरफ कोर्ट का नरम रुख भी देखने को मिला. कोर्ट ने सभी पक्षों से मिलजुलकर मामले को खत्म करने को कहा. कोर्ट ने कहा कि हम चाहते हैं कि सभी पक्ष मिल कर मामला खत्म करें. दिल्ली हाईकोर्ट (High Court) के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस डीएन पाटिल ने इस संबंध में दिल्ली पुलिस कमिश्नर (Delhi Police Commissioner) अमूल्य पटनायक से भी मुलाकात की.

यह भी पढ़ें: तीस हजारी कोर्ट झड़प मामले की जांच करेंगे हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 3, 2019, 10:54 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...