• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • Karnataka New CM: जानें कौन हैं बसवराज बोम्मई जो होंगे कर्नाटक के अगले मुख्यमंत्री

Karnataka New CM: जानें कौन हैं बसवराज बोम्मई जो होंगे कर्नाटक के अगले मुख्यमंत्री

बसवराज बोम्मई ने जनता दल पार्टी से अपना राजनीतिक सफर शुरू किया था (File Pic)

बसवराज बोम्मई ने जनता दल पार्टी से अपना राजनीतिक सफर शुरू किया था (File Pic)

बसवराज बोम्मई (Basavaraj Bommai) ने मैकेनिकल इंजीनियरिंग में स्नातक की पढ़ाई पूरी की और इसके बाद कुछ दिनों तक टाटा समूह में नौकरी भी की. वह दो बार एमएलसी भी रहे. वे 2008 में बीजेपी में शामिल हुए थे इसके बाद से वे लगातार अपने बेहतरीन कामों के चलते पार्टी में ऊंचे पद पाते रहे.

  • Share this:
    नई दिल्ली: बीएस येडियुरप्पा के इस्तीफे के बाद लगातार इस बात की चर्चा चल रही थी कि आखिर कौन कर्नाटक (Karnataka) का अगला मुख्यमंत्री होगा. कर्नाटक से लेकर दिल्ली तक कई नामों की चर्चा थी लेकिन मंगलवार को केंद्रीय पर्यवेक्षक धर्मेंद्र प्रधान ने बसवराज बोम्मई (Basavaraj Bommai) के नाम का ऐलान करके अटकलों को खत्म कर दिया. अब बसवराज बोम्मई ही कर्नाटक के अगले सीएम होंगे. बोम्मई बुधवार को ही पद और गोपनीयता की शपथ ले सकते हैं. अगले सीएम के तौर बोम्मई के नाम का सुझाव येडियुरप्पा ने ही दिया और सरकार के बाकी मंत्रियों और विधायकों ने भी इसका समर्थन किया था.

    बता दें कि बसवराज बोम्मई का जन्म 28 जनवरी 1960 को हुआ था और वह कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री एस. आर. बोम्मई के पुत्र हैं. बोम्मई सदारा लिंगायत समुदाय से संबंध रखते हैं. बीएस येडियुरप्पा के इस्तीफे के बाद बहुत ज्यादा उम्मीद इस बात की थी कि अगला सीएम लिंगायत समुदाय से ही हो. बसवराज बोम्मई ने जनता दल पार्टी से अपना राजनीतिक सफर शुरू किया था और वह येडियुरप्पा सरकार में गृह मंत्री भी रहे हैं.

    2008 में बीजेपी में हुए शामिल
    बसवराज बोम्मई ने मैकेनिकल इंजीनियरिंग में स्नातक की पढ़ाई पूरी की और इसके बाद कुछ दिनों तक टाटा समूह में नौकरी भी की. वह दो बार एमएलसी भी रहे. वे 2008 में बीजेपी में शामिल हुए थे इसके बाद से वे लगातार अपने बेहतरीन कामों के चलते पार्टी में ऊंचे पद पाते रहे. बोम्मई, वर्तमान में कर्नाटक के गृह मामलों, कानून, संसदीय मामलों के मंत्री हैं.

    पाइप सिंचाई परियोजना का मिला श्रेय
    वह 1998 में और 2004 में धारवाड़ निवार्चन क्षेत्र से कर्नाटक विधानपरिषद के सदस्य चुने गए इसके बाद उन्होंने जनता दल को छोड़कर 2008 में भाजपा का दामन थाम लिया. इसी वर्ष वह कर्नाटक चुनाव में कावेरी जिले से चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंच गए. बोम्मई को कर्नाटक के हावेरी जिले के शिगगांव में भारत की पहली 100% पाइप सिंचाई परियोजना को लागू करने का श्रेय भी दिया जाता है.

    आपको बता दें कि अब तक कर्नाटक के सीएम के तौर पर शपथ लेने वाले 22 नेताओं में से सिर्फ तीन नेता ही अपना कार्यकाल पूरा कर सके हैं. पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येडियुरप्पा चार बार मुख्यमंत्री बने लेकिन एक बार भी अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर सके.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज