केरल घूमना चाहते हैं तो हो जाइए तैयार, 1 नवंबर से खुलेंगे सभी पर्यटन स्थल

एक नवंबर को केरल दिवस के अवसर पर तटीय पर्यटन केंद्रों को पुनः खोला जाएगा.
एक नवंबर को केरल दिवस के अवसर पर तटीय पर्यटन केंद्रों को पुनः खोला जाएगा.

Kerala beaches: अनलॉक प्रक्रिया के तहत राज्य सरकार ने पर्यटन केंद्रों को दो चरणों में खोलने का निर्णय लिया. पर्यटन विभाग के सूत्रों ने यहां बताया कि पहले चरण में 12 अक्टूबर से हिल स्टेशन, एडवेंचर रिजॉर्ट और हाउसबोट समेत बैकवाटर पर्यटन केंद्रों को खोला गया

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 31, 2020, 4:41 PM IST
  • Share this:
तिरुवनंतपुरम. कोविड-19 महामारी (Covid-19 Epidemic) के कारण महीनों तक बंद रहने के बाद केरल (Kerala) के मनोरम समुद्री तट रविवार से पर्यटकों के लिए फिर से खुलने को तैयार हैं. महामारी फैलने के बाद से राज्य में पर्यटन क्षेत्र की स्थिति पर विपरीत प्रभाव पड़ा है.

अनलॉक प्रक्रिया के तहत राज्य सरकार ने पर्यटन केंद्रों को दो चरणों में खोलने का निर्णय लिया. पर्यटन विभाग के सूत्रों ने यहां बताया कि पहले चरण में 12 अक्टूबर से हिल स्टेशन, एडवेंचर रिजॉर्ट और हाउसबोट समेत बैकवाटर पर्यटन केंद्रों को खोला गया, जहां कोविड-19 के नियमों का सख्ती से पालन करना होगा.

दूसरे चरण में खोले जाएंगे तटीय केंद्र
इसके बाद दूसरे चरण के तहत एक नवंबर को केरल दिवस के अवसर पर तटीय पर्यटन केंद्रों को पुनः खोला जाएगा. उन्होंने कहा कि समुद्री तटों को पुनः खोलने और 26 नई पर्यटन परियोजनाओं की शुरुआत होने से इस क्षेत्र को पुनर्जीवन मिलने की उम्मीद है.
केरल में कहां घूमे...



केरल में एलेप्पी, वायनाड, कोचीन, कुमारकोम, कोल्लम, वाजीमोन, कोझीकोड, कुमारकोम, थेक्कडी, अष्टसुडी, बेकल गुरुवायुर, इडुक्क, आई कन्नूर, कासरगोड बैकवेटर्स केवेटर्स केवर्स मारारी मुनरो द्वीप नेल्लम्पैथी पलक्कड़ पोनमुडी पूवर तिरुवनंतपुरम त्रिशूर वर्कला जैसे कई क्षेत्रों में घूमा जा सकता है.

ऐसा कहा जा रहा है कि राज्य में दोबारा से पर्यटन स्थल खुलने से स्थानीय लोगों और दुकानदारों को लाभ होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज