आयकर विभाग ने लिया बड़ा फैसला, जब्त होंगे रतुल पुरी के बेनामी शेयर

आयकर विभाग ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भान्जे रतुल पुरी के 254 करोड़ रुपये मूल्य के ‘बेनामी शेयर’ जब्त किए हैं. उन्हें यह शेयर एचईपीसीएल नामक कंपनी से मिले है.

News18Hindi
Updated: July 30, 2019, 3:30 PM IST
आयकर विभाग ने लिया बड़ा फैसला, जब्त होंगे रतुल पुरी के बेनामी शेयर
रतुल पुरी के बेनामी शेयर होंगे जब्त!
News18Hindi
Updated: July 30, 2019, 3:30 PM IST
आयकर विभाग ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भान्जे रतुल पुरी के 254 करोड़ रुपये मूल्य के ‘बेनामी शेयर’ जब्त किए हैं. उन्हें यह शेयर एचईपीसीएल नामक कंपनी से मिले है. एचईपीसीएल नामक कंपनी के नाम पर सौर पैनल आयात करने के लिए अधिक चालान बनाए और उसके जरिए 254 करोड़ रुपये कमाए.  यह कंपनी दुबई स्थित एक ऑपरेटर की शेल कंपनी है. यह ऑपरेटर अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी चॉपर घोटाले में भी आरोपी है.

आयकर विभाग ने बताया कि 254 करोड़ का निवेश अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी समूह की एक अन्य कंपनी एचईपीसीएल द्वारा सौर पैनलों के आयात का अधिक बिल दिखाकर किया गया. इसके लिए दुबई के राजीव सक्सेना की एक कागजी कंपनी की मदद ली गयी थी. सक्सेना अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाले में पहले से आरोपी है.

यह भी पढ़ें: गुम होने से पहले CCD के मालिक ने लिखा- कर्ज के दबाव में हूं

हिंदुस्तान पावर प्रोजेक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड के अध्यक्ष पुरी ने इस मामलें में अदालत से अग्रिम जमानत मांगी थी. अदालत ने शनिवार को उन्हें 29 जुलाई तक के लिए अंतरिम संरक्षण दिया था. पुरी की 29 अगस्त तक गिरफ्तारी पर रोक लगी हुई थी. पुरी कमलनाथ की बहन नीता पुरी के बेटे हैं, उनके पिता दीपक पुरी ऑप्टिकल स्टोरेज मोजरवेयर के सीएमडी हैं.

वीवीआईपी के लिए 3600 करोड़ रुपए में अगस्ता हेलिकॉप्टर का सौदा हुआ था. बाद में इसे भ्रष्टाचार और रिश्वत के आरोपों के चलते रद्द कर दिया गया था. ईडी और सीबीआई इस मामले की जांच कर रही हैं. प्रवर्तन निदेशालय घोटाला मामले में सक्सेना को गिरफ्तार कर चुका है. जबकि रतुल पुरी से मामले में पूछताछ चल रही है.

यह भी पढ़ें: 

अब ये कंपनी बड़ी संख्या में निकाल रही है लोगों को नौकरी से
Loading...

कैफे कॉफी डे के मालिक लापता, निवेशकों के 813 करोड़ डूबे

 
First published: July 30, 2019, 3:30 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...