Assembly Banner 2021

Bengal Assembly Election: ममता बनर्जी के किले को ढहाने में BJP के मददगार होंगे मौलाना अब्बास सिद्दीकी!

मंगलवार को जिन सीटों पर वोटिंग हो रही है वो दक्षिण 24-परगना, हुगली और हावड़ा जिलों में हैं. यहां काफी बड़ी संख्या में मुस्लिम वोटर हैं.

मंगलवार को जिन सीटों पर वोटिंग हो रही है वो दक्षिण 24-परगना, हुगली और हावड़ा जिलों में हैं. यहां काफी बड़ी संख्या में मुस्लिम वोटर हैं.

Bengal Assembly Election 2021: साल 2016 के विधानसभा चुनाव में टीएमसी को यहां 31 में 29 सीटों पर जीत मिली थी. साल 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान भी यहां के 85 फीसदी विधानसभा क्षेत्रों में ममता बनर्जी की पार्टी को बढ़त हासिल थी

  • Share this:
(अमन शर्मा)

कोलकाता. पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव (Bengal Assembly Election 2021) में आज तीसरे चरण के तहत 31 सीटों के लिए वोटिंग हो रही है. आज जिन सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं उसे ममता बनर्जी की पार्टी त़ृणमूल कांग्रेस का गढ़ कहा जाता है. बीजेपी इस इलाके में जीत दर्ज करने के लिए बेताब है. बीजेपी की उम्मीदें यहां उनके स्टार उम्मीदवार और इंडियन सेक्युलर फ्रंट (ISF) पर टिकी हैं. ISF फुरफुरा शरीफ के पीरजादा अब्सास सिद्दीकी की पार्टी है. बीजेपी को उम्मीद है कि सिद्दीकी ही यहां ममता बनर्जी का खेल खराब कर सकते हैं.

साल 2016 के विधानसभा चुनाव में टीएमसी को यहां 31 में 29 सीटों पर जीत मिली थी. साल 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान भी यहां के 85 फीसदी विधानसभा क्षेत्रों में ममता बनर्जी की पार्टी को बढ़त हासिल थी. बता दें कि साल 2019 में बीजेपी को 42 में से 18 सीटों पर जीत मिली थी.



Youtube Video

ISF से बढ़ सकती हैं ममता की मुश्किलें
मंगलवार को जिन सीटों पर वोटिंग हो रही है वो दक्षिण 24-परगना, हुगली और हावड़ा जिलों में हैं. यहां काफी बड़ी संख्या में मुस्लिम वोटर हैं. इसका फायदा हमेशा ही ममता बनर्जी को मिलता रहा है. लेकिन इस बार अब्बास सिद्दीकी की पार्टी ISF ने ममता की नींद उड़ा दी है. ISF यहां 31 में से आठ सीटों पर चुनाव लड़ रही है.



ये भी पढ़ें:- BJP के स्थापना दिवस पर बोले पीएम मोदी- लोगों में भ्रम फैलाकर भड़का रहा विपक्ष




क्यों डर रही हैं ममता?

आगे पढ़ें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज