Assembly Banner 2021

बंगाल चुनाव से पहले एक्‍टर हिरण्मय, यश और श्रावंती समेत 79 BJP नेताओं को VIP सुरक्षा, देखें पूरी लिस्‍ट

अभिनेता यश दासगुप्ता भाजपा में शामिल हुए.

अभिनेता यश दासगुप्ता भाजपा में शामिल हुए.

West Bengal Assembly election: लगभग दो सप्‍ताह पहले ही टीएमसी छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए जितेंद्र तिवारी, हिरण्मय चट्टोपाध्याय, एक्‍टर यश दासगुप्ता और अदाकारा श्रावंती चटर्जी को सीआईएसएफ (CISF) ने वाई (Y) श्रेणी सुरक्षा दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 15, 2021, 6:32 PM IST
  • Share this:
कोलकाता. पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव (West Bengal Assembly Election) को लेकर सियासी घमासान जारी है. इस बीच बंगाल में राजनीतिक हिंसा की घटनाओं को देखते हुए नेताओं की सुरक्षा के इंतजाम किए जा रहे हैं. पिछले दिनों गृह मंत्रालय को मिले इनपुट में दावा किया गया था कि बंगाल में बीजेपी नेताओं को खतरा है. जिसके बाद केंद्र सरकार ने बीजेपी के 79 नेताओं को वीआईपी सुरक्षा उपलब्‍ध कराई है. इसमें तृणमूल कांग्रेस समेत अन्‍य पार्टी छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए नेता और फिल्‍म जगत के कुछ चेहरे भी शामिल हैं.

बता दें कि लगभग दो सप्‍ताह पहले ही टीएमसी छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए जितेंद्र तिवारी, हिरण्मय चट्टोपाध्याय, एक्‍टर यश दासगुप्ता और अदाकारा श्रावंती चटर्जी को सीआईएसएफ (CISF) ने वाई (Y) श्रेणी सुरक्षा दी है. जबकि अभिनेता से नेता बने पायल सरकार को एक्‍स (X) श्रेणी सुरक्षा दी गई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंच पर बीजेपी का दामन थामने वाले फिल्‍म स्‍टार मिथुन चकवर्ती और सांसद निशिकांत दुबे को वाई प्‍लस (Y +) कैटेगरी की सुरक्षा प्रदान की गई है.

नेताओं पर सीआईएसएफ का सुरक्षा घेरा
बीजेपी नेताओं की सुरक्षा को लेकर अधिकारियों ने कहा कि यह सुरक्षा कवच केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) द्वारा प्रदान किया जा रहा है. सीआईएएफ के पास ऐसे सुरक्षा कवच के लिए विशेष विंग है, जिसे विशेष सुरक्षा समूह (SSG) कहा जाता है.
ये भी पढ़ें: शाह का ममता पर वार, आपके पैर के दर्द को लेकर चिंतित, क्या आपको BJP कार्यकर्ताओं की हत्या का दर्द है?



बता दें क‍ि पिछले रविवार को ही 70 वर्षीय अभिनेता मिथुन चकवर्ती कोलकाता के बिग्रेड परेड ग्राउंड में प्रधानमंत्री की मेगा रैली में बीजेपी में शामिल हुए थे. एक वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि मिथुन को बंगाल में चुनाव प्रचार के दौरान Y + सुरक्षा कवच प्रदान किया जाएगा. सशस्‍त्र सीआईएसएफ कमांडो उनकी सुरक्षा में तैनात रहेंगे.

इन नेताओं की दी गई वीआईपी सुरक्षा
वीआईपी सुरक्षा कवर प्राप्‍त करने वाले नेताओं में तमलुक के सीपीएम विधायक अशोक डिंडा, कांति उत्तर सीट से टीएमसी विधायक बंसरी मैत्री, पुरुलिया से कांग्रेस विधायक सुदीप मुखर्जी, गाज़ोल से टीएमसी विधायक दीपाली विश्वास, बल्ली (हावड़ा) से टीएमसी विधायक और पूर्व क्रिकेट प्रशासक जगमोहन डालमिया की बेटी बैशाली डामलिया, मोंटेश्वर से टीएमसी विधायक सैकत पांजा, हल्दिया से सीपीएम विधायक तापसी मंडल, कलाना से टीएमसी विधायक विश्वजीत कुंडू और बैरकपुर विधानसभा सीट से टीएमसी विधायक शीलभद्र दत्ता शामिल हैं.

ये भी पढ़ें: TMC ने पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा को बनाया उपाध्यक्ष, राष्ट्रीय कार्यसमिति में भी दी जगह

बता दें कि ये सभी विधायक हाल ही में ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी), माकपा या कांग्रेस से इस्‍तीफा देकर बीजेपी में शामिल हुए हैं.

बीजेपी के इन नेताओं को भी सुरक्षा कवच
सूत्रों के अनुसार, भाजपा के लोकसभा सांसद कुंअर हेम्ब्रम (झाड़ग्राम), सुभाष सरकार (बांकुरा) और जगन्नाथ सरकार (राणाघाट) और पार्टी नेता और राज्य समिति के सदस्य कृष्णेंदु मुखर्जी को भी केंद्रीय सुरक्षा कवच प्रदान किया गया है.

सूत्रों ने कहा कि सांसदों और कृष्‍णेंदु मुखर्जी पर खतरे की आशंका जताई गई थी. जिसके बाद वीआईपी कवर के तहत उन्‍हें सुरक्षा प्रदान की गई. बता दें कि एक्‍स श्रेणी में सबसे कम दो से तीन सशस्‍त्र कमांडो सुरक्षा प्रदान करते हैं. जबकि वाई श्रेणी की सुरक्षा कवच में चार से पांच सुरक्षाकर्मियों को शामिल करने का प्रावधान है. जबकि जेड और जेड प्‍लस उच्‍च श्रेणी की केंद्रीय वीआईपी सुरक्षा कवच है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज