Bengal Elections 2021 : ममता बनर्जी ने जीत के बाद कार्यकर्ताओं से की अपील, विजय जुलूस ना निकालें

ममता बनर्जी के नेतृत्व में लगातार तीसरी बार पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस की सरकार बनती नजर आ रही है.

ममता बनर्जी के नेतृत्व में लगातार तीसरी बार पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस की सरकार बनती नजर आ रही है.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने नंदीग्राम सीट पर जीत दर्ज की. उन्होंने चुनाव में बीजेपी के शुभेंदु अधिकारी को करीब 1200 वोटों से हराया. इसके बाद उन्होंने तृणमूल कांग्रेस के पार्टी कार्यकर्ताओं और समर्थकों से अपील की कि वे किसी तरह का विजय जुलूस ना निकालें और अपने-अपने घरों को लौट जाएं.

  • Share this:
कोलकाता. पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनावों में जीत की हैट्रिक लगाने वालीं ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने राज्य की जनता को धन्यवाद दिया है. उन्होंने रविवार को नंदीग्राम सीट से जीत दर्ज करने के बाद तृणमूल क्रांग्रेस के कार्यकर्ताओं और समर्थकों का शुक्रिया अदा किया. ममता ने भारतीय जनता पार्टी के शुभेंदु अधिकारी को करीब 1200 वोटों से हराया. इसके बाद उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे विजय जुलूस ना निकालें. ममता ने साथ ही कहा कि समर्थक बिना किसी तरह का जश्न मनाए अपने-अपने घरों को लौट जाएं.

पश्चिम बंगाल में 8 चरणों में हुए विधानसभा चुनाव के परिणाम रविवार को आए जिसमें ममता बनर्जी की पार्टी एक बार फिर शानदार जीत दर्ज करते नजर आ रही है. ममता बनर्जी के नेतृ्त्व वाली टीएमसी पिछली बार से भी ज्यादा सीटें जीतते नजर आ रही है और उसे 200 से भी ज्यादा सीटों पर बढ़त है. चुनाव से ऐन पहले बीजेपी में शामिल हुए अधिकारी पहले ममता के करीबी नेताओं में शामिल थे लेकिन नंदीग्राम में दोनों ही आमने-सामने आ गए. एक वक्त ममता पिछड़ते हुए नजर आ रही थीं लेकिन अंतिम राउंड की मतगणना तक उन्होंने बढ़त बना ली और फिर 1200 से ज्यादा वोटों के अंतर से सीट जीती. इसके बाद ममता अपने भतीजे अभिषेक बनर्जी के साथ कार्यकर्ताओं के सामने आईं और उन्हें धन्यवाद दिया.

Youtube Video


इसे भी पढ़ें, ममता बनर्जी ने साबित किया- जिद के आगे दीदी हैं, लगातार तीसरी बार बनेंगी सीएम
ममता ने कहा, 'मैं सभी का शुक्रिया अदा करना चाहती हूं और सभी से विनती करती हूं कि वे किसी तरह का विजय जुलूस ना निकालें. मैं सभी से अपने-अपने घर वापस जाने की अपील करती हूं.' कोरोना वायरस के कारण पूरे देश में हाल खराब हैं और ऐसे में भीड़-भाड़ के चलते इस वायरस के फैसने की आशंका रहती है. कई राज्यों ने तो लॉकडाउन भी लगा रहा है और इसी को देखते हुए ममता ने विजय जुलूस नहीं निकालने की बात कही.

इसे भी देखें, TMC की जीत के साथ बंगाल का सियासी अध्याय खत्म, ये रहे BJP की हार के बड़े कारण

पश्चिम बंगाल में चुनाव से पहले तक बीजेपी और तृणमूल कांग्रेस के बीच मुकाबला बराबर का लग रहा था, बाद में परिणाम ममता बनर्जी के पक्ष में ही आया. पिछले दो कार्यकाल पूरा करने के बाद पश्चिम बंगाल की जनता ने ममता 'दीदी' पर तीसरी बार भरोसा जताया है. उनकी जीत के बहाने कुछ अन्य दलों के नेताओं ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा है जिसमें अखिलेश यादव, महबूबा मुफ्ती और शिवसेना के संजय राउत शामिल हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज