अपना शहर चुनें

States

बंगाल चुनाव: एक्शन मोड में भाजपा, गठित की 117 लोगों की टीम; इधर TMC में फिर बगावत!

गृहमंत्री अमित शाह और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की निगरानी में काम करेंगी टीमें. (फोटो: News18 English)
गृहमंत्री अमित शाह और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की निगरानी में काम करेंगी टीमें. (फोटो: News18 English)

West Bengal Election: बीजेपी ने बूथ स्तर तक की तैयारियों के लिए पहली बार केंद्र से पांच नेताओं को भेजा है. पार्टी ने टीवी और मीडिया में दिए जाने वाले इंटरव्यू के लिए अलग से टीम गठित की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 4, 2020, 3:30 PM IST
  • Share this:
कोलकाता. भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने आगामी विधानसभा चुनाव (Assembly Election) की तैयारियां तेज कर दी हैं. पश्चिम बंगाल में बीजेपी ने 117 सदसीय टीम तैयार की है, जो चुनाव से संबंधित चीजों पर नजर रखेगी. खास बात है कि यह टीम सीधा गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) की निगरानी में काम करेगी. बंगाल में अप्रैल-मई 2021 में चुनाव होने हैं. बता दें कि बीजेपी ने साल 2019 में हुए लोकसभा चुनाव में 40 फीसदी वोट शेयर हासिल किया था. वहीं, 42 में से 18 सीटें अपने नाम की थीं.

दिल्ली और दूसरे राज्यों से पहुंच रहे हैं 294 नेता
बंगाल में पहली बार बीजेपी ने इतनी बड़ी संख्या में चुनावी कार्यकर्ताओं की टीम तैयार की है. बीजेपी की 117 सदसीय टीमों को 31 इकाइयों में बांटा जाएगा. ये टीमें पार्टी के अभियान, तालमेल, डेटा और बूथ समेत सभी चुनावी तैयारियों पर निगरानी करेंगी. इस टीम के कप्तान बने अमित शाह और जेपी नड्डा हर महीने कुछ दिनों के लिए राज्य का दौरा करेंगे. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बीजेपी नेताओं ने बताया है कि स्थानीय कार्यकर्ताओं के साथ काम करने के लिए दिल्ली और दूसरे राज्यों से 294 नेता पहुंच रहे हैं.

यह भी पढ़ें: BJP नेता ने की शर्मनाक हरकत, ममता बनर्जी के लिए किया इस शब्‍द का इस्‍तेमाल
बीजेपी ने बूथ स्तर तक की तैयारियों के लिए पहली बार केंद्र से पांच नेताओं को भेजा है. पार्टी ने टीवी और मीडिया में दिए जाने वाले इंटरव्यू के लिए अलग से टीम गठित की है. बीजेपी नेता ने बताया, 'कुछ इकाइयों में सांसद और विधायक समेत राज्य के नेता रहेंगे और पार्टी के वरिष्ठ नेता इनका नेतृत्व करेंगे. जबकि, कुछ टुकड़ियों में केवल एक राज्य स्तर का नेता होगा.'



कम नहीं हो रही हैं तृणमूल पार्टी की मुश्किलें
हाल ही में टीएमसी के दिग्गज नेता शुभेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) ने कहा था कि उनका पार्टी के साथ काम करना नामुमकिन है. उन्होंने मंत्री पद से इस्तीफा देने की भी घोषणा कर दी थी. अभी इस झटके से उबर रही टीएमसी के सामने एक और नेता को मनाने की जिम्मेदारी आ गई है. नॉर्थ 24 परगना जिलके के बैरकपुर से विधायक शीलभद्र दत्ता (Silbhadra Dutta) ने भी पार्टी छोड़ने के संकेत दे दिए हैं. उन्होंने बंगाली में फेसबुक पर लिखा 'बोंधु देखा होबे' इसका मतलब होता है 'मेरे दोस्त हम मिलेंगे.' खास बात है कि दत्ता ने यह पोस्ट भगवा बैकग्राउंड पर लिखी थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज