सोशल साइट पर अश्लील फोटो डालने के आरोप में बेंगलुरु से BBA और BSC की छात्राएं गिरफ्तार

बेंगलुरु से बीबीए और बीसीए कर रहीं छात्राएं गिरफ्तार (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)
बेंगलुरु से बीबीए और बीसीए कर रहीं छात्राएं गिरफ्तार (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

ग्वालटोली थाना पुलिस ने बेंगलुरु (Bengaluru) की छात्रा मोनाजा रेफाई और उम्मेहानी उर्फ नाजिया को एसीएमएम द्वितीय की कोर्ट में पेश किया. जहां कोर्ट ने छात्राओं (Students) की जमानत अर्जी (Bail Application) निरस्‍त कर दी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 24, 2020, 7:09 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. इंटरनेशन लेदर कंपनी के परिवार के सदस्‍यों की अश्‍लील फोटो बनाकर उसे इंटरनेट (Internet) पर डालने के मामले में बेंगलुरु (Bengaluru) की दो छात्राओं की जमानत अर्जी को कोर्ट ने निरस्‍त कर दी है. उन छात्राओं पर इंटरनेशन लेदर कंपनी के परिवार के सदस्‍यों की फोटो एडिट करके उसे अश्‍लील बनाकर सोशल मीडिया पर डालने का आरोप है. इस मामले में कंपनी के प्रबंधक ने ग्‍वालटोली थाने में शिकायत दर्ज कराई थी. दोनों छात्राओं को पेशी के लिए हवाई जहाज से लाया गया था.

ग्वालटोली थाना पुलिस ने बेंगलुरु की छात्रा मोनाजा रेफाई और उम्मेहानी उर्फ नाजिया को एसीएमएम द्वितीय की कोर्ट में पेश किया. जहां कोर्ट ने छात्राओं की जमानत अर्जी निरस्‍त कर दी. कोर्ट ने मामले की गंभीरता को समझते हुए दोनों छात्राओं को न्‍यायिक हिरासत के तहत जेल भेज दिया है. मामले को देख रहे वरिष्‍ठ अधिवक्‍ता ने कहा कि मोनाजा बीबीए की छात्रा है और आर्किटेक्ट का भी काम करती है. जबकि उम्‍मेहानी बीएससी की छात्रा है. दोनों छात्राओं ने एक इंटरनेशन लेदर कंपनी के परिवार के सदस्‍यों के चेहरे लगाकर अश्‍लील फोटो डाली थी. इस परिवार को ब्‍लैकमेल और बदनाम करने की नियत से उन्‍होंने ऐसा किया था. दोनों आरोपित छात्राएं बेंगलुरु जेल में थीं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज