• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • 8 साल में 5 मर्डर: अंतिम संस्कार में अपनी पसंद का गाना बजाने के लिए शुरू हुआ था झगड़ा

8 साल में 5 मर्डर: अंतिम संस्कार में अपनी पसंद का गाना बजाने के लिए शुरू हुआ था झगड़ा

पुलिस के मुताबिक ये दो परिवारों का झगड़ा था और ये पिछले कुछ सालों में गैंग वॉर में तब्दील हो गया था. (सांकेतिक तस्वीर)

पुलिस के मुताबिक ये दो परिवारों का झगड़ा था और ये पिछले कुछ सालों में गैंग वॉर में तब्दील हो गया था. (सांकेतिक तस्वीर)

Bengaluru Stadium Murder: इस गैंग वॉर में एक तरफ एक पूर्व स्थानीय अपराधी डेनियल राज का परिवार और सहयोगी है, जो फरवरी 2013 में पूर्वी बेंगलुरु में के जी हल्ली की झुग्गियों में मारा गया था. दूसरी तरफ विनोद राज से जुड़ा एक ग्रुप है, जो नवंबर 2014 में राज की हत्या को लेकर मारा गया एक स्थानीय अपराधी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    बेंगलुरु. पिछले हफ्ते 12 सितंबर को बेंगलुरु के एक स्टेडियम में अरविंद उर्फ ली नाम के एक शख्स की हत्या ( Bengaluru Stadium Murder) कर दी गई थी. 27 साल का ये शख्स एक लोकल फुटबॉल टीम चलाता था. पुलिस के मुताबिक अरविंद ने भाग कर स्टेडियम के एक रेफरी रूम में खुद को बंद कर लिया. लेकिन 5-6 लोग इस रेफरी रूम के अंदर घुस गए और उनकी हत्या कर दी. पुलिस के मुताबिक ये दो परिवारों का झगड़ा था और ये पिछले कुछ सालों में गैंग वॉर में तब्दील हो गया था. हैरानी की बात ये है कि साल 2013 में ये झगड़ा अंतिम संस्कार में अपनी पसंद का गाना बजाने को लेकर शुरू हुआ था. पिछले 8 सालों में अब तक 5 मर्डर हो चुके हैं.

    इस गैंगवॉर में एक तरफ एक पूर्व स्थानीय अपराधी डेनियल राज का परिवार और सहयोगी है, जो फरवरी 2013 में पूर्वी बेंगलुरु में के जी हल्ली की झुग्गियों में मारा गया था. दूसरी तरफ विनोद राज से जुड़ा एक ग्रुप है, जो नवंबर 2014 में राज की हत्या को लेकर मारा गया एक स्थानीय अपराधी है. अरविंद की हत्या के मुख्य आरोपियों में से एक डेनियल राज का बेटा स्टालिन डेनियल है. अरविंद खुद विनोद राज के गिरोह से जुड़ा था.

    ये भी पढ़ें:- पंजाब: सुनील जाखड़ के नाम पर एकमत नहीं सारे नेता, CM चुनने के लिए आज फिर बुलाई गई विधायक दल की बैठक

    क्या कहा पुलिस ने
    बेंगलुरु पूर्वी डिवीजन के एक पुलिस अधिकारी ने अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस से कहा, ‘झगड़े की उत्पत्ति क्षेत्र के वर्चस्व, ड्रग्स या किसी अन्य आपराधिक गतिविधि से नहीं है. ये झगड़ा 2013 में एक अंतिम संस्कार में बजाए जाने वाले गाने के चयन को लेकर हुआ. ये हत्याएं छोटी-छोटी बातों को लेकर हुई हैं. ‘

    ऐसे शुरू हुआ झगड़ा
    पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार 2 फरवरी, 2013 को सबसे पहले 40 साल के डैनियल की मौत हो गई. ये घटना उस वक्त हुई जब ये सब विनोद राज की पत्नी की दादी की मौत के अंतिम संस्कार के दौरान पहुंचे थे. कहा जा रहा है कि अंतिम संस्कार के दौरान डैनियल ने शराब पी रखी थी. दरअसल डैनियल के एक साथी अरुण अंतिम संस्कार में गाना बजाने को लेकर हंगामा किया. ये दोनों चाहते थे की उनकी पसंद का गाना बजे. उन्होंने विनोद की मां और पत्नी के साथ कथित तौर पर मारपीट की.

    अब तक 5 हत्या
    उसी रात, विनोद और उसके भाई मारिया दिलीप उर्फ ​​बिज्जू सहित सहयोगियों के एक गिरोह ने कथित तौर पर डेनियल पर हमला किया और उसे मार डाला. पुलिस और अदालत के रिकॉर्ड के मुताबिक ये हमला उनकी पत्नी और बच्चे पर भी किया गया था. मामले में अभियोजन पक्ष की मुख्य गवाह विनोद के भाई मारिया दिलीप के मुकदमे के दौरान मुकर जाने के बाद डेनियल और उनके सहयोगियों के परिवार को 2015 में बरी कर दिया गया था. पुलिस सूत्रों का कहना है कि यह समझौता करने का एक संभावित प्रयास था. लेकिन अब एक बार फिर से अरविंद की हत्या के बाद गैंग वॉर शुरू हो गया है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज