बेंगलुरु हिंसा: आपत्तिजनक पोस्ट को लेकर कांग्रेस विधायक का भांजा गिरफ्तार, घर में हुई तोड़फोड़-आगजनी

बेंगलुरु हिंसा: आपत्तिजनक पोस्ट को लेकर कांग्रेस विधायक का भांजा गिरफ्तार, घर में हुई तोड़फोड़-आगजनी
पुलकेशी नगर विधानसभा सीट से कांग्रेस विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति

समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक, पुलकेशी नगर विधानसभा सीट से कांग्रेस विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति (Congress MLA Srinivas Murthy) के भांजे नवीन ने कथित तौर पर अपमानजनक पोस्ट शेयर किया था. इस पोस्ट के वायरल होने के बाद अल्पसंख्यक समुदाय के सदस्य एक जगह जमा हुए और कांग्रेस विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के घर पर पत्थर फेंके.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 12, 2020, 10:43 AM IST
  • Share this:
बेंगलुरु. कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु के कई इलाकों में मंगलवार देर रात एक आपत्तिजनक फेसबुक पोस्ट को लेकर भड़की  हिंसा (Bengaluru Violence) के बाद पुलिस ने कांग्रेस विधायक के भांजे को गिरफ्तार किया है. जानकारी के मुताबिक, कांग्रेस विधायक श्रीनिवास मूर्ति के भांजे ने कथित रूप से फेसबुक पर पैगंबर मोहम्मद (Prophet Muhammad) को लेकर भड़काऊ पोस्ट किया, जिसके वायरल होते ही आक्रोशित अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों ने विधायक के घर पर हमला बोल दिया. भीड़ ने विधायक के घर और गाड़ियों में पथराव के बाद आगजनी की. भीड़ ने पुलिस पर भी पथराव किया. हालात को काबू में काबू में करने के लिए पुलिस ने फायरिंग की, जिसमें 2 लोगों की मौत हो गई है. पुलिस ने विधायक के आरोपी भांजे को गिरफ्तार कर लिया है. उसके खिलाफ कई धाराओं में एफआईआर दर्ज की गई है.

मामला उत्तरी बेंगलुरु का है. समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक, पुलकेशी नगर विधानसभा सीट से कांग्रेस विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति (Congress MLA Srinivas Murthy) की बहन के बेटे नवीन ने कथित तौर पर अपमानजनक पोस्ट शेयर किया था. इस पोस्ट के वायरल होने के बाद अल्पसंख्यक समुदाय के सदस्य एक जगह जमा हुए और कांग्रेस विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के घर पर पत्थर फेंके. डीजे हल्ली और केजी हल्ली पुलिस स्टेशन पर भी पथराव किया गया. कई गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया गया. पुलिस पर पत्थरों और बोतलों से हमले किए गए.

बेंगलुरु में आपत्तिजनक पोस्ट को लेकर भड़की हिंसा, फायरिंग में 2 की मौत, 60 घायल



बेंगलुरु में धारा 144 लागू, 2 थानाक्षेत्र में कर्फ्यू
बेंगलुरु के पुलिस आयुक्त कमल पंत ने समाचार एजेंसी ANI को बताया है कि पुलिस की गोलीबारी में 3 लोगों की मौत हो गई है. हिंसा में अतिरिक्त पुलिस आयुक्त सहित 60 पुलिसकर्मी भी घायल हो गए हैं. बेंगलुरु में सीआरपीसी की धारा 144 लागू कर दी गई है. इस मामले में अबतक 110 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. हिंसा के बाद डीजे हल्ली और केजी हल्ली पुलिस थाना क्षेत्र में कर्फ्यू लगा दिया गया है. हालात अभी भी तनावपूर्ण बने हुए हैं.

विधायक ने की शांति की अपील
इस हिंसा के बाद विधायक मूर्ति ने एक वीडियो मैसेज जारी कर लोगों से संयम बरतने की अपील की. विधायक ने कहा, 'मेरी बहन के बेटे का एक फेसबुक पोस्ट वायरल हो गया है. मैंने वो पोस्ट नहीं देखा, लेकिन मुझे बताया गया है कि ये पोस्ट एक खास समुदाय से जुड़ा है और इससे उनकी भावनाएं आहत हुई हैं. मैंने पुलिस से कहा कि वो पोस्ट करने वाले मेरे भांजे को गिरफ्तार करें. मैं लोगों से अपील करता हूं कि कुछ उपद्रवियों की गलतियों के चलते हमें हिंसा में शामिल नहीं होना चाहिए. लड़ने-झगड़ने से कुछ हासिल नहीं होता. हम सभी भाई हैं. हम कानून के अनुसार दोषियों को सजा दिलाएंगे. हम भी आपके साथ हैं. मैं अपने दोस्तों से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं.'

आरोपी ने कहा-मेरा अकाउंट किया गया हैक
पुलिस ने विधायक के भांजे नवीन को गिरफ्तार कर लिया है. हालांकि, उसने फेसबुक पर कोई भी विवादित पोस्ट लिखने से साफ इनकार किया है. उसका कहना है कि उसका फेसबुक अकाउंट हैक किया गया और जो भी आपत्तिजनक बातें लिखी गईं, उससे उसका कोई संबंध नहीं है.

किसी को भी कानून अपने हाथ में लेने का हक नहीं: कर्नाटक के गृहमंत्री
वहीं, कर्नाटक के गृहमंत्री बासवराज बोमाई ने इस हिंसा पर कहा कि किसी को भी कानून को अपने हाथ में लेने का अधिकार नहीं है. उन्होंने लोगों से शांति बनाए रखने और हालात को सामान्य करने के लिए अतिरिक्त बलों की तैनाती के आदेश दे दिए हैं. सुरक्षा के लिहाज से विधायक मूर्ति को पुलिस स्टेशन में रखा गया है. उनके घर के बाहर भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज