कोरोनाः लॉकडाउन में गई नौकरी तो पति बन गया जिगोलो, पत्नी ने दी तलाक की अर्जी

चतुर्वेदी के अनुसार मां ने 4 मई 2019 को घटना की रिपोर्ट दर्ज कराई थी. (सांकेतिक फोटो)

चतुर्वेदी के अनुसार मां ने 4 मई 2019 को घटना की रिपोर्ट दर्ज कराई थी. (सांकेतिक फोटो)

Coronavirus: 27 वर्षीय व्यक्ति पहले बीपीओ में काम करता था, लेकिन लॉकडाउन में उसकी नौकरी चली गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 13, 2021, 12:17 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बेंगलुरु में 24 साल की एक महिला ने अपनी शादी के दो साल बाद पति से तलाक के लिए अर्जी दाखिल की है. तलाक की वजह ये है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के चलते लगे लॉकडाउन में 24 वर्षीय महिला के पति की नौकरी चली गई, जिसके बाद उसने कामर्शियल सेक्स वर्कर के रूप में काम करना शुरू कर दिया, लेकिन इस बात को अपनी पत्नी से छुपाए रखा. 27 वर्षीय व्यक्ति पहले बीपीओ में काम करता था, लेकिन लॉकडाउन में उसकी नौकरी चली गई. इसके बाद पैसा कमाने के लिए उसने मेल एस्कॉर्ट के रूप में काम करना शुरू कर दिया. बेंगलुरु पुलिस की वुमेन्स हेल्पलाइन ने दोनों को अपने मतभेदों को सुलझाने की सलाह दी, लेकिन युवा दंपति के बीच इस बारे में सहमति नहीं बन पाई और अब दोनों सहमति से एक दूसरे से अलग होने के लिए तलाक ले रहे हैं.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इस दंपति की मुलाकात 2017 में बीपीओ ऑफिस की कैंटीन में हुई थी और जल्द ही दोनों एक दूसरे को डेट करने लगे. दो साल बाद दोनों ने 2019 में शादी करने का फैसला लिया और शहर में एक घर भी किराए पर लिया. लेकिन, कोरोना के चलते लगे लॉकडाउन में पति की नौकरी चली गई और उसने रोजगार के मौके तलाशने शुरू कर दिए. कुछ महीनों के बाद महिला को लगा कि उसका पति उससे कुछ छुपा रहा है और ज्यादातर समय फोन और लैपटॉप पर लगा रहता है. इसके साथ ही उसने अलग-अलग जगहों पर जाना शुरू कर दिया था, लेकिन इस बारे में अपनी पत्नी से कभी डिटेल में बात नहीं करता.

Youtube Video


लंबे वक्त तक संदेह की स्थिति बने रहने के बाद महिला ने अपने पति के लैपटॉप का पासवर्ड पता करने के लिए अपने भाई की मदद ली. लैपटॉप खुल जाने के बाद महिला ने पाया कि कई सारी तस्वीरों में उसका पति अन्य महिलाओं के साथ संदिग्ध अवस्था मं है. हालांकि पकड़े जाने पर उसके पति ने इस बात से इनकार किया कि संदिग्ध तस्वीरों में अन्य महिलाओं के साथ वही है. लेकिन बाद में यह पता चल गया कि उसने मेल एस्कॉर्ट के रूप में काम करना शुरू कर दिया है और अपनी सेवाओं के लिए वह 3 हजार से 5 हजार रुपये तक लेता है और शहर में उसके कई सारे क्लाइंट्स हैं.
मामले का खुलासा होने के बाद महिला ने वुमेन्स हेल्पलाइन पर संपर्क साधा, जहां पति-पत्नी को कंसल्टेशन के लिए बुलाया गया. इस बातचीत में पति ने अपने नए प्रोफेशन को स्वीकार किया और कहा कि ये काम उसे पसंद आ रहा है. हालांकि उसने ये भी कहा कि वह अपनी बीवी से प्यार करता है और उससे अलग नहीं होना चाहता. साथ में यह भी वादा किया कि वह अब कामर्शियल सेक्स वर्कर के रूप में काम नहीं करेगा.



हालांकि महिला ने किसी भी तरह के समझौते से इनकार कर दिया और तलाक के लिए कोर्ट में अर्जी डाल दी. अब दोनों सहमति से एक दूसरे से अलग हो रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज