लाइव टीवी

मां की हत्या और भाई पर जानलेवा हमला करने के बाद दोस्त के साथ अंडमान भाग गई महिला

News18Hindi
Updated: February 5, 2020, 9:21 PM IST
मां की हत्या और भाई पर जानलेवा हमला करने के बाद दोस्त के साथ अंडमान भाग गई महिला
महिला और उसके दोस्त की फाइल फोटो

पुलिस के डिप्टी कमीश्नर (महादेवपुरा ज़ोन) एमएन अनुछेथ ने कहा चीजें अभी साफ नहीं हुई हैं. साफ कहा जाए तो पहली बार मैं ऐसा कोई केस देख रहा हूं जिसमें एक बेटी ने अपनी मां की हत्या की हो. इस केस में जो तथ्य सामने निकल कर आ रहे हैं वह हजम करना हमारे लिए भी मुश्किल है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 5, 2020, 9:21 PM IST
  • Share this:
बेंगलुरु. कर्नाटक (Karnataka) के बेंगलुरु (Bengaluru) में 33 साल की एक महिला इंजीरियर ने अपनी मां की कथित रूप से चाकू घोंपकर हत्या कर दी और भाई को चाकू मारकर गंभीर रूप से ज़ख्मी कर दिया. इसके बाद वह अपने दोस्तों के साथ अंडमान (Andaman) चली गई. यहां तक कि इस केस से जुड़ी ज्यादा जानकारी के लिए, पुलिस अधिकारियों के लिए मामले की ज्यादा जानकारी जुटाना मुश्किल हो रहा है.

पुलिस के डिप्टी कमीश्नर (महादेवपुरा ज़ोन) एमएन अनुछेथ ने कहा चीजें अभी साफ नहीं हुई हैं. साफ कहा जाए तो पहली बार मैं ऐसा कोई केस देख रहा हूं जिसमें एक बेटी ने अपनी मां की हत्या की हो. इस केस में जो तथ्य सामने निकल कर आ रहे हैं वह हजम करना हमारे लिए भी मुश्किल है.

बॉयफ्रेंड संग महिला गिरफ्तार
अनुछेथ की टीम पिछले कई दिन से इस केस की छानबीन कर रही है. बुधवार को कुछ पुलिस अधिकारियों ने बेंगलुरु से पोर्टब्लेयर की फ्लाइट ली और 33 साल की अम्रुता सी और उसके बॉयफ्रेंड श्रीधर राव को गिरफ्तार किया.

अम्रुता पर 2 फरवरी को अपनी 52 साल की मां की हत्या करने का आरोप है. उस पर आरोप है कि उसने अपनी मां और अपने भाई हरीश पर चाकू से हमला किया और उन्हें मरता हुआ छोड़कर वहां से भाग गई जहां थोड़ी दूर पर ही उसका बॉयफ्रेंड बाइक पर उसका इंतजार कर रहा था.

इसके बाद ये दोनों एयरपोर्ट चले गए और पांच दिन के ब्रेक के लिए पहले से बुक सुबह साढ़े छह बजे की पोर्ट ब्लेयर की फ्लाइट पकड़ ली. अम्रुता के भाई ने उसके जाने के बाद किसी तरह पुलिस को फोन करके मदद की मांग की.

काफी उलझा हुआ है मामलाअनुछेथ ने कहा कि हमें सवाल जवाब के लिए दोनों के वापस आने का इंतजार करना था. उसके भाई और अन्य लोगों से हमें जो जानकारी मिली वह काफी कन्फ्यूज़ करने वाली थी.

सूत्रों से जानकारी मिल रही है कि हत्या के पीछे का कारण पैसा या किसी तरह का बदला लेना नहीं बल्कि मनोवैज्ञानिक था.

पुलिस अधिकारियों को सवाल जवाब के बाद मालूम हुआ कि अम्रुता परिवार के बड़े कर्ज से तंग आ चुकी थी. 4 लाख रुपये का ये कर्ज 2013 में अम्रुता के पिता के इलाज के लिए लिया गया था जिन्हें फेफड़ों का कैंसर था. समय के साथ, जैसा कि परिवार के सदस्य ऋण का भुगतान करने में विफल रहे, कर्ज लगभग 18 लाख रुपये हो गया और यह सिलसिला जारी रहा.

इसलिए बनाया ऐसा प्लान
अम्रुता अपने परिवार को इस मुश्किल में नहीं डालना चाहती थी इसलिए उसने पहले अपनी मां और भाई की हत्या करने का फैसला किया और बाद में आत्महत्या करने की ठानी. ये पहले से तय की गई ट्रिप शायद उसकी आखिरी छुट्टी थी जो उसने अपनी मौत से पहले अपने बॉयफ्रेंड के साथ बिताने के लिए प्लान की थी.

हालांकि राव को मर्डर के बारे में जानकारी थी और वह इसकी प्लानिंग का हिस्सा था और वह लौटने के बाद उसकी आत्महत्या के प्लान के बारे में भी जानता था, इसके बारे में फिलहाल कोई पुष्टि नहीं हुई है.

अम्रुता और राव 2017 तक एक सॉफ्टवेयर कंपनी में साथ काम करते थे, बाद में अम्रुता ने नौकरी छोड़ दी. उसके बाद से वह लगातार कोई काम नहीं कर रही थी, लेकिन बीच बीच में असाइनमेंट करती रहती थी. लड़की का भाई हरीश भी शहर के वाइटफील्ड इलाके की एक प्राइवेट कंपनी में बतौर तकनीक विशेषज्ञ काम करता था.

मां और भाई पर किया था हमला
बता दें अमृता ने हमला करने से पहले अपनी मां और 30 वर्षीय भाई को बताया था कि उसका तबादला हैदराबाद कर दिया गया है और उसे शायद वहां जाना पड़े. उसके भाई ने पुलिस को बताया कि सोमवार को सुबह में उसने अपनी बहन को कुछ ढ़ूंढते हुए देखा तो उसकी मदद करने की बात कही लेकिन उसने इनकार कर दिया.

उसके भाई ने पुलिस को बताया कि कुछ मिनट के बाद महिला ने भाई पर जानलेवा हमला कर दिया और जब वह मदद के लिए चिल्लाया और मां को बुलाया तो उसने मां की हत्या कर दी .

उसके भाई ने पुलिस को बताया कि कुछ मिनट के बाद महिला ने भाई पर जानलेवा हमला कर दिया और जब वह मदद के लिए चिल्लाया और मां को बुलाया तो उसने मां की हत्या कर दी.भाई ने कहा कि जब मैं सो रहा था तो वह कमरे में घुस आई. जब मैंने उससे पूछा कि वह ऐसा क्यों कर रही है तो उसने कहा कि उसने 15 लाख रुपये कर्ज लिया हुआ है और कर्ज देने वाले लोग उसके परिवार को बदनाम करेंगे.

युवक ने बताया कि महिला ने कहा कि ऐसे जीने से अच्छा है कि वह मर जाएं. महिला ने यह भी कहा कि जिन लोगों से उसने पैसा लिया है वह घर आकर पैसा मांगने की धमकी दे रहे हैं. उसके भाई ने पुलिस को बताया कि बहन ने मां को चाकू घोंपा, सरिये से हमला किया और फिर भाग गई. उसकी मां का शव घर के दूसरे कमरे में से मिला.

ये भी पढ़ें-
केरल: 105 साल की उम्र में परदादी ने पास की परीक्षा, बना दिया नया रिकॉर्ड

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 5, 2020, 9:21 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर