• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • किसान आंदोलनः 27 सितंबर को किसानों का भारत बंद, बैंक यूनियन ने दिया समर्थन

किसान आंदोलनः 27 सितंबर को किसानों का भारत बंद, बैंक यूनियन ने दिया समर्थन

कृषि कानूनों के खिलाफ सिंघु बॉर्डर पर प्रदर्शन करते विभिन्न राज्यों से आए किसान. (फाइल फोटो)

कृषि कानूनों के खिलाफ सिंघु बॉर्डर पर प्रदर्शन करते विभिन्न राज्यों से आए किसान. (फाइल फोटो)

Bharat Bandh: संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने केंद्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ 27 सितंबर के 'भारत बंद' के लिए दिशानिर्देश जारी किए है. संगठन ने कहा कि भारत बंद शांतिपूर्ण होगा और किसान ये सुनिश्चित करेंगे कि जनता को कम से कम असुविधा का सामना करना पड़े.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्ली. केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों (3 New Farm Laws) के खिलाफ पिछले नौ महीने से आंदोलन कर रहे संयुक्त किसान मोर्चा ने 27 सितंबर को ‘भारत बंद’ का ऐलान किया है. इसी दिन किसान आंदोलन के 300 दिन पूरे हो रहे हैं. इस बीच देश के बैंक यूनियन ने इस बंद को समर्थन देने की बात कही है. अखिल भारतीय बैंक अधिकारी परिसंघ (एआईबीओसी) ने सरकार से संयुक्त किसान मोर्चा की मांगों पर उसके साथ फिर से बातचीत शुरू करने और तीन विवादित कृषि कानूनों को रद्द करने का अनुरोध किया है. किसान संगठनों ने भारत बंद के फैसले से पीछे हटने से इनकार कर दिया है.

    इस महीने की शुरुआत में जारी एनएसएस भूमि और परिवारों के पास पशुधन और कृषि परिवारों की स्थिति आकलन, 2018-19 की रिपोर्ट का हवाला देते हुए, संघ ने कहा कि ऐसा लगता है कि वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का सरकार का लक्ष्य, दूर का सपना लगता है. प्रति कृषि परिवार का औसत बकाया ऋण वर्ष 2018 में बढ़कर 74,121 रुपये हो गया, जो वर्ष 2013 में 47,000 रुपये था. कृषि परिवारों का बढ़ता कर्ज, गहराते कृषि संकट को दर्शाता है.

    ये भी पढ़ें:- पेगासस मामलाः SC करेगा जांच कमेटी का गठन, अगले हफ्ते जारी होगा आदेश

    जारी रहेगा आंदोलन
    भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने पिछले हफ्ते कहा था कि तीन कृषि कानून जब तक वापस नहीं लिए जाते हैं तब तक वो अपना आंदोलन समाप्त नहीं करेंगे। उन्होंने कहा था, ‘जब तक हम जीत नहीं जाते तब तक कोई ताकत हमें वहां से हटा नहीं सकती.’ बता दें कि तीन कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर पिछले नौ महीने से दिल्‍ली बॉर्डर पर किसान डेरा डाले हुए हैं.

    बंद का दिख सकता है असर
    संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने केंद्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ 27 सितंबर के ‘भारत बंद’ के लिए दिशानिर्देश जारी किए है. संगठन ने कहा कि भारत बंद शांतिपूर्ण होगा और किसान ये सुनिश्चित करेंगे कि जनता को कम से कम असुविधा का सामना करना पड़े. एसकेएम ने एक बयान में कहा कि बंद सुबह छह बजे से शुरू होगा और शाम चार बजे तक जारी रहेगा. इस दौरान केंद्र और राज्य सरकार के कार्यालयों, बाजारों, दुकानों, कारखानों, स्कूलों, कॉलेजों और अन्य शैक्षणिक संस्थानों को काम करने की अनुमति नहीं दी जाएगी. बयान में कहा गया है कि सार्वजनिक और निजी परिवहन की अनुमति नहीं दी जाएगी. किसी भी सार्वजनिक समारोह की अनुमति नहीं दी जाएगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज