कांग्रेस को मिला राज ठाकरे का साथ, मोदी सरकार के खिलाफ भारत बंद का समर्थन करेगी MNS

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अलावा बिहार में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव और तमिलनाडु में डीएमके प्रमुख एमके स्टालिन ने भी कांग्रेस के भारत बंद का ऐलान किया है.

News18Hindi
Updated: September 9, 2018, 4:45 PM IST
कांग्रेस को मिला राज ठाकरे का साथ, मोदी सरकार के खिलाफ भारत बंद का समर्थन करेगी MNS
सांकेतिक तस्वीर
News18Hindi
Updated: September 9, 2018, 4:45 PM IST
देश में बढ़ते पेट्रोल और डीजल के दामों को लेकर विपक्ष की सबसे बड़ी पार्टी कांग्रेस ने 10 सितंबर को केंद्र सरकार के खिलाफ 'भारत बंद' बुलाया है. कांग्रेस के इस फैसले का कई विपक्षी पार्टियों ने समर्थन किया है. महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) भी बढ़ते पेट्रोल-डीजल के दामों को लेकर सोमवार को होने वाले 'भारत बंद' में कांग्रेस का समर्थन करेगी. रविवार को मनसे के प्रमुख राज ठाकरे ने इसका ऐलान किया.

विपक्ष के पास 2019 के चुनाव के लिए न नेता, न नीति और न रणनीति: BJP

बता दें कि बीते गुरुवार को कांग्रेस ने पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर भारत बंद की घोषणा की थी. कांग्रेस ने इसे 'फ्यूल लूट' का नाम देते हुए 10 सितंबर को हड़ताल और काम बंद की अपील की थी. खबरों से मिली जानकारी के मुताबिक, राज ठाकरे ने राजनीतिक गुमनामी से बाहर निकलते हुए सोमवार को कांग्रेस का साथ देने की बात कही है.

भारत बंद से ठीक पहले पेट्रोल-डीजल हुए और महंगे, शिवसेना का सवाल- यही हैं अच्छे दिन?

मनसे के इस कदम से इस बात के भी कयास लगाए जा रहे हैं कि राज ठाकरे आगे मोदी सरकार के खिलाफ विपक्ष के 'महागठबंधन' से हाथ भी मिला सकते हैं.


महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अलावा बिहार में नेता प्रतिपक्ष और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) तेजस्वी यादव ने भी कांग्रेस के भारत बंद का समर्थन करने का ऐलान किया है. तेजस्वी यादव ने कहा कि वे 10 सितंबर को होने वाले भारत बंद को कांग्रेस के साथ मिलकर सफल बनाएंगे. उन्होंने बिहार के लोगों से अपील की है कि गरीब विरोधी पूंजीपतियों की सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए बंद का पुरजोर समर्थन करें.



इसके अलावा द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (डीएमके) भी सोमवार को कांग्रेस के 'भारत बंद' को समर्थन देने की घोषणा कर चुकी है. डीएमके ने कहा कि इसकी सफलता में पार्टी अहम भूमिका अदा करेगी. कांग्रेस को समर्थन की बात करते हुए पार्टी अध्यक्ष एम के स्टालिन ने कहा कि डीएमके उत्साहपूर्वक इसका हिस्सा बनेगी. बंद को पूर्ण सफलता दिलाने में पूरा सहयोग किया जाएगा.


बता दें कि पेट्रोल और डीजल की कीमतों में उछाल लगातार जारी है. रविवार को दिल्ली में पेट्रोल का दाम बढ़कर 80.50 रुपये प्रति लीटर हो गया है, तो वहीं डीजल की कीमत 72.61 रुपये प्रति लीटर पहुंच गई. इससे पहले शनिवार को यहां पेट्रोल 80.38 पैसे जबकि डीजल 72.51 रुपये प्रति लीटर था.


वहीं, मुंबई में पेट्रोल 87.89 रुपये लीटर हो गया है और एक लीटर डीजल 77.09 रुपये में मिल रहा है. एक दिन पहले यहां पेट्रोल 87.77 और डीजल 76.98 रुपये प्रति लीटर था.

तेल की बढ़ती कीमतों को लेकर केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने शनिवार को कहा कि एक मजबूत अर्थव्यवस्था वाले भारत को पेट्रोल-डीजल में भारी उछाल पर बिना गहराई से सोचे झटके में कोई निर्णय करने से बचाना चाहिए. उनकी बात से लगता है कि सरकार फिलहाल डीजल पेट्रोल पर कर में कोई कटौती करने के मूड में नहीं है.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर