• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • 'ब्राजील सरकार को ना वैक्सीन दी ना कोई भुगतान मिला', कीमत विवाद पर भारत बायोटेक ने दी सफाई

'ब्राजील सरकार को ना वैक्सीन दी ना कोई भुगतान मिला', कीमत विवाद पर भारत बायोटेक ने दी सफाई

कोवैक्सीन डील को लेकर ब्राजील में सिसायसत गरमाई है. (प्रतीकात्मक तस्वीर: Shutterstock)

कोवैक्सीन डील को लेकर ब्राजील में सिसायसत गरमाई है. (प्रतीकात्मक तस्वीर: Shutterstock)

Covaxin Price Row: ब्राजील (Brazil) के सवास्थ्य मंत्री मार्सेलो किरोगा ने घोषणा की अनियमितता के आरोपों के बाद हैदराबाद की कंपनी के साथ जारी डील को आस्थाई रूप से निलंबित किया जाता है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. ब्राजील में कोवैक्सीन डील को लेकर जारी विवाद पर भारत बायोटेक (Bharat Biotech) ने प्रतिक्रिया दी है. कंपनी ने कहा है कि अब तक ब्राजील सरकार (Brazil Government) से किसी भी तरह का भुगतान नहीं मिला है. कंपनी ने यह भी साफ किया है कि उन्होंने ब्राजील सरकार को वैक्सीन सप्लाई भी नहीं की है. बता दें कि ब्राजील में कोवैक्सीन की कीमतों को लेकर बड़ा विवाद छिड़ा हुआ है, जहां विपक्ष लगातार राष्ट्रपति जायर बोलसोनारो (Jair Bolsonaro) पर निशाना साध रहा है.

    ब्राजील सरकार की तरफ से वैक्सीन डील पर अस्थाई रोक लगाने के बाद कंपनी ने कहा, '29 जून 2021 तक भारत बायोटेक को ब्राजील के स्वास्थ्य मंत्रालय से ना ही कोई एडवांस पेमेंट मिला है और ना ही वैक्सीन सप्लाई की गई है.' कोवैक्सीन की कीमतों को लेकर कंपनी ने कहा, 'भारत के बाहर सरकारों को सप्लाई के लिए वैक्सीन की कीमत 15-20 डॉलर प्रति डोज स्पष्ट रूप से स्थापित की गई है. ब्राजील के लिए भी कीमत 15 डॉलर प्रति डोज सूचित की गई है.'



    बयान में बताया गया है कि भारत बायोटेक ने कॉन्ट्रैक्ट्स और नियामक स्तर पर मंजूरी पाने के लिए आठ महीने लंबी प्रक्रिया में 'स्टेप बाय स्टेप' यानी चरण दर चरण तरीके से काम किया है. भारत बायोटेक को 4 जून को ब्राजील में आपातलकालीन इस्तेमाल की मंजूरी मिली थी. उस दौरान राष्ट्रीय स्वास्थ्य निगरानी एजेंसी Anvisa की तरफ से कुछ शर्तों के साथ आयात की मंजूरी मिली थी.

    यह भी पढ़ें: भारत बायोटेक को लगा करोड़ों डॉलर का झटका! वैक्सीन डील पर रोक लगाएगा ब्राजील; जानें वजह

    ब्राजील में क्या चल रहा है
    ब्राजील के सवास्थ्य मंत्री मार्सेलो किरोगा ने बुधवार को घोषणा की अनियमितता के आरोपों के बाद हैदराबाद की कंपनी के साथ जारी डील को आस्थाई रूप से निलंबित किया जाता है. उन्होंने कहा, 'सीजीयू के प्रारंभिक विश्लेषण के मुताबिक, करार में कोई अनियमितता नहीं हैं लेकिन अनुपालन के कारण, मंत्रालय ने और विश्लेषण के लिए करार को रोकने का फैसला किया है.'

    इस दौरान उन्होंने ने भी बताया था कि ब्राजील सरकार ने कोवैक्सीन के लिए कोई कीमत नहीं दी है. उन्होंने लिखा, 'यह उल्लेखनीय है कि ब्राजील सरकार ने कोवैक्सीन वैक्सीन के लिए कोई रकम नहीं दी है.' इससे पहले विह्सलब्लोअर्स ने संसदीय समिति के सामने राष्ट्रपति बोलसोनारो और उनके ताकतवर गठबंधन प्रमुख पर बाजार में कम दामों के विकल्प मौजूद होने के बावजूद ऊंची कीमतों पर भारतीय वैक्सीन खरीदने के आरोप लगाए थे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज