होम /न्यूज /राष्ट्र /COVID-19: बूस्टर डोज की तैयारी में भारत बायोटेक, अपनी नेजल वैक्सीन के तीसरे क्लीनिकल ट्रायल की मांगी मंजूरी

COVID-19: बूस्टर डोज की तैयारी में भारत बायोटेक, अपनी नेजल वैक्सीन के तीसरे क्लीनिकल ट्रायल की मांगी मंजूरी

कोरोना वायरस के खिलाफ इस्तेमाल हो रही वैक्सीन कोविशील्ड और कोवैक्सीन. (सांकेतिक तस्वीर)

कोरोना वायरस के खिलाफ इस्तेमाल हो रही वैक्सीन कोविशील्ड और कोवैक्सीन. (सांकेतिक तस्वीर)

Bharat Biotech Nasal Vaccine: भारत बायोटेक के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक कृष्णा एल्ला ने बीते 10 नवंबर को नई दिल्ली में ...अधिक पढ़ें

    नई दिल्ली. भारत बायोटेक (Bharat Biotech) ने नाक के जरिए दी जाने वाली कोविड वैक्सीन (Intranasal Covid Vaccine) की बूस्टर खुराक के तीसरे चरण के नैदानिक ​​​​परीक्षण (Clinical Trial) के लिए डीसीजीआई के पास आवेदन भेजा है. समाचार एजेंसी एएनआई ने अपने सूत्रों के हवाले से सोमवार को यह जानकारी दी. इस वैक्सीन की सबसे खास बात यह है कि यह उन सभी लोगों को दिया जा सकता है, जिन्होंने कोवैक्सिन और कोविशील्ड (Covaxin & Covishield) दोनों में से कोई भी टीका लगवाया हो.

    भारत बायोटेक के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक कृष्णा एल्ला ने बीते 10 नवंबर को नई दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम में नाक से दिए जाने वाले टीके (Nasal Vaccine) के महत्व पर जोर दिया था. इसके साथ ही उन्होंने बूस्टर डोज (Booster Dose) के संबंध में कहा था कि कोविड-19 रोधी टीके की दूसरी खुराक के छह महीने बाद ही तीसरी खुराक दी जानी चाहिए, यही सबसे उचित समय है.

    कितना अहम है ‘नेज़ल वैक्सीन’
    ‘नेज़ल वैक्सीन’ के महत्व के बारे में उन्होंने कहा था कि पूरा विश्व ऐसे टीके चाहता है. उन्होंने कहा था, “संक्रमण रोकने का यही एकमात्र तरीका है. हर कोई ‘इम्यूनोलॉजी’ (प्रतिरक्षा विज्ञान) का पता लगाने की कोशिश कर रहा है और सौभाग्य से, भारत बायोटेक ने इसका पता लगा लिया है.”

    एल्ला ने कहा था, “हम नाक से देने वाला टीका ला रहे हैं… हम इस बात पर विचार कर रहे हैं कि क्या कोवैक्सिन की दूसरी खुराक को नाक से दिया जा सकता है, यह रणनीतिक रूप से, वैज्ञानिक रूप से भी बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि दूसरी खुराक को यदि आप नाक से देते हैं तो आप संक्रमण को फैलने से रोकते हैं.”

    Tags: Bharat Biotech, Coronavirus, Coronavirus vaccine, Covaxin, Covishield

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें