Covaxin का उत्पादन बढ़ाने पर भारत बॉयोटेक का फोकस, कहा- 30 दिन में 30 शहरों में पहुंची वैक्सीन

भारत बायोटेक ने कहा 30 दिन में 30 शहरों में पहुंची कोवैक्सीन,

कोवैक्सीन बनाने वाली कंपनी भारत बायोटेक ने बताया है कि कोरोना काल में भी कोवैक्सीन 30 दिन में 30 शहरों में पहुंची है. भारत बॉयोटेक की सह-संस्थापक और संयुक्त प्रबंध निदेशक सुचित्रा इला ने ट्वीट करके इस बात की जानकारी दी.

  • Share this:
    नई दिल्ली. कोरोना वायरस की दूसरी लहर का तांडव देखने के बाद वैक्सीन ही महामारी से बचने का एक मात्र रास्ता दिख रहा है. ऐसे में देश के अंदर वैक्सीनेशन अभियान तो तेज़ किया जा रहा है, लेकिन टीके के कमी एक बड़ी चुनौती बन रही है. इस बीच वैक्सीन का प्रोडक्शन बढ़ाने के लिए सरकार ने फार्मा कंपनीज़ को निर्देश दिए हैं. इसी सिलसिले में भारत बॉयोटेक की सह-संस्थापक और संयुक्त प्रबंध निदेशक सुचित्रा इला ने मंगलवार को कहा कि कंपनी संकटकाल में भी कोवैक्सीन की सही समय पर डिलिवरी को लेकर काम कर रही है. उन्होंने बताया कि ''कोविड के कारण कुछ कर्मचारियों के अवकाश पर होने के बावजूद कोरोना वायरस टीका कोवैक्सीन 30 दिन में 30 शहरों में पहुंचा है."

    इला ने ट्विटर पर लिखा है, ‘‘कोवैक्सीन 30 दिन के भीतर 30 शहरों में पहुंची है. हमारे सभी कर्मचारी प्रतिबद्ध हैं.‘लॉकडाउन’के बावजूद देश में टीकाकरण के लिये 24 घंटे काम कर रहे हैं. कृपया उनके परिवारों के लिये प्रार्थना और दुआ कीजिये, कुछ कर्मचारी अभी भी काम से दूर, पृथकवास में हैं.’’

    उत्पादन बढ़ाने पर है भारत बायोटेक का फोकस
    टीका विभिन्न शहरों में निजी अस्पतालों को भेजा गया हैं. उनमें अमृतसर, बेंगलुरु, चेन्नई, दिल्ली, एर्नाकुलम, जयपुर, हैदराबाद, कानपुर, कोलकाता, गुवाहाटी, मैसूर, पुणे, रायपुर, मोहाली और विजयवाड़ा के अस्पताल शामिल हैं. पिछले सप्ताह भारत बॉयोटेक ने कहा था कि उसकी गुजरात स्थित अपने संयंत्र में 20 करोड़ अतिरिक्त खुराक का उत्पादन करने की योजना है. इससे कुल उत्पादन बढ़कर करीब एक अरब (100 करोड़ खुराक) खुराक सालाना पहुंच जाएगा.

    ये भी पढ़ें- Covid-19 Update: इस राज्य में में लोग वैक्सीन तक नहीं, वैक्सीन खुद लोगों तक पहुंच रही है

    इससे पहले सोमवार को भारत बायोटेक के बिजनेस डेवलपमेंट और इंटरनेशनल एडवोकेसी हेड डॉक्टर राचेस ऐल्ला ने भी कहा था कि इस वक्त कंपनी का पूरा फोकस उत्पादन की क्षमता बढ़ाने पर है. उनका कहना है कि वे साल के अंदर तक 70 करोड़ वैक्सीन की खुराक के उत्पादन का लक्ष्य लेकर चल रहे हैं. डॉ. ऐल्ला ने कहा कि उन्हें अब तक के सफर में सरकार की तरफ से पूरा सहयोग मिला है. सरकार ने 1500 करोड़ रुपये की वैक्सीन का ऑर्डर एडवांस में दे दिया है. इससे हमारा हौसला बढ़ा है और भारत बायोटेक बेंगलुरु और गुजरात में भी अपना काम बढ़ा रही है, ताकि वैक्सीन की आपूर्ति की जा सके.