भारत बायोटेक ने कोवैक्सीन के तीसरे चरण का क्लीनिकल ट्रायल डाटा DCGI को सौंपा

कोवैक्सीन को भारत-बायोटेक और आईसीएमआर ने बनाया है.(सांकेतिक तस्वीर)

Bharat Biotech Covaxin Phase 3 Data: हैदराबाद की कंपनी भारत बायोटेक द्वारा विकसित कोवैक्सीन के आपातकालीन प्रयोग को तीन जनवरी को मंजूरी मिली थी.

  • Share this:

    नई दिल्ली. भारत बायोटेक ने स्वदेशी कोविड-19 टीका कोवैक्सिन के तीसरे चरण में हुए क्लीनिकल परीक्षण के आंकड़ों को भारत के औषधि महानियंत्रक (डीसीजीआई) को सौंप दिया है. समाचार एजेंसी एएनआई ने सोमवार को सरकारी सूत्रों के हवाले से यह जानकारी दी.


    गौरतलब है कि राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान और भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के साथ साझेदारी में हैदराबाद की कंपनी भारत बायोटेक द्वारा विकसित कोवैक्सीन के आपातकालीन प्रयोग को तीन जनवरी को मंजूरी मिली थी. परीक्षण के परिणामों में बाद में सामने आया कि यह टीका 78 फीसदी तक प्रभावी है.


    क्या कोविड की दूसरी लहर खत्म हो गई है या नहीं? जानें क्या है वैज्ञानिकों की राय


    इस बीच, विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भारत बायोटेक के कोविड-19 रोधी टीके कोवैक्सीन के लिए रुचि की अभिव्यक्ति (ईओआई) प्रस्ताव को स्वीकार लिया है और टीके को मंजूरी के संबंध में दस्तावेज सौंपे जाने के पहले 23 जून को डब्ल्यूएचओ के साथ बैठक होगी.


    कोरोना वैक्सीन के डर से जंगल में भागकर छुप जा रहे हैं ओडिशा के आदिवासी


    विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के मुताबिक इस बैठक में उत्पाद की विस्तृत समीक्षा नहीं की जाएगी, लेकिन टीका निर्माता के पास टीके की गुणवत्ता को लेकर एक संक्षिप्त विवरण पेश करने का अवसर होगा. विश्व स्वास्थ्य संगठन की वेबसाइट पर डब्ल्यूएचओ ईयूएल-पीक्यू मूल्यांकन प्रक्रिया दस्तावेज में कोविड-19 टीकों की स्थिति पर यह जानकारी दी गई है. भारत बायोटेक ने पिछले महीने कहा था कि उसे अपने टीके कोवैक्सीन के आपात इस्तेमाल के लिए डब्ल्यूएचओ से जुलाई-सितंबर तक मंजूरी मिल जाने की उम्मीद है.





    डब्ल्यूएचओ के दिशा-निर्देश के मुताबिक आपात इस्तेमाल सूचीबद्ध (ईयूएल) ऐसी प्रक्रिया है जिसके तहत लोक स्वास्थ्य संकट के समय नए या गैर लाइसेंस प्राप्त उत्पादों के इस्तेमाल की मंजूरी दी जाती है. डब्ल्यूएचओ के मुताबिक औषधि के दस्तावेज सौंपे जाने से पहले की बैठक में सलाह और मशविरा का अवसर दिया जाता है. आवेदनकर्ता को डब्ल्यूएचओ के मूल्यांकन करने वालों से मुलाकात का भी मौका मिलता है जो कि उस उत्पाद की समीक्षा में शामिल होंगे.


    (इनपुट भाषा से भी)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.