• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • स्वदेशी वैक्सीन Covaxin का इंतजार बढ़ा, अब 5 अक्‍टूबर को फैसला करेगा WHO

स्वदेशी वैक्सीन Covaxin का इंतजार बढ़ा, अब 5 अक्‍टूबर को फैसला करेगा WHO

 WHO 5 अक्‍टूबर को स्वदेशी वैक्सीन Covaxin पर देगा अहम फैसला.

WHO 5 अक्‍टूबर को स्वदेशी वैक्सीन Covaxin पर देगा अहम फैसला.

न्‍यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, 5 अक्‍टूबर को होने वाली बैठक में कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) पर बने विश्व स्वास्थ संगठन के ग्रुप SAGE के सदस्य और कोवैक्सीन (Covaxin) का निर्माण करने वाली भारत बायोटेक (Bharat Biotech) के सदस्य मौजूद रहेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्ली. हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक (Bharat Biotech) द्वारा विकसित स्वदेशी कोविड-19 रोधी वैक्‍सीन ‘कोवैक्सीन’ (Covaxin) को विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की मंजूरी मिलने के लिए अभी कुछ दिन और इंतजार करना होगा. विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन ने एक बार फिर कोवैक्‍सीन को मंजूरी देने के लिए होने वाली बैठक की तारीख को आगे बढ़ा दिया है. ये बैठक अब 5 अक्‍टूबर को होगी. न्‍यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक 5 अक्‍टूबर को होने वाली बैठक में कोविड वैक्सीन पर बने विश्व स्वास्थ संगठन के ग्रुप SAGE के सदस्य और कोवैक्सीन का निर्माण करने वाली भारत बायोटेक के सदस्य मौजूद रहेंगे.

    डब्ल्यूएचओ ने अब तक अमेरिका की प्रमुख दवा कंपनियों फाइजर-बायोएनटेक, जॉनसन एंड जॉनसन, मॉडर्ना, चीन की साइनोफार्म और ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका द्वारा निर्मित टीकों को आपात इस्तेमाल की मंजूदी दी है. कोवैक्सीन उन छह टीकों में शामिल है, जिन्हें भारत के औषधि नियामक से आपात इस्तेमाल की मंजूरी मिली है और देशव्यापी टीकाकरण कार्यक्रम में कोविशील्ड और स्पूतनिक वी के साथ इसका इस्तेमाल किया जा रहा है.

    बता दें कि भारत में चल रहे दुनिया के सबसे बड़ी टीकाकरण अभियान की कमान मुख्‍य रूप से सीरम इंस्टीट्यूट की कोविशील्ड और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन के पास है. भारत में अब तक 79 करोड़ लोगों को कोरोना वैक्‍सीन लगाई जा चुकी है. इन दोनों वैक्‍सीन की तुलना करें तो 69 करोड़ से ज्‍यादा लोगों को कोविशील्‍ड जबकि 9 करोड़ से ज्‍यादा लोगों को कोवैक्‍सीन लगाई गई है. कोविशील्ड को विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) से पहले ही मंजूरी मिल चुकी है जबकि कोवैक्सीन को अभी भी डब्‍ल्‍यूएचओ की मंजूरी का इंतजार है.

    भारत बायोटेक ने WHO को दिया कोवैक्‍सीन से जुड़ा डेटा
    भारत बायोटेक ने एक दिन पहले ही बताया था कि उसने आपातकालीन उपयोग सूची (ईयूएल) के लिए अपनी कोविड-19 वैक्सीन कोवैक्सीन से संबंधित सभी डेटा विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) को सौंप दिए हैं और अब उसे वैश्विक स्वास्थ्य संगठन से फीडबैक का इंतजार है. डब्ल्यूएचओ इस समय भारत बायोटेक के डेटा की समीक्षा कर रहा है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज