Home /News /nation /

गूगल ने इस भरतनाट्यम नृत्यांगना को ऐसे किया याद

गूगल ने इस भरतनाट्यम नृत्यांगना को ऐसे किया याद

सर्च इंजन 'गूगल' ने भारत की प्रसिद्ध भरतनाट्यम नृत्यांगना रुक्मिणी देवी को उनके 112वें जन्मदिन पर याद किया। गूगल ने अपने होमपेज डूडल पर उनकी तस्वीर उकेरी।

सर्च इंजन 'गूगल' ने भारत की प्रसिद्ध भरतनाट्यम नृत्यांगना रुक्मिणी देवी को उनके 112वें जन्मदिन पर याद किया। गूगल ने अपने होमपेज डूडल पर उनकी तस्वीर उकेरी।

सर्च इंजन 'गूगल' ने भारत की प्रसिद्ध भरतनाट्यम नृत्यांगना रुक्मिणी देवी को उनके 112वें जन्मदिन पर याद किया। गूगल ने अपने होमपेज डूडल पर उनकी तस्वीर उकेरी।

    नई दिल्ली। सर्च इंजन 'गूगल' ने भारत की प्रसिद्ध भरतनाट्यम नृत्यांगना रुक्मिणी देवी को उनके 112वें जन्मदिन पर याद किया। इस मौके पर गूगल ने अपने होमपेज डूडल पर उनकी तस्वीर उकेरी और उनसे जुड़ी जानकारी साझा की। डूडल ने पांरपरिक नृत्य पोशाक के साथ रुक्मिणी का चित्रण किया। दिग्गज कंपनी गूगल के ट्रेडमार्क अभिलेख के बीच उनकी तस्वीर नृत्य मुद्रा में दिखाई पड़ रही है।

    रुक्मिणी देवी का जन्म वर्ष 1904 में हुआ था। वर्ष 1920 से पहले भरतनाट्यम नृत्य को एक कमतर कला के रूप में आंका जाता था। रुक्मिणी को जब इस नृत्य के मूल्यों का अहसास हुआ, तो उसके बाद उच्च जाति की बेड़ियों और मजबूत सार्वजनिक अस्वीकृति ने भी इन्हें अपनी कला को मंच पर पेश करने से नहीं रोक पाया।

    इनका नाम उन कलाकारों में शामिल है, जिन्होंने पारंपरिक भारतीय कला और शिल्प को फिर से प्रतिष्ठा दिलाने के लिए काम किया और अपनी मूल शैली 'साधिर' से शास्त्रीय नृत्य को पुनर्जीवित किया।

    उन्होंने अपने पति के साथ मिलकर चेन्नई के पास कलाक्षेत्र अकादमी की स्थापना की। इन्हें साल 1956 में पद्मभूषण और साल 1967 में संगीत नाटक अकादमी फेलोशिप से नवाजा गया। वह दो बार राज्यसभा सदस्य चुनी गईं। रुक्मिणी 24 फरवरी 1986 को दुनिया से रुखसत हो गई थीं।

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर