Assembly Banner 2021

अमित शाह का ममता बनर्जी पर निशाना- 'भतीजा एंड कंपनी' ने अम्फान की राहत राशि हड़प ली

अमित शाह ने कहा कि भाजपा मछुआरों के उत्थान के लिए काम करेगी. (File photo)

अमित शाह ने कहा कि भाजपा मछुआरों के उत्थान के लिए काम करेगी. (File photo)

West Bengal Assembly Elections: गृह मंत्री अमित शाह ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और उनकी सरकार पर केन्द्र की योजनाएं राज्य में लागू ना करने देने’’ को लेकर भी निशाना साधा.

  • Share this:
गोसाबा (पश्चिम बंगाल). केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) ने मंगलवार को आरोप लगाया कि ‘भतीजा एंड कम्पनी’ ने चक्रवात ‘अम्फान’ (Amphan) से निपटने के लिए केन्द्र द्वारा भेजा पैसा हड़प लिया. उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल (West Bengal) में भाजपा के सत्ता में आने पर इस मामले की जांच करायी जाएगी और अपराधियों पर मामला दर्ज किया जाएगा. उन्होंने तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) की कथित ‘कटमनी संस्कृति’ की आलोचना की और दावा किया कि ममता बनर्जी सरकार ने राहत राशि हड़प ली. शाह ने सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस पर नरेंद्र मोदी सरकार की जनोन्मुखी योजनाओं में घोटाले करने का आरोप लगाया.

सुंदरबन के बाशिंदों से संपर्क कायम करने का प्रयास करते हुए शीर्ष भाजपा नेता ने वादा किया कि यदि भाजपा सत्ता में आयी तो सालभर के अंदर इस क्षेत्र को नया जिला बनाया जाएगा. पार्टी के घोषणापत्र में सुंदरबन के लिए परियोजनाएं गिनाते हुए शाह ने कहा कि भाजपा इस क्षेत्र के मछुआरों के उत्थान के लिए काम करेगी. गृह मंत्री ने यहां एक रैली में कहा, ‘‘केन्द्र सरकार ने प्रभावित लोगों के लिए राहत राशि भेजी थी. लेकिन तृणमूल कांग्रेस के नेता उसे हड़प गए और उसे जनता तक नहीं पहुंचने दिया.’’ उन्होंने कहा, ‘‘अगर हम सत्ता में आए तो, भाजपा राहत राशि के वितरण को लेकर हुए भ्रष्टाचार की जांच के लिए एक समिति का गठन करेगी. भ्रष्टाचार में शामिल सभी लोगों को जेल भेजा जाएगा.’’

ये भी पढ़ें- दिल्ली में सार्वजनिक स्थानों पर होली, शब-ए-बारात और नवरात्रि मनाने पर रोक



शाह ने कहा, ‘‘केन्द्र ने ‘अम्फान’ से निपटने के लिए 10,000 करोड़ रुपये की राहत राशि दी थी. क्या आपको एक रुपया भी मिला? सारा पैसा कहां गया? ‘भतीजा एंड कम्पनी’ ने चक्रवात ‘अम्फान’ से निपटने के लिए केन्द्र द्वारा भेजा सारा पैसा हड़प लिया. हम हर चीज की जांच करेंगे और गुनहगार सलाखों के पीछे होंगे.’’
ममता बनर्जी की सरकार पर साधा निशाना
शाह ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और उनकी सरकार पर ‘‘केन्द्र की योजनाएं राज्य में लागू ना करने देने’’ को लेकर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गरीबों की मदद के लिए जनोन्मुखी योजनाएं ला रहे हैं. लेकिन तृणमूल कांग्रेस को उन योजनाओं से बस घाटाले करने में रूचि है. मोदीजी ने गरीबों के विकास के लिए 115 योजनाएं बनायी . ममता दीदी ने गरीबों को लूटने के लिए 115 घोटाले किये.’’

भाजपा नेता ने तृणमूल कांग्रेस की वंशवादी राजनीति पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘ ममता दीदी भतीजे को मुख्यमंत्री बनाने में लगी हुई हैं. क्या आप उनके भतीजे को मुख्यमंत्री बनता देखना चाहते हैं? अगर नहीं तो भाजपा को वोट दें.’’

ये भी पढ़ें- केंद्र GST के दायरे में ला सकता है पेट्राेल-डीजल, जानें कितना हो जाएगा सस्‍ता

उन्होंने कहा, ‘‘2016 के चुनाव में दीदी ने बहु समेकित मत्स्य क्षेत्र स्थापित करने का वादा किया था लेकिन अबतक कुछ नहीं हुआ. दीदी ने कहा था कि वह सुंदरबन को नया जिला बनायेंगी लेकिन ऐसा नहीं किया गया. भाजपा के सत्ता में आने के सालभर के अंदर हम यह करेंगे.’’

केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि भाजपा, सत्तारूढ़ तृणमूल के ‘‘गुंडों और सिंडिकेट’’ का सामना करने को तैयार है. उन्होंने कहा, ‘‘ हमें तृणमूल के इस सिंडिकेट शासन को खत्म करना है. हम इस संस्कृति को खत्म करेंगे.’’

शाह के आरोपों का टीएमसी ने दिया जवाब 
शाह के आरोपों पर तृणमूल महासचिव पार्थ चटर्जी ने कहा कि केंद्र ने बमुश्किल पुनर्वास राशि दी. उन्होंने कहा, ‘‘ ऐसे में धन की हेराफेरी का प्रश्न ही कहां उठता है . झूठ, झूठ और बस झूठ , आप भाजपा जैसी जनविरोधी लोगों एवं बंगाल विरोधी पार्टी से यही आस कर सकते है. ऐसा जान पड़ता है कि आगामी चुनाव में हार भांपकर वे बौरा गये हैं.’’



बाद में शाह ने मेदिनीपुर इलाके में दो किलोमीटर तक रोडशो किया जहां 27 अप्रैल को मतदान है. उस दौरान भाजपा कार्यकर्ता ‘जय श्री राम ’, नरेंद्र मोदी जिंदाबाद और अमित शाह जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे.

पश्चिम बंगाल की 294 की सदस्यीय विधानसभा के लिए 27 मार्च से लेकर 29 अप्रैल के बीच आठ चरणों में मतदान होगा. मतगणना दो मई को की जाएगी.

(Disclaimer: यह खबर सीधे सिंडीकेट फीड से पब्लिश हुई है. इसे News18Hindi टीम ने संपादित नहीं किया है.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज