बंगाल BJP की मांग- अयोध्या भूमिपूजन पर 5 अगस्त का लॉकडाउन वापस ले ममता सरकार

बंगाल BJP की मांग- अयोध्या भूमिपूजन पर 5 अगस्त का लॉकडाउन वापस ले ममता सरकार
पांच अगस्‍त को अयोध्‍या राम मंदिर का भूमि पूजन होने जा रहा है.

बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष (Bengal BJP Chief Dilip Ghosh) ने कहा कि यह निर्णय (लॉकडाउन के लिए पांच अगस्त का चयन) सत्ताधारी पार्टी की पश्चिम बंगाल को बांग्लादेश (Bangladesh) में तब्दील करने की रणनीति दिखाता है

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 3, 2020, 8:47 PM IST
  • Share this:
कोलकाता. पश्चिम बंगाल भाजपा (West Bengal BJP) ने आरोप लगाया कि राज्य की तृणमूल कांग्रेस सरकार (Trinamool Congress Government) ने पांच अगस्त को लॉकडाउन (Lockdown) के लिए चुना है क्योंकि उसी दिन अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर निर्माण (Ram Mandir) के लिए भूमिपूजन होना निर्धारित है. पार्टी ने मांग की कि तृणमूल कांग्रेस मंत्रिमंडल लॉकडाउन की इस तिथि को बदल दे जैसा उसने ईद त्योहार के लिए किया था.

बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष (Bengal BJP Chief Dilip Ghosh) ने कहा कि यह निर्णय (लॉकडाउन के लिए पांच अगस्त का चयन) सत्ताधारी पार्टी की पश्चिम बंगाल को बांग्लादेश (Bangladesh) में तब्दील करने की रणनीति दिखाता है. उन्होंने तिथि में बदलाव की मांग की जिस तरह से एक अगस्त को ईद (Eid) त्योहार को ध्यान में रखते हुए किया गया था ताकि राज्य के लोग देशवासियों के साथ राम मंदिर भूमि पूजन का जश्न मना सकें. घोष ने कहा, ‘‘हमें ईद के चलते लॉकडाउन की तिथि बदलने के राज्य सरकार के निर्णय से कोई समस्या नहीं हुई. इसी तरह से राम मंदिर निर्माण को लेकर हिंदुओं की भावना को नजरंदाज नहीं किया जाना चाहिए.’’

इन दिनों में बंगाल में रहेगा लॉकडाउन
राज्य सरकार ने पहले कोविड-19 संक्रमण की श्रृंखला को तोड़ने के लिए पूर्ण बंदी के लिए महीने में अन्य तारीखों के साथ दो अगस्त का भी चयन किया था, लेकिन इसे (रविवार को) बाद में त्योहार को ध्यान में रखते हुए इस सूची से बाहर कर दिया गया था. पश्चिम बंगाल सरकार ने लॉकडाउन की तारीखों में फिर से बदलाव किया है जिसके बाद अब बुधवार 5 अगस्त, शनिवार 8 अगस्त, गुरुवार 20 अगस्त, शुक्रवार 21 अगस्त, गुरुवार 27 अगस्त; शुक्रवार 28 अगस्त और सोमवार 31 अगस्त को वायरस के तेजी से प्रसार पर रोक के लिए  पूर्ण लॉकडाउन रहेगा.
ये भी पढ़ें- भारत ने लद्दाख में सेना बढ़ाई, चीनी खतरे से निपटने को भारी टैंकों की तैनाती



भाजपा नेता ने कहा, ‘‘पांच अगस्त को लॉकडाउन के चलते उन लोगों के लिए उपयुक्त माहौल नहीं मिल पाएगा जो अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन के ऐतिहासिक दिन को मनाना चाहते हैं. तृणमूल कांग्रेस सरकार की यह मानसिकता पश्चिम बंगाल को बांग्लादेश में बदलने की उसकी रणनीति को प्रतिबिंबित करती है.’’

तृणमूल कांग्रेस ने आरोपों को बताया आधारहीन
तृणमूल कांग्रेस नेतृत्व ने भाजपा के कथनों को 'आधारहीन' करार दिया और उससे कोविड-19 महामारी के बीच सांप्रदायिक राजनीति से दूर रहने का आग्रह किया.

तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं मंत्री फिरहद हकीम ने कहा, ‘‘सभी को यह ध्यान रखना चाहिए कि कोविड-19 महामारी ने बंगाल और पूरे देश को प्रभावित किया है. यह सांप्रदायिक राजनीति को आगे बढ़ाने का समय नहीं है. बंगाल में, हमने सभी धर्मों और संस्कृतियों के बीच दशकों से सद्भाव और भाईचारे को देखा है, हमें इसे खराब नहीं करना चाहिए.’’
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज