ऑनलाइन सुनवाई में दिक्कत आई तो रात में ही कोर्ट पहुंचे जज, मेजर को सेना की कस्टडी में भेजा

कोर्ट ने मेजर को दहेज उत्पीड़न के आरोप में सैन्य हिरासत में भेजा.
कोर्ट ने मेजर को दहेज उत्पीड़न के आरोप में सैन्य हिरासत में भेजा.

वीडियो कॉन्फ्रेंस (Video Conference) के जरिए सुनवाई में दिक्कत आने के बाद जज करीब 10 बजे अदालत पहुंचे और मामले की सुनवाई रात करीब डेढ़ बजे तक चलती रही. सुनवाई के बाद कोर्ट ने मेजर को जेल की बजाय सैन्य हिरासत में भेजने का आदेश दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 10, 2020, 9:29 AM IST
  • Share this:
भुवनेश्वर. भुवनेश्वर (Bhubaneswar) की एक अदालत (Court) में गुरुवार को आधी रात हुई सुनवाई के दौरान दहेज उत्पीड़न (Dowry Harassment) के आरोप में गिरफ्तार मेजर (Major) को सैन्य हिरासत (Military Custody) में भेज दिया गया. जानकारी के मुताबिक इस केस को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए सुना जाना था, लेकिन ऑनलाइन सुनवाई में दिक्कत आने के कारण उपमंडलीय न्यायिक दंडाधिकारी एसके मिश्रा रात करीब 10 बजे अदालत पहुंचे और मामले की सुनवाई रात करीब डेढ़ बजे तक चलती रही. सुनवाई के दौरान न्यायाधीश ने आदेश दिया कि गिरफ्तार किए गए मेजर को जेल की बजाय सैन्य हिरासत में भेजा जाए.

बता दें कि मेजर को दहेज के लिए पत्नी को शारीरिक और मानसिक तौर पर प्र​ताड़ित करने और हत्या की कोशिश के आरोप में गिरफ्तार किया गया था. सेना के अधिकारी के खिलाफ पुलिस थाने में दहेज रोकथाम कानून एवं आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है. मेजर पर आरोप है कि उसने अपनी पत्नी को मारापीटा और धमकी दी कि अगर वह अपने घर से दहेज लेकर नहीं आई तो वह उसे गोली मार देगा.

इसे भी पढ़ें :- यूपी की जेल में सबसे ज्यादा इंजीनियर और पोस्ट-ग्रैजुएट, महाराष्ट्र दूसरे स्थान पर
बता दें कि इस मामले में प​त्नी ने पहले भी मेजर की शिकायत की थी लेकिन उस समय आपसी सहमति के बाद मामले को सुलझा लिया गया था. हालांकि इसके बाद भी मेजर के व्यवहार में कोई बदलाव नहीं आया और वह पत्नी को प्रताड़ित करता रहा. पुलिस ने मेजर को इस संबंध में पहले नोटिस दिया था, लेकिन उसने जवाब नहीं दिया. इसके बाद कार्रवाई करते हुए पुलिस ने गुरुवार को मेजर को गिरफ्तार कर लिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज