बघेल ने PM मोदी को लिखा पत्र, केंद्र एवं राज्य सरकारों से कोरोना वैक्सीन की समान दर ली जाए

बघेल ने कहा, केन्द्र और राज्य सरकारें दोनों ही नागरिकों से करों के माध्यम से आय अर्जित करती है इसलिए टीके की दर समान होना न्यायोचित होगा.

बघेल ने कहा, केन्द्र और राज्य सरकारें दोनों ही नागरिकों से करों के माध्यम से आय अर्जित करती है इसलिए टीके की दर समान होना न्यायोचित होगा.

Corona vaccine: मुख्यमंत्री ने पत्र में अनुरोध किया है कि केन्द्र और राज्य सरकारों से समान दरें ली जाएं. बघेल ने कहा है कि को-वैक्सीन भारत सरकार के सहयोग से विकसित की गयी है, इसलिए भारत बायोटेक द्वारा “सीरम” की तुलना में कम दरों पर वैक्सीन की आपूर्ति की जाए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 23, 2021, 2:00 AM IST
  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर यह सुनिश्चित करने का अनुरोध किया है कि कोरोना रोधी टीका केंद्र और राज्य सरकारों से समान दर पर मिले.

राज्य के जनसंपर्क विभाग के अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को बताया कि मुख्यमंत्री बघेल ने प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखकर जानकारी दी है कि 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों के एक मई से टीकाकरण की घोषणा के बाद राज्य सरकार ने यह निर्णय लिया है कि 18 वर्ष से अधिक आयु वाले सभी नागरिकों के लिए टीके की व्यवस्था राज्य सरकार द्वारा निःशुल्क की जाएगी.

बघेल ने पत्र में लिखा है कि बड़े पैमाने पर टीकाकरण कार्यक्रम संचालित करने के लिए वृहद कार्य योजना तैयार करना जरूरी है. उन्होंने कहा कि एक मई में नौ दिनों से भी कम समय शेष है, इसलिए भारत सरकार की ओर से राज्य को माहवार प्रदान किये जाने वाले टीकों की संख्या, सीरम इंस्टीट्यूट और भारत बायोटेक द्वारा राज्य को माहवार उपलब्ध कराये जाने वाले टीकों की अनुमानित संख्या तथा सीरम इंस्टीट्यूट और भारत बायोटेक द्वारा केन्द्र तथा राज्य सरकार को उपलब्ध कराई जाने वाले टीकों की दरों के संबंध में भारत सरकार से त्वरित जानकारी अपेक्षित है.


मुख्यमंत्री ने पत्र में अनुरोध किया है कि केन्द्र और राज्य सरकारों से समान दरें ली जाएं. बघेल ने कहा है कि को-वैक्सीन भारत सरकार के सहयोग से विकसित की गयी है, इसलिए भारत बायोटेक द्वारा “सीरम” की तुलना में कम दरों पर वैक्सीन की आपूर्ति की जाए. चूंकि केन्द्र और राज्य सरकारें दोनों ही नागरिकों से करों के माध्यम से आय अर्जित करती है इसलिए टीके की दर समान होना न्यायोचित होगा.

ये भी पढ़ेंः- कर्फ्यू में गर्लफ्रेंड से मिलने के लिए शख्स ने लगाई मुंबई पुलिस से गुहार, मिला दिलचस्प जवाब

बघेल ने प्रधानमंत्री मोदी से अनुरोध किया है कि राज्य को जल्द जानकारी उपलब्ध कराई जाए जिससे राज्य सरकार इसके लिए आवश्यक बजट व्यवस्था, तकनीकी कर्मचारियों के प्रशिक्षण और अन्य आवश्यक तैयारी कर सके. साथ ही एक मई से ही राज्य में टीकाकरण का अभियान आरंभ किया जा सके तथा निर्धारित समयावधि में सभी पात्र नागरिकों के टीकाकरण का कार्य पूर्ण किया जा सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज