आंध्र प्रदेश सरकार का बड़ा फैसला, 5 साल से अधिक की सज़ा काट चुकीं महिला कैदियों को किया जाएगा रिहा

आंध्र प्रदेश की जेल में बंद 55 महिला कैदी होंगी रिहा.
आंध्र प्रदेश की जेल में बंद 55 महिला कैदी होंगी रिहा.

आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) सरकार की ओर से बताया गया है कि राज्य में 147 महिला कैदी (Female Prisoners) आजीवन कारावास (Life Imprisonment) की सजा काट रही हैं, इनमें से 55 को अगले सप्ताह रिहा कर दिया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 7, 2020, 8:43 AM IST
  • Share this:
अमरावती. आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) के जगन मोहन रेड्डी सरकार ने जेल में बंद आजीवन सजा काट रहीं 55 महिला कैदियों (Female Prisoners) को दीपावली पर बड़ा तोहफा दिया है. आंध्र प्रदेश रकार ने राज्य की सभी जेलों में पांच साल से अधिक समय से बंद महिलाओं को रिहा (Release) करने का फैसला किया है. बता दें कि राज्य में 147 महिला कैदी आजीवन कारावास (Life Imprisonment) की सजा काट रही हैं. इन महिला कैदियों में से 55 को अगले सप्ताह रिहा कर दिया जाएगा.

राज्य की गृहमंत्री मेकथोती सुचरिता ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि आंध्र प्रदेश सरकार ने जेल में पांच साल से अधिक वक्त से बंद महिला कैदियों पर बड़ा कदम उठाते हुए उन्हें जेल से रिहा करने का फैसला लिया है. सुचरिता ने बताया कि सरकार ने ये फैसला मानवीय आधार पर लिया है. सरकार की ओर से जानकारी दी गई है कि महिला कैदियों को अगले सप्ताह रिहा करने का काम शुरू किया जाएगा.


सरकार के इस फैसले से 55 महिला कैदी इस बार की दीपावली अपने परिवार के साथ मना सकेंगी. मेकथोती सुचरिता ने बताया कि राजामहेंद्रवरम की जेल में बंद 21 महिला कैदियों, कडप्पा की जेल से 27 और विशाखापट्टनम की सेंट्रल जेल से 2 जबकि नेल्लोर की सेंट्रल जेल से 5 महिला कैदियों को रिहा किया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज