बिहार चुनाव: अररिया रैली में बोले मोदी- बिहार ने डबल युवराज को नकारा, फिर बनेगी NDA सरकार

अररिया के बाद पीएम मोदी 12:30 बजे सहरसा में जनसभा करेंगे.
अररिया के बाद पीएम मोदी 12:30 बजे सहरसा में जनसभा करेंगे.

Bihar Assembly Election 2020: पीएम मोदी ने अररिया के फरबिसगंज रैली में कहा- 'अगर बिहार में पहले जैसे ही हालात होते, तो सच मानिए, गरीब मां का ये बेटा कभी प्रधानमंत्री नहीं बन पाता, आपका प्रधान सेवक नहीं बन पाता.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 3, 2020, 10:36 PM IST
  • Share this:
Bihar Assembly Election 2020: बिहार विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के तहत आज 17 जिलों की 94 विधानसभा सीटों पर मतदान हो रहा है. रैली और जनसभाओं का दौर अब तीसरे चरण के चुनाव को लेकर शुरू होने जा रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने अररिया के फारबिसगंज में पहली रैली को संबोधित किया. इस दौरान पीएम मोदी ने बिहार में एनडीए की दोबारा सरकार बनने की उम्मीद जताई. पीएम मोदी ने कहा कि बिहार के लोगों ने जंगलराज और डबल युवराज को सिरे से नकार दिया है. अररिया के बाद पीएम मोदी 12:30 बजे सहरसा में जनसभा करेंगे. तीसरे चरण के लिए 7 नवंबर को कुल 78 सीटों पर वोट डाले जाएंगे.



पढ़ें अररिया रैली में पीएम मोदी के भाषण की खास बातें:-
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, 'आज बिहार के लोगों ने देश ही नहीं पूरे विश्व को संदेश दिया है. जब कोरोना की वजह से दुनिया में हड़कंप मचा है, लेकिन बिहार के लोग उत्साह के साथ वोटिंग कर रहे हैं, ऐसे में लोगों को विचार करना चाहिए.'
मोदी ने कहा, 'पहले चरण के मतदान के बाद एक बात साफ है बिहार की जनता ने डंके की चोट पर संदेश दे दिया है, बिहार में फिर एक बार एनडीए की सरकार बनने जा रही है. बिहार के लोगों ने जंगलराज और डबल युवराज को सिरे से नकार दिया है.'
पीएम मोदी ने कहा- 'आज एनडीए के विरोध में जो खड़े हैं वो इतना कुछ खाने के बाद फिर बिहार को लालच की नजरों से देख रहे हैं. बिहार के लोगों को पता है कि कौन राज्य का विकास करेगा और कौन परिवार का विकास करेगा.'
मोदी ने कहा- 'अगर बिहार में पहले जैसे ही हालात होते, तो सच मानिए, गरीब मां का ये बेटा कभी प्रधानमंत्री नहीं बन पाता, आपका प्रधान सेवक नहीं बन पाता. आज जब गरीब को अपना अधिकार मिला है, तो वो उसने देश की राजनीति की दिशा तय करने की कमान भी खुद संभाल ली है.'
मोदी ने कहा, 'बिहार अब उन लोगों को पहचान चुका है जिनका एकमात्र सपना है कि किसी तरह लोगों को डराकर, अफवाह फैलाकर, लोगों को बांटकर किसी भी तरह से सत्ता हथिया लेना है. इनकी तो बरसों से यही सोच है, इन्होंने यही देखा है, यही समझा है, यही सीखा है.'
पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने झूठ बोलकर देश को सपना दिखाया था, कांग्रेस वाले पहले बोलते थे गरीबी हटाएंगे, किसानों का कर्ज माफ करेंगे, OROP लागू करेंगे. कांग्रेस ने बातें बहुत की, लेकिन एक भी काम नहीं किया. आज कांग्रेस की हालत ऐसी है कि लोकसभा और राज्यसभा दोनों को मिला दें तो कांग्रेस के पास सौ सांसद भी नहीं है.
पीएम मोदी ने कहा, 'मेरा गरीब भाई अब दवाई के बिना, डॉक्टर के बिना, अस्पताल के बिना जिंदगी और मौत के बीच जूझता नहीं रहेगा. सरकार आयुष्मान भारत योजना के तहत गरीबों के लिए हर साल 5-5 लाख रुपये तक का खर्चा खुद उठा रही है.'
प्रधानमंत्री ने कहा, 'बीते दशक में जंगलराज के प्रभावों को कम किया गया. अब ये दशक बिहार की नई उड़ान का है, नई संभावनाओं का है. बिहार को जब फिर इस बार डबल इंजन की ताकत मिलेगी, तो यहां का विकास पहले से भी तेज गति से होगा.'
पीएम मोदी ने कहा कि कुछ लोग सिर्फ गरीब-गरीब नाम की माला जपते हैं और अपना महल बनाते हैं. कुछ लोग सिर्फ अपने कुनबे के लिए करते हैं. पीएम ने कहा कि ये लोग आपका दर्द नहीं समझ सकते हैं. पीएम ने कहा कि दशकों पहले कोसी पर जब पुल टूटा तो फिर बन नहीं पाया था, लेकिन हमारी सरकार ने इसे पूरा किया.
मोदी ने कहा-'बिहार वो दिन भूल नहीं सकता, जब चुनाव को इन लोगों ने मजाक बनाकर रख दिया था. इन के लिए चुनाव का मतलब था- चारों तरफ हिंसा, हत्याएं, बूथ कैप्चरिंग. बिहार के गरीबों से इन लोगों ने वोट देने तक का अधिकार छीन रखा था. बिहार में गरीब को सही मायनों में मतदान का अधिकार एनडीए ने दिया है.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज