बिहार चुनाव 2020: अकेले चुनाव लड़ने के फैसले के बाद LJP का दावा- BJP के साथ मिलकर बनाएंगे सरकार

सूत्रों ने बताया कि लोजपा सीटों के बंटवारे की व्यवस्था में उसे पेशकश की गई सीटों को लेकर भी नाखुश है  (ANI)
सूत्रों ने बताया कि लोजपा सीटों के बंटवारे की व्यवस्था में उसे पेशकश की गई सीटों को लेकर भी नाखुश है (ANI)

Bihar Assembly Election 2020: बिहार विधानसभा चुनावों में लोक जनशक्ति पार्टी ने अकेले चुनाव लड़ने का फैसला किया है. एलजेपी ने कहा कि उसने ये फैसला जेडीयू के संग वैचारिक मतभेदों के चलते लिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 5, 2020, 12:43 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश के सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (National Democratic Alliance) की सहयोगी लोक जनशक्ति पार्टी (Lok Janshakti Party) ने बिहार (Bihar) में एनडीए के तहत जनता दल यूनाइटेड (Janta Dal United) के साथ चुनाव न लड़ने का फैसला किया है. पार्टी ने इस फैसले का कारण वैचारिक मतभेदों को बताया है. इस फैसले के बाद लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव अब्दुल खालिक ने कहा कि राष्ट्रीय स्तर और लोकसभा चुनाव में भाजपा, लोक जनशक्ति पार्टी का मजबूत गठबंधन है. राजकीय स्तर पर और विधानसभा चुनाव में गठबंधन में मौजूद जनता दल (यूनाइटेड) से वैचारिक मतभेदों के कारण बिहार में लोक जनशक्ति पार्टी ने गठबंधन से अलग चुनाव लड़ने का फैसला किया है.

खालिक ने आगे कहा कि चुनाव परिणामों के उपरांत लोक जनशक्ति पार्टी के तमाम जीते हुए विधायक प्रधानमंत्री मोदी (PM Narendra Modi) के विकास मार्ग के साथ रहकर भाजपा-लोजपा सरकार बनाएंगे. लोक जनशक्ति पार्टी ने रविवार को दिल्ली में पार्टी की केंद्रीय संसदीय बोर्ड की बैठक बुलाई थी जिसमें यह फैसला किया गया है. बता दें शनिवार को चिराग पासवान ने एक ट्वीट किया था जिसने इन अटकलों को बढ़ा दिया था कि लोजपा एनडीए के तहत राज्य का विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेगी.

ये भी पढ़ें- जुलाई 2021 तक 25 करोड़ लोगों को कोरोना वैक्सीन मुहैया कराएगी सरकार: हर्षवर्धन



चिराग पासवान ने शनिवार को किया था ये ट्वीट
चिराग पासवान ने अपनी पार्टी के ‘बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट’ दृष्टि पत्र के लिए शनिवार को लोगों का ‘‘आशीर्वाद’’ मांगा था. चिराग पासवान ने एक बयान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए कहा था कि उनकी पार्टी (लोजपा) के सभी उम्मीदवार प्रधानमंत्री के हाथ मजबूत करेंगे. दृष्टि पत्र को मोदी से प्रेरित बताते हुए पासवान ने पहले ही साफ कर दिया था कि उन्हें बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली पार्टी जद(यू) से शिकायत है.

लोजपा सूत्रों ने बताया कि पार्टी बिहार की 243 सदस्यीय विधानसभा में 143 सीटों पर चुनाव लड़ सकती है और भाजपा उम्मीदवारों के खिलाफ वह अपना उम्मीदवार नहीं उतारेगी. चिराग पासवान ने गुरुवार को भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की थी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से भी बात की थी क्योंकि भाजपा नेतृत्व गठबंधन को बनाए रखना चाहता है.

सूत्रों ने बताया कि लोजपा सीटों के बंटवारे की व्यवस्था में उसे पेशकश की गई सीटों को लेकर भी नाखुश है और वह जद(यू) की चुनावी संभावनाओं को नुकसान पहुंचाने की उम्मीद कर रही है.

बिहार में तीन चरणों में 28 अक्टूबर, तीन नंवबर और सात नवंबर को मतदान होगा, जबकि 10 नवंबर को मतगणना होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज