बिहार विधानसभा चुनाव नतीजे: AIMIM को कांग्रेस ने बताया वोटकटवा, कहा- सेक्युलर पार्टियां ओवैसी से सावधान रहें

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने एआईएमआईएम को वोटकटवा पार्टी बताया है (फाइल फोटो)
कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने एआईएमआईएम को वोटकटवा पार्टी बताया है (फाइल फोटो)

Bihar Assembly Elections Results 2020: बिहार चुनाव में एनडीए को मिल रहे बहुमत को देखने के बाद कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी (Adhir Ranjan Chowdhury) ने कहा कि सभी सेक्युलर पार्टियों को वोट कटवा ओवैसी साहब से सावधान रहना चाहिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 10, 2020, 6:11 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बिहार विधानसभा चुनाव के रुझानों और शुरुआती नतीजों (Bihar Assembly Election Results) को देखने के बाद लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी (Adhir Ranjan Chowdhury) ने असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (All India Majlis-e-Ittehadul Muslimeen)को वोटकटवा करार देते हुए उन्हें बीजेपी (BJP) का सहयोगी बताया है. कांग्रेस नेता अधीर रंजन ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janta Party) का असदुद्दीन ओवैसी साहब की पार्टी का इस्तेमाल करना काफी हद तक उनके लिए फायदेमंद साबित हुआ है. चौधरी ने कहा कि सभी सेक्युलर पार्टियों को वोट कटवा ओवैसी साहब से सावधान रहना चाहिए.

अब तक के नतीजों के मुताबिक बिहार में फिलहाल दो सीटों पर एआईएमआईएम के उम्मीदवारों ने जीत दर्ज कर ली है.  एआईएमआईएम ने बिहार की 20 सीटों पर अपने प्रत्याशी मैदान में उतारे थे, जिनमें से 14 उम्मीदवार सीमांचल इलाके की सीटों पर हैं. सीमांचल में किशनगंज, अररिया, पूर्णिया और कटिहार जिले आते हैं, जहां कुल 24 विधानसभा सीटें है. यह सीटें-नरपतगंज, रानीगंज, फारबिसगंज, अररिया, सिकटी, जोकीहाट, कटिहार, कदवा, बलरामपुर, प्राणपुर, मनिहारी, बरारी, कोढा, हादुरगंज, ठाकुरगंज, किशनगंज, कोचाधामन, कस्बा, बनमनखी, रुपौली, धमदाहा, पूर्णिया, अमौर और बैसी हैं.

ये भी पढ़ें- कहीं 60 तो कहीं 70 वोटों का अंतर, इन 7 सीटों ने बढ़ाई NDA-महागठबंधन की धड़कन



एनडीए को मिलता दिख रहा बहुमत
बिहार विधानसभा चुनाव के मतगणना के रुझानों के अनुसार 243 सीटों में से राजग 126 सीटों पर आगे चल रहा है और भाजपा गठबंधन में अपनी सहयोगी पार्टी नीतीश कुमार की जदयू से बेहतर प्रदर्शन करती दिख रही है. भारत निर्वाचन आयोग के आंकड़ों के अनुसार, विपक्षी महागठबंधन 102 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है. मतगणना के रुझानों के मुताबिक, सत्तारूढ़ राजग बहुमत के आंकड़े को हासिल करता दिख रहा है.

भारत निर्वाचन आयोग की वेबसाइट के अनुसार मतगणना के रुझानों में भाजपा 73 सीटों पर आगे चल रही है जबकि सहयोगी जदयू 47 सीट, हम पार्टी एक सीट और वीआईपी पार्टी 5 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है. महागठबंधन से राजद 68 सीटों पर आगे चल रही है जबकि कांग्रेस 20 सीट, माकपा 3 सीट, भाकपा-माले 12 सीट, भाकपा 3 सीटों पर पर आगे चल रही है. बहुजन समाज पार्टी दो सीट पर आगे चल रही है. असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम 2 सीट पर आगे चल रही है. निर्दलीय 4 सीटों पर आगे चल रहे हैं.

ये भी पढ़ें- पुष्पम प्रिया बोलीं- EVM हैक कर उनकी पार्टी के वोट NDA को ट्रांसफर किए गए

राजग से अलग होकर चुनाव लड़ने वाली चिराग पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी सिर्फ दो सीटों पर बढ़त बनाए हुए है. लोजपा ने चुनाव में जदयू के उम्मीदवारों के मुकाबले अपने उम्मीदवार खड़े किये थे.

भाजपा और जदयू गठबंधन को अब तक 35.43 प्रतिशत वोट हासिल हुए हैं जबकि राजद-कांग्रेस महागठबंधन को 32.13 प्रतिशत वोट मिले हैं. बहरहाल, चुनाव आयोग के सूत्रों ने बतया कि कोविड-19 के कारण इस बार मतदान केंद्रों की संख्या बढ़ायी गई थी और मतगणना लंबा खींच सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज