Bihar Chunav Results 2020: हिलसा 12, बरबीघा में 113, इन 6 सीटों पर 500 से कम वोटों के अंतर से हुआ जीत का फैसला

कई सीटों पर तो देर रात तक जोरदार टक्कर चलती रही.
कई सीटों पर तो देर रात तक जोरदार टक्कर चलती रही.

Bihar Chunav Results 2020: कई नेताओं ने तो बड़ी जीत दर्ज की. लेकिन कई सीटों पर उम्मीदवारों की सांसे अटक गई. आखिरी लम्हों पर जीत का फैसला हुआ.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 11, 2020, 2:54 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बिहार में एक बार फिर से नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की सरकार बनने जा रही है. NDA गठबंधन को 125 सीटों पर जीत मिली है, जबकि महागठबंधन को 110 सीटों से संतोष करना पड़ा है. बिहार में इस बार दोनों गठबंधन के बीच ज़ोरदार टक्कर देखने को मिली. एग्जिट पोल में राजनीतिक पंडितों ने तेजस्वी यादव को बिहार का अगला मुख्यमंत्री बताया था, लेकिन मंगलवार को जब गिनती शुरू हुई तो पासा पलट गया. एनडीए ने एक बार फिर से बाज़ी मार ली, लेकिन इस बार के चुनावी नतीजे किसी क्रिकेट मैच की तरह थे, जहां हर पल नतीजे बदल रहे थे. कभी नीतीश का पलड़ा भारी तो कभी तेजस्वी का वार. कई सीटों पर तो देर रात तक जोरदार टक्कर चलती रही. लिहाजा 6 सीटों पर तो 500 से कम वोटों के अंतर से विजेता का फैसला हुआ.

रोमांचक मुकाबला
बिहार में कई नेताओं ने तो बड़ी जीत दर्ज की, लेकिन कई सीटों पर उम्मीदवारों की सांसें आखिरी वक्त तक अटकी रहीं. आखिरी लम्हों पर जीत का फैसला हुआ. आईए एक नजर डालते हैं उन सीटों पर जहां 500 से कम के अंतर से जीत मिली.

1. हिलसा: 12 वोट से जीत का फैसला
इस बार बिहार में सबसे दिलचस्प मुकाबला हिलसा की सीट पर देखने को मिली. यहां हर राउंड के बाद बाज़ी बलट रही थी. RJD के अत्रि मुनि उर्फ शक्ति सिंह यादव और JDU के कृष्णमुरारी शरण उर्फ प्रेम मुखिया के बीच ज़ोरदार टक्कर देखने को मिली. आखिरकार जब फैसला आया तो बाजी प्रेम मुखिया ने मार ली. उन्हें महज 12 वोटों से जीत मिली. शक्ति सिंह को 61836 वोट मिले, जबकि प्रेम मुखिया के खाते में 61848 वोट आए. हालांकि नतीजे आने के बाद RJD ने चुनाव आयोग से धांधली की शिकायत की है.



2.बरबीघा: 113 वोट से जीत का फैसला
बिहार के शेखपुरा ज़िले के बरबीघा में भी इस बार JDU और कांग्रेस के बीच ज़ोरदार टक्कर देखने को मिली. गिनती के दौरान भारी उतार-चढ़ाव के बीच आखिरकार JDU के सुदर्शन कुमार को सिर्फ 113 वोटों से जीत मिली. सुदर्शन के खाते में कुल 39878 वोट आए, जबकि दूसरे नंबर पर रहने वाले गजानंद शाही को 39765 वोट मिले. नतीजे आने के बाद भी शाही हार मानने के लिए तैयार नहीं हैं.

3. मटिहानी: 333 वोटों से जीत का फैसला
मटिहानी विधानसभा सीट पर भी रोमांचक मुकाबला हुआ. यहां मैदान में थे JDU के नरेंद्र कुमार सिंह और CPI (M) के राज कुमार सिंह थे. कांटें के इस मुकाबले में बाज़ी राज कुमार सिंह ने मारी. उन्हें 61364 वोट मिले जबकि नरेंद्र कुमार सिर्फ 333 वोटों से पिछड़ गए. उन्हें कुल 61031 वोट मिले.



4. भोरे - 462 वोटों से जीत का फैसला
भोरे विधानसभा सीट बिहार के जिले के भोजपुर क्षेत्र में है. यहां टक्कर थी जनता दल यूनाइटेड के सुनील कुमार और CPI के जीतेंद्र पासवान के बीच. देर रात यहां सुनील कुमार को 462 वोटों से जीत मिल गई. सुनील कुमार को 74067 वोट मिले, जबकि दूसरे नंबर पर रहने वाले पासवान को 73605 वोटों से संतोष करना पड़ा.

5. डिहरी- 464 वोट से विजेता का फैसला
डिहरी विधानसभा सीट बिहार के जिले के भोजपुर क्षेत्र में आती है. यहां RJD के फतेह बहादूर सिंह को सिर्फ 464 वोटों से जीत मिली. दूसरे नंबर पर बीजेपी के सत्यनारायण सिंह रहे. फतेह बहादूर को 64567 वोट मिले. जबकि बीजेपी के उम्मीदवार को 64103 वोट मिले

ये भी पढ़ें:-Bihar Election 2020: लोजपा की एनडीए में वापसी मुश्किल, फ्लॉप शो के बाद आसान नहीं चिराग की राह

6. बछवाड़ा विधानसभा - 484 वोट से जीत
बछवाड़ा विधानसभा सीट पर भी सिर्फ 484 वोट से जीत का फैसला हुआ. बीजेपी के सुरेंद्र मेहता को यहां जीत मिली. उनके खाते में कुल 54738 वोट आए. जबकि दूसरे नंबर पर सीपीआई के आदेश कुमार राय रहे. उन्हें कुल 54254 वोट मिले.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज