Bihar Election 2020: सोनिया गांधी का बिहार के नाम संदेश, कहा- राज्य में बंदी सरकार, अब बदलाव की बयार

सोनिया गांधी (PTI)
सोनिया गांधी (PTI)

Bihar Election News: कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने कहा कि 'जब नागरिक किसी पार्टी को वोट देते हैं वह अपने अधिकार नही खो देते. भारत के लोग सिर्फ एक मतदाता नहीं हैं. सिर्फ वही राष्ट्र हैं. सरकारें उनकी सेवा करने के लिए मौजूद हैं, न कि उनमें अंतर पैदा करने के लिए.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 27, 2020, 10:16 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने बिहार चुनाव (Bihar Election 2020)  में महागठबंधन को जिताने की अपील की है. सोनिया ने करीब पांच मिनट का वीडियो जारी कर कहा है कि 'सत्ता के अहंकार में वर्तमान बिहार सरकार अपने रास्ते से भटक गई है. उनकी करनी और कथनी में भारी अंतर है. मजदूर असहाय हैं, किसान चिंतित हैं और युवा निराश हैं. जनता कांग्रेस के महागठबंधन के साथ है और यह बिहार का आह्वान है.'

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि दिल्ली-बिहार में बंदी सरकारें हैं, नोटबंदी-तालाबंदी, व्यापारबंदी, आर्थिकबंदी, खेत खलिहान बंदी, रोटी-रोजगार बंदी. इसलिए ऐसी बंदी सरकार के खिलाफ बिहार की जनता तैयार है और अब बदलाव की बयार है.

सोनिया गांधी ने कहा, 'निर्वाचित सरकार द्वारा राज्य मशीनरी का दुरुपयोग उन लोगों का अपमान है जिन्होंने सरकार को इसका इस्तेमाल करने की शक्ति दी.' रायबरेली सांसद ने कहा कि' लोकतंत्र में असंतोष नागरिकों की स्वतंत्रता को दर्शाता है. एक सरकार जो नागरिकों की राय के आधार पर अंतर करे वह तानाशाही के अलावा और कुछ नहीं है.'



सोनिया ने कहा कि 'सरकार के पक्षपाती एजेंडे के साथ ना चलने वाले, अपनी स्वतंत्रता, विचार और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का उपयोग करना, अपने अधिकारों और राष्ट्र की प्रगति के लिए मजबूत खड़े होना- आपको दूसरे दर्जे के नागरिक नहीं बनाता है. यह सच्चे राष्ट्रवादियों और देशभक्तों की विशेषताएं हैं.'
'सरकारें जनता की सेवा करने के लिए'
कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष ने कहा कि 'जब नागरिक किसी पार्टी को वोट देते हैं वह अपने अधिकार नही खो देते. भारत के लोग सिर्फ एक मतदाता नहीं हैं. सिर्फ वही राष्ट्र हैं. सरकारें उनकी सेवा करने के लिए मौजूद हैं, न कि उनमें अंतर पैदा करने के लिए.'

उन्होंने कहा कि 'भाजपा समाज के असंतुष्टों और सिविल सोसाइटीज के लोगों के साथ मतभेद रख सकती है. उन्हीं सिविल सोसाइटीज ने अक्सर कांग्रेस सरकारों के खिलाफ भी विरोध किया है.  लेकिन उन्हें सांप्रदायिक हिंसा को बढ़ावा देने वाले राष्ट्रविरोधी षड्यंत्रकारियों के रूप में चित्रित करना लोकतंत्र के लिए पूर्वाग्रही और बेहद खतरनाक है. '

बीजेपी सरकार पर सोनिया ने कहा- 'राज्य की शक्ति का उपयोग हमेशा सभी नागरिकों के हित में बिना किसी भेदभाव के  किया जाना चाहिए. राज्य मशीनरी का उपयोग राजनीतिक विरोधियों को चुनिंदा रूप से निशाना बनानेके लिए नहीं किया जाना चाहिए. मोदी सरकार ने मूल सिद्धांतों का लगातार उल्लंघन किया है.'

सोनिया के संदेश को ट्वीट करते हुए वायनाड सांसद राहुल गांधी ने लिखा कि - ' ‘बदलाव की बयार है.’ कांग्रेस अध्यक्ष  सोनिया गांधी जी का बिहार की जनता के नाम संदेश आपसे साझा कर रहा हूँ. नए बिहार के लिए एकजुट होकर महागठबंधन को जीताने का समय है.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज