Bihar Election Seat Sharing: जेपी नड्डा के घर से निकलें चिराग पासवान, शाह से सीट शेयरिंग पर हुई बातचीत!

जेपी नड्डा के घर से बाहर निकलते हुए चिराग पासवान (फोटो साभारः ANI)
जेपी नड्डा के घर से बाहर निकलते हुए चिराग पासवान (फोटो साभारः ANI)

Bihar Elections 2020: बुधवार को बीजेपी की ओर से केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के साथ मतभेद की खबरों पर पूर्ण विराम लगा दिया गया था. बीजेपी की ओर से जारी किए गए बयान में कहा गया था कि बिहार विधानसभा चुनाव राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के तीनों घटक दल साथ मिलकर लड़ा जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 1, 2020, 8:30 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. चुनाव आयोग ने बिहार विधानसभा चुनावों (Bihar Elections 2020) के लिए तारीखों का ऐलान कर दिया है. पहले चरण के मतदान के लिए नामांकन की प्रक्रिया भी गुरुवार से शुरू हो गई है. लेकिन इन सबके बीच गौर करने वाली बात ये है कि सभी राजनीति दलों में अब तक सीटों के बंटवारे को लेकर पेंच फंसा हुआ है. एक तरफ महागठबंधन है तो दूसरी तरफ एनडीए (NDA). हालांकि एनडीए की सभी पार्टियां आपस में बातचीत करके सीटों का पेंच सुलझाने में लगे हुई हैं. राज्य बीजेपी के अध्यक्ष संजय जायसवाल (Sanjay Jaiswal) ने पटना में कहा कि बैठकों का दौर जारी है. पटना में जारी बैठकों का दौर अब दिल्ली तक पहुंच गया है.

बिहार चुनाव में सीट शेयरिंग का मामला सुलझाने के लिए गृहमंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah), बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda ) से मिलने के लिए उनके आवास पर पहुंचे. अमित शाह के बाद नड्डा के घर पर बातचीत के लिए लोजपा नेता चिराग पासवान भी पहुंचे नड्डा और शाह के बीच किन-किन मुद्दों पर और क्या बातचीत हुई इसका खुलासा तो नहीं हो पाया है, लेकिन सूत्रों का कहना है कि लोजपा को लेकर बीजेपी के दोनों नेताओं के बीच बातचीत हुई है. सूत्रों का कहना है कि इन बैठकों के बाद बीजेपी 3 अक्टूबर को उम्मीदवारों के नाम का ऐलान कर सकती है.

नड्डा के घर से निकलें चिराग पासवान
अमित शाह और जेपी नड्डा से बातचीत करने के बाद लोजपा अध्यक्ष रामविलास पासवान के बेटे चिराग पासवान बाहर आ गए हैं. हालांकि इस दौरान तीनों नेताओं के बीच क्या बातचीत हुई इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है.




अमित शाह से मुलाकात से पहले जेपी नड्डा ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए एक बैठक की. इस बैठक में बिहार बीजेपी के प्रभारी भूपेंद्र यादव, बिहार बीजेपी अध्यक्ष संजय जायसवाल, राज्य के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी और अमित शाह शामिल हुए. इस बैठक के बाद भूपेंद्र यादव ने कहा, सभी घटक दलों से सीटों के तालमेल को लेकर बातचीत हो रही है और जल्द ही इस बारे में फैसला ले लिया जाएगा. यहां बता दें कि बीजेपी और लोजपा के अलावा जनता दल (यूनाइटेड) राजग के घटक दल हैं.

विकास कार्य के आधार पर लड़ेंगे चुनाव
प्रेस कॉन्फ्रेंस में भूपेंद्र यादव ने कहा, बिहार में विकास के कई काम हुए हैं और हम इसी आधार पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में विधानसभा चुनाव लड़ेंगे. बीजेपी, जद(यू) और लोजपा मजबूती के साथ चुनाव लड़ेंगे. जीतन राम मांझी, जिन्होंने जद(यू) से हाथ मिलाया है, वह भी साथ रहेंगे. इस दौरान यादव ने दावा किया कि एनडीए तीन-चौथाई बहुमत से दोबारा सत्ता में लौटेगी



लोजपा के साथ मतभेदों पर पूर्ण विराम
दरअसल, बुधवार को बीजेपी की ओर से केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के साथ मतभेद की खबरों पर पूर्ण विराम लगा दिया गया था. बीजेपी की ओर से जारी किए गए बयान में कहा गया था कि बिहार विधानसभा चुनाव राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के तीनों घटक दल साथ मिलकर लड़ा जाएगा. हालांकि चिराग पासवान पहले ही संकेत दे चुके हैं कि यदि सीटों का बंटवारा सही तरीके से नहीं होता है तो उनकी पार्टी अकेले ही 243 सीटों पर उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर सकती है. बता दें कि 2015 के विधानसभा चुनावों में भी लोजपा एनडीए गठबंधन का हिस्सा थी. पिछले विधानसभा चुनावों में लोजपा ने 42 सीटों पर चुनाव लड़ा था.

पहले चरण में 71 सीटों पर होगा मतदान
बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण में 243 में से 71 विधानसभा सीटों पर मतदान होना है. इसके लिए नामांकन की प्रक्रिया 1 अक्टूबर से 8 अक्टूबर तक चलेगी. पहले चरण के तहत 28 अक्टूबर को, दूसरे चरण के तहत तीन नवंबर को और तीसरे व अंतिम चरण के तहत सात नवंबर को मतदान होना है. मतगणना 10 नवंबर को होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज