असम और बिहार में बाढ़ से स्थिति भयावह, 40 लाख लोग हुए प्रभावित

असम और बिहार में बाढ़ से स्थिति भयावह, 40 लाख लोग हुए प्रभावित
प्राधिकरण ने बताया कि राज्य में 24.76 लाख से अधिक लोग बाढ़ से प्रभावित हैं. सर्वाधिक 4.7 लाख से अधिक लोग गोवालपारा में प्रभावित हैं

प्राधिकरण ने बताया कि राज्य में 24.76 लाख से अधिक लोग बाढ़ से प्रभावित हैं. सर्वाधिक 4.7 लाख से अधिक लोग गोवालपारा में प्रभावित हैं

  • Share this:
नई दिल्ली. असम (Assam) और बिहार (Bihar) में बाढ़ के हालात रविवार को अधिक गंभीर हो गए और बाढ़ के कारण पांच और लोगों की मौत हो गई. इन दो राज्यों में बाढ़ (Flood) से करीब 40 लाख लोग प्रभावित हैं. वहीं, दिल्ली के कुछ हिस्सों में बारिश हुई लेकिन पंजाब और हरियाणा में उमस भरा मौसम बना रहा. असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने अपनी बाढ़ संबंधी नियमित रिपोर्ट में बताया कि राज्य में पांच और लोगों की मौत बाढ़ के कारण हो गई है जिसके कारण 102 लोगों की मौत बाढ़ से जुड़ी घटनाओं में हो चुकी है तथा 26 लोगों की मौत भूस्खलन के कारण हुई.

प्राधिकरण ने बताया कि राज्य में 24.76 लाख से अधिक लोग बाढ़ से प्रभावित हैं. सर्वाधिक 4.7 लाख से अधिक लोग गोवालपारा में प्रभावित हैं. पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास के लिये केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने रविवार को असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल से बातचीत की और राज्य में आई बाढ़ से क्षतिग्रस्त हुए बुनियादी ढांचे की मरम्मत के लिये तथा सामान्य स्थिति बहाल करने में उन्हें केंद्र की ओर से हरसंभव मदद देने का आश्वासन दिया. केंद्रीय मंत्री ने यह भी कहा कि जिस भी मदद की आवश्यकता होगी, पूर्वोत्तर परिषद को यह मदद दी जायेगी.

बिहार में 14 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित



उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार असम, अरूणाचल प्रदेश और पूर्वोत्तर के अन्य बाढ़ प्रभावित राज्यों में लगातार निगरानी कर रही है. मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बाढ़ की स्थिति के बारे में व्यक्तिगत रूप से नियमित तौर पर जानकारी लेते हैं. बिहार के 11 जिलों की 14,95,132 लोगों की आबादी बाढ़ से प्रभावित है और 13,6,464 लोगों को सुरक्षित स्थानों तक पहुंचाया गया है. यहां कम से कम दस लोगों की मौत बाढ़ के कारण हुई. दरभंगा जिले में सबसे अधिक 12 प्रखंडों के 131 पंचायतों की 5,36,846 आबादी बाढ़ से प्रभावित हुई है.
जल संसाधन विभाग से प्राप्त जानकारी के मुताबिक बागमती नदी, बूढी गंडक, कमला बलान, लालबकिया, पुनपुन, अधवारा, खिरोई, महानंदा तथा घाघरा नदी विभिन्न स्थानों पर अब भी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है. रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि मुजफ्फरपुर-नरकटियागंज और समस्तीपुर-दरभंगा सेक्शन की कई रेलगाड़ियों का मार्ग बदलना पड़ा. बिहार के बाढ़ प्रभावित इन जिलों में बचाव और राहत कार्य चलाए जाने के लिए एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की कुल 25 टीमों की तैनाती की गयी है.

एनडीआरएफ की 9वीं बटालियन के कमांडेंट विजय सिन्हा ने बताया कि बाढ़ प्रभावित पूर्वी चंपारण जिले के बंजरिया प्रखंड अंतर्गत गोबरी गाँव में एनडीआरएफ की एक बचाव नौका पर एक बच्ची का जन्म हुआ जिसे बाद में एक एंबुलेंस के जरिए स्थानीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया गया. वायु सेना के हेलीकॉप्टरों द्वारा आज भी बाढ़ प्रभावित जिलों में खाने के पैकेट गिराए गए. दिल्ली तथा उत्तर प्रदेश में हल्की से मध्यम बारिश हुई.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को गोरखपुर के सहजनवा क्षेत्र में नदियों के बढ़ते जलस्तर के कारण जलमग्न क्षेत्रों की स्थिति का हवाई सर्वेक्षण किया. योगी ने बढ़ते जलस्तर के निरीक्षण के बाद अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि सभी बांध सुरक्षित रहें, इसके लिए तटबंधों की निरन्तर निगरानी की जाये. उन्होंने जिला प्रशासन को निर्देश दिया कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में नावों की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित की जाये.

दिल्ली में हुई हल्की बारिश

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार, मध्य दिल्ली, उत्तर-पूर्वी दिल्ली, शाहदरा, मुंडका, रोहिणी, बवाना और आस-पास के इलाकों में गरज के साथ हल्की से मध्यम बारिश हुई. मौसम विभाग ने कहा कि दिल्ली-राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में सोमवार तक छिटपुट बारिश जारी रहेगी. इसके बाद, मंगलवार और बुधवार को दिल्ली-एनसीआर सहित उत्तर-पश्चिम भारत में भारी बारिश की संभावना जताई गई है. पंजाब तथा हरियाणा में उमसभरा मौसम बना रहा, तापमान सामान्य रहा. चंडीगढ़ में तापमान सामान्य से दो डिग्री अधिक 35.4 डिग्री सेल्सियस रहा. पंजाब के पटियाला में तापमान सामान्य से तीन डिग्री अधिक 36.3 डिग्री सेल्सियस रहा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading