• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • जम्मू-कश्मीर में निवास का अधिकार पाने वाले पहले नौकरशाह बने बिहार के आईएएस अधिकारी

जम्मू-कश्मीर में निवास का अधिकार पाने वाले पहले नौकरशाह बने बिहार के आईएएस अधिकारी

बिहार के आईएएस अधिकारी बने जम्मू-कश्मीर में निवास का अधिकार पाने वाले पहले नौकरशाह

बिहार के आईएएस अधिकारी बने जम्मू-कश्मीर में निवास का अधिकार पाने वाले पहले नौकरशाह

Right of Residence in Jammu and Kashmir: वरिष्ठ आईएएस (IAS) अधिकारी नवीन कुमार चौधरी बिहार (Bihar) में दरभंगा जिले के रहने वाले हैं. जम्मू में बाहू क्षेत्र के तहसीलदार रोहित शर्मा ने चौधरी को 24 जून को निवास प्रमाणपत्र जारी किया.

  • Share this:
    जम्मू. बिहार (Bihar) के वरिष्ठ आईएएस (IAS) अधिकारी नवीन कुमार चौधरी केन्द्र शासित प्रदेश में निवास का अधिकार पाने वाले पहले नौकरशाह बन गए हैं. जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) कैडर के 1994 बैच के अधिकारी चौधरी फिलहाल कृषि उत्पादन विभाग में प्रधान सचिव के पद पर हैं. वह बिहार में दरभंगा जिले के रहने वाले हैं. जम्मू में बाहू क्षेत्र के तहसीलदार रोहित शर्मा ने चौधरी को 24 जून को निवास प्रमाणपत्र जारी किया.

    केन्द्र सरकार द्वारा केन्द्र शासित प्रदेश में विभिन्न श्रेणी के लोगों को निवास का अधिकार देने के लिए कानून में किए गए बदलावों के बाद 30 हजार से ज्यादा लोग ऑनलाइन जम्मू-कश्मीर का निवास प्रमाणपत्र ले चुके हैं. इस बीच, जम्मू-कश्मीर में निवास संबंधी नए कानून पर पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) ने आज 'कड़ा विरोध' दर्ज कराते हुए कहा कि केन्द्र सरकार के इन अप्रत्यक्ष तरीकों का मकसद केन्द्र शासित प्रदेश की जनसांख्यिकी में बदलाव करना है. पीडीपी ने आरोप लगाया कि केन्द्र का लक्ष्य जम्मू-कश्मीर के मुस्लिम बहुलता वाले राज्य की संरचना को बदलने का है, 'वह भी ऐसे समय में जब इस देश में सभी चीजों को धर्म के चश्मे से देखा जा रहा है.'

    ये भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर में सरकार के खिलाफ किशोरों को भर्ती करते हैं सशस्त्र समूह : अमेरिकी रिपोर्ट

    पीडीपी के प्रवक्ता ने एक बयान जारी करते हुए कहा, 'एजेंडा सामने आने के साथ ही यह स्पष्ट हो गया है कि उनकी मंशा जनसांख्यिकीय बदलाव करने की है, नौकरियां, प्राकृतिक संसाधन, सांस्कृतिक पहचान और वे सभी चीजें-जिन्हें कश्मीर के लोगों ने सुदृढ. संवैधानिक गारंटी के माध्यम से बचा कर रखा था, वह सभी उनके निशाने पर हैं.'

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज