लाइव टीवी

बिहार: डूबने की कगार पर है नवादा का ये गांव, प्रशासन ने शुरू किया रेस्क्यू

Anil Singh | News18 Bihar
Updated: October 5, 2019, 4:21 PM IST
बिहार: डूबने की कगार पर है नवादा का ये गांव, प्रशासन ने शुरू किया रेस्क्यू
नवादा के गोविंदपुर प्रखंड के बुधवारा गांव में घुसा बाढ़ का पानी.

नवादा (Nawada) के गोविंदपुर प्रखंड के बुधवारा गांव में बाढ़ (Flood) का पानी घुस गया. इससे हजारों लोगों के सामने घर छोड़कर भागने की समस्या पैदा हो गई है. लोगों का जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है.

  • Share this:
नवादा. इन दिनों बिहार में बाढ़ का कहर जारी है. एक शहर के बाद दूसरे शहर से बाढ़ की खबरें आ रही हैं. यहां कई गांव के गांव डूबने की कगार पर हैं. आम जनता तो दूर यहां के मंत्रियों के घरों तक में पानी भर गया है और उनको भी रेस्क्यू करना पड़ रहा है.

नवादा के गोविंदपुर प्रखंड के बुधवारा गांव में बाढ़ का पानी घुस गया है. इससे हजारों लोगों के सामने घर छोड़कर भागने की समस्या पैदा हो गई है. लोगों का जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है. शनिवार की सुबह भुसड़ी नदी का पानी गांव में प्रवेश कर गया और दिन- चढ़ने के साथ ही पानी भी बढ़ता गया. गांव में पानी भरने के कारण बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं.

पानी ने संभलने का मौका भी नहीं दिया
गांव में पानी इतनी तेजी से आया कि लोगों को संभलने का मौका भी नहीं मिला और जन जीवन अस्त-व्यस्त हो गया. बुधवारा गांव में पानी आने की सूचना पर गोविंदपुर वीडीयो एवं सीओ ने गांव का दौरा किया, जहां निचले इलाके के लोगों को वहां से ऊंचे स्थान पर ले जाया गया. इस दौरान गांव में कई कच्चे मकान बाढ़ से छतिग्रस्त हो गये. आगे की स्थिति को देखते हुए स्थानीय जिला प्रशासन ने गांव में कम्युनिटी किचन की शुरुआत की है, जिसमें लोग खाना खा सकेंगे.

Bihar, village of Nawada, verge of drowning,administration, starts rescue, बिहार, डूबने की कगार, नवादा का गांव, प्रशासन, रेस्क्यू शुरू
गांव में घुसा बाढ़ का पानी.


छपरा शहर में घुसा गंगा का पानी
पिछले दिनों छपरा के शहरी इलाके में गंगा की पानी घुस गया था. यहां शहर से सटे रूपगंज मोहल्ले में सड़क पर पानी भर गया था, जिससे आम लोगों की परेशानी गई थी. वहीं, पानी में जिस तरीके से लगातार वृद्धि हो रही है उससे लेकर आसपास के इलाके के लोग दहशत में हैं.
Loading...

गोपालगंज में बाढ़ की आशंका
गंडक के बढ़ते जलस्तर के साथ ही सदर प्रखंड के करीब एक दर्जन भर गांवों का जिला मुख्यालय से संर्पक टूट गया है. इलाके में नाव ही एकमात्र साधन है. रामनगर का हाई स्कूल, मिडिल स्कूल, प्राइमरी स्कूल पहले ही बाढ़ में डूब गया था.

(रिपोर्ट- अनिल)

ये भी पढ़ें-  बाढ़ में क्यों डूब गया पटना शहर? उच्चस्तरीय जांच करवाएगी बिहार सरकार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 5, 2019, 3:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...