पश्चिम बंगाल में मॉब लिंचिंग के खिलाफ विधेयक, दोषी साबित होने पर उम्रकैद

News18Hindi
Updated: August 30, 2019, 5:16 PM IST
पश्चिम बंगाल में मॉब लिंचिंग के खिलाफ विधेयक, दोषी साबित होने पर उम्रकैद
ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) की अगुवाई वाली तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) की सरकार ने मॉब लिंचिंग से जुड़ा विधेयक विधानसभा में पेश किया है.

ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) की अगुवाई वाली तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) की सरकार ने विधानसभा में शुक्रवार को Mob Lynching के खिलाफ विधेयक पेश किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 30, 2019, 5:16 PM IST
  • Share this:
पश्चिम बंगाल (West Bengal) विधानसभा में मॉब लिंचिंग (Mob Lynching) (भीड़ द्वारा की जाने वाली हत्या) के खिलाफ विधेयक पेश हुआ है. राज्य में ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) की अगुवाई वाली तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) की सरकार ने विधानसभा में शुक्रवार को विधेयक पेश किया है. इस विधेयक के अनुसार मॉब लिंचिंग के मामले में दोषी पाए जाने वाले शख्स को उम्रकैद की सजा होगी.

गौरतलब है कि राज्य में कई जगह अफवाहों के चलते हत्या के मामले सामने आ रहे हैं, जिनमें भीड़ शामिल होती है. लोग बच्चा चोर या किसी सांप्रदायिक मामले में हत्या कर देते हैं. हाल में राजस्थान सरकार ने भी मॉब लिंचिंग के खिलाफ कानून बनाया है. वहीं यूपी के स्टेट लॉ कमीशन ने सरकार को मॉब लिंचिंग की घटनाओं पर रोक लगाने के लिए कानून बनाने की सिफारिश की है.

कमीशन के चेयरमैन जस्टिस एएन मित्तल ने इसका मसौदा सीएम योगी आदित्यनाथ को सौंप दिया है. साल 2018 में सुप्रीम कोर्ट ने भी मॉब लिंचिंग को एक अलग अपराध बताते हुए अलग कानून की बात कही थी.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 30, 2019, 2:17 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...