COVID-19 के मद्देनजर सांसदों के वेतन में 30% कटौती करने वाला विधेयक लोकसभा में पेश

COVID-19 के मद्देनजर सांसदों के वेतन में 30% कटौती करने वाला विधेयक लोकसभा में पेश
संसद का मानसून सत्र शुरू हो गया है (लोकसभा की फाइल फोटो)

जोशी ने कहा कि वह संसद सदस्यों (Members of Parliament) के वेतन, भत्ता एवं पेशन अधिनियम 1954 में संशोधन करने का विधेयक पेश कर रहे हैं. इस अध्यादेश (Ordinance) को 6 अप्रैल को मंत्रिमंडल (The Cabinet) की मंजूरी मिली थी और यह 7 अप्रैल को लागू हुआ था.

  • भाषा
  • Last Updated: September 14, 2020, 9:56 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. लोकसभा (Lok Sabha) में सोमवार को सांसदों (MPs) के वेतन में एक वर्ष के लिये 30 प्रतिशत कटौती करने वाला एक विधेयक पेश किया गया जिसका उपयोग कोविड-19 महामारी (COVID-19 Pandemic) के कारण उत्पन्न स्थिति से मुकाबले के लिये किया जायेगा. संसदीय मामलों के मंत्री प्रह्लाद जोशी (Parliamentary Affairs Minister Pralhad Joshi) ने निचले सदन में संसद सदस्यों के वेतन, भत्ता एवं पेशन संशोधन विधेयक 2020 (Members of Parliament Amendment Bill, 2020) को पेश किया जो संसद सदस्यों के वेतन, भत्ता एवं पेशन अध्यादेश 2020 का स्थान लेगा.

जोशी ने कहा कि वह संसद सदस्यों (Members of Parliament) के वेतन, भत्ता एवं पेशन अधिनियम 1954 में संशोधन करने का विधेयक पेश कर रहे हैं. इस अध्यादेश (Ordinance) को 6 अप्रैल को मंत्रिमंडल (The Cabinet) की मंजूरी मिली थी और यह 7 अप्रैल को लागू हुआ था. अध्यादेश में कहा गया था कि कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) ने त्वरित राहत और सहायता के महत्व को प्रदर्शित किया है और इसलिये महामारी (Pandemic) को फैलने से रोकने के लिये कुछ आपात कदम उठाये जाने जरूरी हैं.

लोकसभा अध्यक्ष ने सदस्यों से बैठकर बोलने, सामाजिक दूरी बनाये रखने की अपील की
लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सोमवार को सदस्यों से कोरोना वायरस महामारी की अभूतपूर्व स्थिति के मद्देनजर अपनी सीट पर बैठ कर बोलने और सामाजिक दूरी के मानदंडों का पालन करने की अपील की. संसद का 18 दिवसीय मानसून सत्र सोमवार से शुरू हो गया और यह बिना किसी अवकाश के दो पालियों में चलेगा. सोमवार को सत्र के पहले दिन लोकसभा की बैठक सुबह 9 बजे से दोपहर 1 बजे तक चली और राज्यसभा की बैठक दोपहर बाद 3 बजे से शुरू हुई. मंगलवार से लोकसभा दोपहर बाद 3 बजे से शाम 7 बजे तक चलेगी और राज्यसभा की कार्यवाही सुबह 9 बजे से दोपहर 1 बजे तक होगी.




सूत्रों ने बताया कि आज लोकसभा में 359 सदस्यों ने कार्यवाही में हिस्सा लिया. लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि सामाजिक दूरी की अनुपालना के मद्देनजर लोकसभा के सदस्यों को उच्च सदन में बैठने की अनुमति देने और राज्यसभा के सदस्यों को निचले सदन में बैठना सुगम बनाने के लिये नियमों एवं प्रक्रियाओं में ढील दी गई है. उन्होंने कहा कि प्रक्रिया के हिस्से के तहत दोनों सदनों के चैम्बरों और दीर्घाओं को उस समय लोकसभा का हिस्सा माना जायेगा, जब इस सदन की कार्यवाही चल रही होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज