अपना शहर चुनें

States

देश के 12 राज्‍यों में बर्ड फ्लू, पक्षियों को मारने का अभियान जारी

 बर्ड फ्लू  (सांकेतिक तस्वीर)
बर्ड फ्लू (सांकेतिक तस्वीर)

‘‘19 जनवरी तक पांच राज्यों में कुक्कुट पक्षियों में और 10 राज्यों में कौओं, प्रवासी पक्षियों और वन्य पक्षियों में एवियन इन्फ्लुएंजा की पुष्टि हुई है.’’ उन सभी स्थानों पर निगरानी का काम जारी है जहां कौओं, प्रवासी और जंगली पक्षियों में संक्रमण का पता चला है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 20, 2021, 7:44 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्र सरकार ने मंगलवार को कहा कि देश के कुल 12 राज्यों में बर्ड फ्लू के मामलों की पुष्टि हुई है. इनमें छत्तीसगढ़, दिल्ली, महाराष्ट्र, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, केरल, राजस्थान, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, गुजरात और पंजाब शामिल हैं. कई स्थानों पर पक्षियों को मारने का अभियान जारी है. भारत में बर्ड फ्लू या एवियन इन्फ्लुएंजा मुख्य रूप से सितंबर से मार्च के बीच सर्दियों के मौसम में देश में आने वाले प्रवासी पक्षियों से फैलता है. बीमारी पक्षीजन्य है.

मत्स्यपालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय ने एक बयान में कहा, ‘‘19 जनवरी तक पांच राज्यों में कुक्कुट पक्षियों में और 10 राज्यों में कौओं, प्रवासी पक्षियों और वन्य पक्षियों में एवियन इन्फ्लुएंजा की पुष्टि हुई है.’’ उन सभी स्थानों पर निगरानी का काम जारी है जहां कौओं, प्रवासी और जंगली पक्षियों में संक्रमण का पता चला है.

पॉल्ट्री पक्षियों में संक्रमण की पुष्टि
वहीं, हरियाणा, महाराष्ट्र, केरल, छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश में पॉल्ट्री पक्षियों में संक्रमण की पुष्टि हुई है. वहीं, केरल और महाराष्ट्र में कुछ और जिलों में पॉल्ट्री के पक्षियों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है. महाराष्ट्र में नांदेड़, सतारा, लातूर, नागपुर, गढ़चिरोली, मुंबई और बीड जिलों से इस तरह के मामले सामने आए हैं. केरल में अल्लपुझा जिले से पॉल्ट्री के पक्षियों में संक्रमण का पता चला है. मंत्रालय ने कहा कि महाराष्ट्र के परभणी जिले और केंद्रीय कुक्कुट विकास संगठन (सीपीडीओ), मुंबई में रोकथाम अभियान पूरा हो गया है और संक्रमणमुक्त करने की प्रक्रिया चल रही है. उसने कहा कि अन्य सभी प्रभावित क्षेत्रों में त्वरित प्रतिक्रिया दलों को तैनात किया गया है और कुक्कुट पक्षियों को मारने का काम चल रहा है.




जहां संक्रमण वहां के पक्षियों को मारा
मंत्रालय के अनुसार मध्य प्रदेश में (हरदा और मंदसौर जिलों में) पक्षियों को मारने का काम पूरा कर लिया गया है. छत्तीसगढ़ के बालोद जिले में उस पॉल्ट्री के एक किलोमीटर के दायरे में पक्षियों को मारने के लिए दलों को तैनात किया गया जहां संक्रमण का पता चला.
हरियाणा में पंचकूला जिले में पक्षियों को मारने का काम जारी है. वहीं उत्तर प्रदेश के खीरी जिले और पंजाब के रूपनगर में कौओं और प्रवासी पक्षियों समेत अन्य पक्षियों में संक्रमण की पुष्टि हुई है.

सोशल मीडिया के जरिए जागरूकता
देश के प्रभावित क्षेत्रों में हालात पर नजर रखने के लिए गठित केंद्रीय दल इन इलाकों का दौरा कर रहे हैं और उसने महाराष्ट्र के रायगढ़ तथा पुणे जिलों का दौरा किया है. मंत्रालय ने कहा कि केंद्र सरकार ट्विटर और फेसबुक जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से बीमारी के बारे में जागरुकता पैदा करने के लिए सतत प्रयास कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज