• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • प्रदूषण पर हुई मीटिंग से नदारद रहने पर बोलीं हेमा मालिनी- मुंबई में पॉल्यूशन नहीं है

प्रदूषण पर हुई मीटिंग से नदारद रहने पर बोलीं हेमा मालिनी- मुंबई में पॉल्यूशन नहीं है

बीजेपी सांसद हेमामालिनी ने प्रदूषण पर हुई चर्चा में सांसदों के शामिल नहीं होने पर कहा, दिल्‍ली को छोड़कर मुंबई जैसे अन्‍य इलाकों में वायु प्रदूषण बड़ा मुद्दा नहीं है. इसलिए हो सकता है कि वहां से जुड़े सांसदों ने चर्चा में रुचि नहीं दिखाई हो.

बीजेपी सांसद हेमामालिनी ने प्रदूषण पर हुई चर्चा में सांसदों के शामिल नहीं होने पर कहा, दिल्‍ली को छोड़कर मुंबई जैसे अन्‍य इलाकों में वायु प्रदूषण बड़ा मुद्दा नहीं है. इसलिए हो सकता है कि वहां से जुड़े सांसदों ने चर्चा में रुचि नहीं दिखाई हो.

बीजेपी (BJP) सांसद हेमामालिनी (Hema Malini) ने कहा, 'हो सकता है कि जो यहां रह रहे हैं उन्‍होंने ही चर्चा (Debate) में हिस्‍सा लिया. वहीं, मुंबई (Mumbai) जैसे अन्‍य इलाकों में वायु प्रदूषण (Air Pollution) बड़ी समस्‍या नहीं है. इसलिए उन्‍होंने चर्चा में रुचि न दिखाई हो.'

  • Share this:
    नई दिल्‍ली. उत्‍तर प्रदेश के मथुरा (Mathura) से बीजेपी (BJP) सांसद हेमामालिनी (Hema Malini) ने वायु प्रदूषण (Air Pollution) को लेकर कुछ दिनों पहले हुई संसदीय समिति (Parliamentary Committee) की बैठक से अपने समेत सांसदों के नदारद रहने का अजीब तर्क दिया है. राष्‍ट्रीय राजधानी और आसपास के इलाके स्‍मॉग (Smog) में घिरने से काफी हंगामा हुआ, लेकिन इसका सांसदों पर कुछ खास असर पड़ता नहीं दिख रहा है. इसीलिए वायु प्रदूषण पर मंगलवार को हुई लोकसभा (Lok Sabha) की चर्चा में भी बहुत कम सांसदों ने हिस्‍सा लिया, जो निराशाजनक था.

    'मुंबई जैसे कई इलाकों में वायु प्रदूषण नहीं है बड़ा मुद्दा'
    सांसद हेमामलिनी से जब ये पूछा गया कि ऐसे जटिल मुद्दे (Crucial Issues) पर होने वाली चर्चाओं (Debates) में सांसद क्‍यों शामिल नहीं हो रहे हैं तो उन्‍होंने कहा, 'हो सकता है कि जो दिल्‍ली-एनसीआर (Delhi-NCR) में रह रहे हैं या जो इस समस्‍या से जुड़े हैं, वही प्रदूषण पर होने वाली चर्चाओं में हिस्‍सा ले रहे हों. वहीं, मुंबई (Mumbai) जैसे अन्‍य इलाकों में वायु प्रदूषण बड़ा मुद्दा नहीं है. इसलिए उन्‍होंने चर्चा में रुचि (Interest) नहीं दिखाई हो. मुझे इस बारे में स्‍पष्‍ट तौर पर कुछ भी जानकारी नहीं है.'

    बैठक छोड़ने पर गंभीर की भी हुई थी काफी आलोचना
    बीजेपी के गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) और हेमामालिनी समेत 22 लोकसभा सदस्‍य संसद की शहरी विकास समिति (Urban Development Parliamentary Committee) के सदस्‍य हैं. गंभीर के भी वायु प्रदूषण पर हुई चर्चा में भाग नहीं लेने की कड़ी आलोचना हुई थी. शहरी विकास समिति कचरा प्रबंधन, वायु प्रदूषण और भूजल स्‍तर के घटने जैसे अहम शहरी मुद्दों पर काम करती है. हाल के दिनों में लगातार बिगड़ती हवा और वायु गुणवत्‍ता सूचकांक (AQI) के नए स्‍तर पर पहुंचने को लेकर काफी सियासी हंगामा हुआ था. राष्‍ट्रीय राजधानी समेत उत्‍तर भारत के कई क्षेत्रों में एक्‍यूआई 500 के स्‍तर को पार कर गया था.

    हाल में राष्‍ट्रीय राजधानी समेत उत्‍तर भारत के कई क्षेत्रों में एक्‍यूआई 500 के स्‍तर को पार कर गया था.


    जगदंबिका पाल की नाराजगी के बाद ओम बिरला ने जमकर की खिंचाई
    हेमामलिनी के संसदीय क्षेत्र मथुरा (Mathura) में भी एक्‍यूआई 170 के ऊपर निकल गया था. हेमामलिनी ने वायु प्रदूषण के मुद्दे की गंभीरता को स्‍वीकार करते हुए कहा कि हम सभी इस मामले को लेकर संजीदा हैं. मुझे लगता है कि अब सभी इस मुद्दे पर होने वाली चर्चा में उपस्थित रहेंगे. बता दें कि शहरी विकास समिति के अध्‍यक्ष बीजेपी सांसद जगदंबिका पाल (Jagdambika Pal) की नाराजगी के बाद लोकसभा अध्‍यक्ष ओम बिरला (Om Birla) ने डीडीए, दिल्‍ली जल बोर्ड (DJB) और दिल्‍ली म्‍युनिसिपल कॉरपोरेशन (DMC) के अधिकारियों की जमकर खिंचाई की.

    ये भी पढ़ें:

    बिहार के बाद अब पश्चिम बंगाल के मुस्लिम वोट बैंक में सेंध लगा रहे ओवैसी?
    मणिपुर के इस अलगाववादी नेता को लोग बुलाते हैं 'माटीपुत्र'

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज