बीजेपी की मांग, वीर जवानों के लिए जेएनयू में बनाई जाए ‘हीरो गैलरी’

बीजेपी नेता डीपी वत्स ने कहा कि राष्ट्रीय रक्षा अकादमी (एनडीए) और आर्मी कैडेट कॉलेज सहित, सैन्य बलों के कई प्रतिष्ठित संस्थान जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय से संबद्ध हैं.

भाषा
Updated: July 26, 2019, 4:06 PM IST
बीजेपी की मांग, वीर जवानों के लिए जेएनयू में बनाई जाए ‘हीरो गैलरी’
बीजेपी की मांग, वीर जवानों के लिए जेएनयू में बनाई जाए ‘हीरो गैलरी’ (फाइल फोटो)
भाषा
Updated: July 26, 2019, 4:06 PM IST
बीजेपी के एक सदस्य ने राज्यसभा में शुक्रवार को मांग की कि जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में एक ‘‘हीरो गैलरी’’ स्थापित की जानी चाहिए जहां देश की खातिर जान गंवाने वाले वीर जवानों की तस्वीरें लगाई जाएं, ताकि आने वाली पीढ़ी उनसे प्रेरणा ले सकें.

शून्यकाल में यह मुद्दा उठाते हुए बीजेपी नेता डीपी वत्स ने कहा कि राष्ट्रीय रक्षा अकादमी (एनडीए) और आर्मी कैडेट कॉलेज सहित, सैन्य बलों के कई प्रतिष्ठित संस्थान जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय से संबद्ध हैं. इन संस्थानों से पढ़ाई करने वाले छात्र जेएनयू के ही पूर्व विद्यार्थी कहलाते हैं.

उन्होंने कहा ‘मैं सरकार से, मानव संसाधन विकास मंत्री से अनुरोध करता हूं कि जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में एक ‘‘हीरो गैलरी’’ स्थापित की जानी चाहिए जहां देश की खातिर जान गंवाने वाले वीर जवानों की तस्वीरें लगाई जाएं ताकि आने वाली पीढ़ी उनसे प्रेरणा ले सके. इस गैलरी में उनकी वीरता का और उनकी उपलब्धियों का भी जिक्र होना चाहिए. वत्स ने कहा ‘इससे विद्यार्थियों के मन में समर्पण और बलिदान की भावना आएगी तथा सैन्य बलों के प्रति वे अधिक संवेदनशील होंगे.’

काग्रेंस ने उठाना अवैध खनन का मुद्दा

वहीं, कांग्रेस नेता कुमारी शैलजा ने सदन में अवैध खनन का मुद्दा उठाया. उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट की व्यवस्था के बावजूद हरियाणा में अवैध खनन अंधाधुंध जारी है और इस तरह की गतिविधियों का पर्यावरण पर प्रतिकूल असर पड़ता है. शैलजा ने आरोप लगाया कि हरियाणा में अवैध खनन करने वालों को राजनीतिक एवं प्रशासनिक संरक्षण प्राप्त है.

बीजेपी ने जाहिर की चिंता
बीजेपी के विकास महात्मे ने भी देश के विभिन्न हिस्सों में रेत के अवैध खनन को लेकर चिंता जाहिर की. उन्होंने कहा कि निर्माण गतिविधियां बढ़ रही हैं जिसे देखते हुए रेत के विकल्प की खोज के प्रयास किए जाने चाहिए.
Loading...

भोजपुरी को 8वीं अनुसूची में शामिल करने की मांग
बीजेपी सदस्य आर के सिन्हा ने भोजपुरी को संविधान की आठवीं अनुसूची में शामिल किए जाने की मांग की. उन्होंने कहा कि भोजपुरी दो दर्जन से अधिक देशों में बोली जाती है. अकेले भारत में 20 करोड़ से अधिक लोग इस भाषा को बोलते हैं.

इसी पार्टी के विजयपाल सिंह तोमर ने मेरठ की ग्रामीण प्रतिभाओं के राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्पर्धाओं में पदक जीतने का जिक्र करते हुए सरकार से मांग की कि जिले में अखाड़ा और शॉर्टरेंज शूटिंग परिसर बनाए जाने चाहिए.

द्रमुक सदस्य टी के एस इलानगोवन ने श्रीलंका से 83-84 में आए तमिल शरणार्थियों का मुद्दा उठाते हुए कहा कि शरणार्थी शिविरों में रह रहे इन लोगों का पुनर्वास किया जाना चाहिए.

कांग्रेस ने सुंदरवन का मुद्दा उठाया
कांग्रेस के जयराम रमेश ने सुंदरवन की पारिस्थितिकी से जुड़ा मुद्दा उठाया और कहा कि इसकी रक्षा के लिए भारत-बांग्लादेश को संयुक्त प्रयास किए जाने चाहिए. इसी पार्टी के राजामणि पटेल ने मध्यप्रदेश की बाण सागर परियोजना से लोनी बांध को जोड़ने तथा इस बांध को गहरा करने की मांग की.

कांग्रेस के ही संजय सिंह ने खाद्य पदार्थ में मिलावट की वजह से होने वाली बीमारियों का जिक्र करते हुए सरकार से इस बारे में जागरूकता फैलाने और मिलावट रोकने के लिए कड़े कदम उठाने की मांग की.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 26, 2019, 4:06 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...