Assembly Banner 2021

केरल चुनाव: 2 विधानसभा सीटों पर BJP और 1 पर अन्नाद्रमुक उम्मीदवार का नामांकन खारिज

हरिदास ने कहा कि पार्टी निर्वाचन अधिकारी के फैसले को उच्चतम न्यायालय में चुनौती देगी.

हरिदास ने कहा कि पार्टी निर्वाचन अधिकारी के फैसले को उच्चतम न्यायालय में चुनौती देगी.

Kerala Assembly Elections: भाजपा राज्य में माकपा के नेतृत्व वाले एलडीएफ और कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूडीएफ दोनों के एक विकल्प के रूप में उभरने का प्रयास कर रही है.

  • Share this:
कन्नूर/त्रिशूर. केरल में थालास्सेरी, गुरुवायूर और देवीकुलम निर्वाचन क्षेत्रों से बीजेपी (BJP) के नेतृत्व वाले राजग उम्मीदवारों के नामांकन पत्रों को जांच के बाद निर्वाचन अधिकारियों ने खारिज कर दिया है. राज्य में आगामी छह अप्रैल को विधानसभा चुनाव (Kerala Assembly Elections 2021) के लिए मतदान होगा. कन्नूर जिले में थालास्सेरी और त्रिशूर जिले में गुरुवायूर में भाजपा उम्मीदवारों के नामांकन पत्र खारिज होना पार्टी के लिए एक झटका माना जा रहा है.

भाजपा राज्य में माकपा के नेतृत्व वाले एलडीएफ और कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूडीएफ दोनों के एक विकल्प के रूप में उभरने का प्रयास कर रही है. सूत्रों ने बताया कि इडुक्की जिले के देवीकुलम में बीजेपी के सहयोगी अन्नाद्रमुक के उम्मीदवार आर एम धनलक्ष्मी के नामांकन को कथित तौर पर अपूर्ण फॉर्म जमा करने के कारण खारिज कर दिया गया था.

पार्टी के पास नहीं है कोई उम्मीदवार
उन्होंने बताया कि थालास्सेरी और गुरुवायूर में भाजपा उम्मीदवारों के नामांकन को अनिवार्य दस्तावेजों की मांग को लेकर खारिज कर दिया गया. भाजपा के कन्नूर जिला अध्यक्ष एन हरिदास थालास्सेरी के लिए पार्टी के उम्मीदवार थे. नामांकन खारिज होने के साथ ही थालास्सेरी में पार्टी का अब कोई उम्मीदवार नहीं है जहां 2016 के विधानसभा चुनावों में सबसे अधिक मत 22,215 वोट हासिल किये थे.
सुप्रीम कोर्ट में देंगे निर्वाचन अधिकारी के फैसले को चुनौती


हरिदास ने कहा कि पार्टी निर्वाचन अधिकारी के फैसले को उच्चतम न्यायालय में चुनौती देगी. गुरुवायूर सीट से भाजपा उम्मीदवार निवेदिता ने दावा किया कि उनके नामांकन में केवल एक मामूली तकनीकी त्रुटि थी, लेकिन निर्वाचन अधिकारी ने राहत देने से इनकार कर दिया.

ये भी पढ़ें- ममता बनर्जी पर जमकर बरसे पीएम मोदी- खड़गपुर रैली की 10 खास बातें

उन्होंने कहा कि वह इसे कानूनी रूप से लड़ेगी. इस बीच कांग्रेस ने आरोप लगाया कि राजग उम्मीदवारों ने चुनावों में माकपा की मदद के लिए अधूरे नामांकन पत्र जमा किये.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज