विकिलीक्स के जरिए BJP का राहुल पर हमला, कहा-हिंदुओं को बदनाम करने के लिए मांगे माफी

भाजपा ने कांग्रेस पर यह हमला विशेष आतंकवाद निरोधक अदालत द्वारा हैदराबाद के 2007 के मक्का मस्जिद विस्फोट प्रकरण में दक्षिणपंथी कार्यकर्ता स्वामी असीमानंद और चार अन्य को बरी किए जाने के बाद किया.

भाषा
Updated: April 17, 2018, 5:12 PM IST
विकिलीक्स के जरिए BJP का राहुल पर हमला, कहा-हिंदुओं को बदनाम करने के लिए मांगे माफी
सोनिया-राहुल (फाइल फोटो)
भाषा
Updated: April 17, 2018, 5:12 PM IST
भाजपा ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी एवं सोनिया गांधी को दुनिया में हिंदुओं को बदनाम करने के लिए माफी मांगने को कहा है. भाजपा ने अपनी इस मांग के समर्थन में विकिलीक्स के खुलासे का हवाला दिया है.

कांग्रेस पर भाजपा ने उस समय हमला किया जब एक दिन पहले ही विशेष आतंकवाद निरोधक अदालत ने हैदराबाद के 2007 के मक्का मस्जिद विस्फोट प्रकरण में दक्षिणपंथी कार्यकर्ता स्वामी असीमानंद और चार अन्य को बरी कर दिया.

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘यदि कांग्रेस भारत को अपना समझती है तो सोनिया और राहुल गांधी को पवित्र हिंदू धर्म को बदनाम करने को लेकर पूरे देश से माफी मांगनी चाहिए क्योंकि कांग्रेस ने यह साबित करने की कोशिश की थी कि भगवा आतंकवाद है’’

उन्होंने कांग्रेस की यूपीए सरकार के दौरान तत्कालीन अमेरिकी राजदूत और राहुल गांधी के बीच हुई बातचीत से संबंधित विकिलीक्स द्वारा मिले टेलीग्राम को भी दिखाया. इस टेलीग्राम के हिसाब से राहुल गांधी ने कहा था कि भगवा आतंकवाद लश्कर-ए-तैयबा से कहीं ज्यादा बड़ा खतरा है.

पात्रा ने कहा, ‘यह हिंदुओं के प्रति राहुल गांधी की मानसिकता दर्शाता है. उनकी पार्टी ने हमेशा हिंदुओं को हल्के में लिया है.’

सोमवार को अदालत का फैसला आने के बाद संबित पात्रा ने कहा था कि अपनी तुष्टिकरण की राजनीति के लिए कांग्रेस ने महज कुछ वोटों के चक्कर में हिंदुओं एवं देश को निशाना बनाया और बदनाम किया. वह साजिश अब बेनकाब हो गयी है, कांग्रेस पहले कभी ऐसे बेनकाब नहीं हुई.’

उन्होंने कहा कि लोग कांग्रेस को कर्नाटक चुनाव में वैसा ही सबक सिखाएंगे जैसा उन्होंने 2014 के आम चुनाव में सिखाया था.

ये भी पढ़ेंः

लोकसभा में मेरे सामने 15 मिनट भी नहीं टिक पाएंगे मोदी: राहुल गांधी

अमेठी: छात्रों के सवाल पर असहज हुए राहुल गांधी, कहा- मोदी और योगीजी से पूछिए जवाब

 
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर