अपना शहर चुनें

States

विपक्ष के आरोपों पर भाजपा का पलटवार, रविशंकर प्रसाद ने पूछा- क्यों घबराएं हैं राहुल-ममता

रविशंकर प्रसाद ने राहुल और ममता पर निशाना साधते हुए कहा कि किसी पर बेबुनियाद आरोप लगाना ठीक बात नहीं है. दोनों नेता इससे बाज आएं. उन्होंने कहा कि नोटबंदी के मामले में पूरा देश सरकार के फैसले के साथ है.
रविशंकर प्रसाद ने राहुल और ममता पर निशाना साधते हुए कहा कि किसी पर बेबुनियाद आरोप लगाना ठीक बात नहीं है. दोनों नेता इससे बाज आएं. उन्होंने कहा कि नोटबंदी के मामले में पूरा देश सरकार के फैसले के साथ है.

रविशंकर प्रसाद ने राहुल और ममता पर निशाना साधते हुए कहा कि किसी पर बेबुनियाद आरोप लगाना ठीक बात नहीं है. दोनों नेता इससे बाज आएं. उन्होंने कहा कि नोटबंदी के मामले में पूरा देश सरकार के फैसले के साथ है.

  • Pradesh18
  • Last Updated: December 27, 2016, 4:57 PM IST
  • Share this:
 

नोटबंदी के सवाल पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी की ओर से प्रधानमंत्री पर हमले के बाद भाजपा ने पलटवार किया है. भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने सीधे राहुल से पूछा कि वह टूजी स्पेक्ट्रम घोटाला और कोयला घोटाला पर अपनी राय दें.

रविशंकर प्रसाद ने राहुल और ममता पर निशाना साधते हुए कहा कि किसी पर बेबुनियाद आरोप लगाना ठीक बात नहीं है. दोनों नेता इससे बाज आएं. उन्होंने कहा कि नोटबंदी के मामले में पूरा देश सरकार के फैसले के साथ है. क्योंकि देश को ईमानदार बनाने के लिए नोटबंदी की गई है.



सरकार की सख्ती से परेशान हैं राहुल और उनके साथी
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि चोरों पर सरकार की सख्ती से राहुल गांधी और उनके साथी परेशान हैं. क्योंकि कांग्रेस अब तक की सबसे भ्रष्ट पार्टी है और राहुल गांधी में परिपक्वता का अभाव है. उन्हों मायावती पर भी पलटवार करते हुए पूछा कि नोटबंदी के बाद उन्होंने जो पैसे जमाये कराए हैं उसकी जांच से वह बौखला क्यों रही है. क्या मायावती अपने भ्रष्टाचार को दलितों के नाम पर छुपाना चाहती हैं.

यह भी पढ़ें- नोटबंदी: राहुल ने कहा बेरोजगारी बढ़ी, ममता ने बताया सबसे बड़ा भ्रष्टाचार

मायावती कर रही हैं दलितों का अपमान

कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि मायावती दलितों का अपमान कर रही हैं. प्रधानमंत्री पर लगाए मायावती के आरोप पूरी तरह बेबुनियाद और निंदनीय हैं. उन्होंने मायावती से पूछा कि बैंक खाते में जमा कराई गई रकम बसपा को मिले चंदे की है या नोटबदली के जरिए पैसा जमा कराया गया है.

भाजपा ने तो कुछ कहा भी नहीं, कानून कर रहा है अपना काम

उन्होंने कहा कि कानून अपना काम करेगा और मायावती को अपना जवाब देना होगा. बसपा इसीलिए नोटबंदी का विरोध कर रही है. भाजपा ने तो अभी कुछ कहा भी नहीं है. मगर इसके लिए पीएम मोदी और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को लक्ष्य कर अपमानजनक टिप्पणी करने का क्या मतलब है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज