बंगाल चुनाव पर बीजेपी का बड़ा फैसला, छोटी होंगी सभाएं, 500 से कम लोग होंगे शामिल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय मंत्रियों की सभाओं में 500 से ज्यादा लोग शामिल नहीं होंगे.  (फाइल फोटो)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय मंत्रियों की सभाओं में 500 से ज्यादा लोग शामिल नहीं होंगे. (फाइल फोटो)

JP Nadda on Coronavirus: जेपी नड्डा के बयान के मुताबिक बंगाल में होने वाली बीजेपी की रैलियों में अब 500 से ज्यादा लोगों की संख्या नहीं होगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 19, 2021, 9:19 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi), टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के बाद बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) ने बंगाल चुनाव में प्रचार को लेकर बड़ा फैसला लिया है. जेपी नड्डा ने कहा कि बंगाल में होने वाली बीजेपी की रैलियों में अब 500 से ज्यादा लोगों की संख्या नहीं होगी. इतनी ही संख्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय मंत्रियों की सभाओं में होगी. सभी चुनावी सभाएं खुले में आयोजित की जाएंगी और कोरोना गाइडलाइंस का पालन किया जाएगा. इसके साथ ही बीजेपी की ओर से कहा गया है कि पार्टी ने बंगाल में 6 करोड़ मास्क और सैनिटाइजर वितरित करने का लक्ष्य रखा है.

पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा के आह्वान पर बीजेपी ने सभी राज्यों में कोविड हेल्पडेस्क और कोविड हेल्पलाइन बनाने का फैसला किया है. ध्यान दे कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कोरोना संक्रमण के चलते बंगाल में अपनी रैलियां कैंसिल कर दी थीं, इसके बाद टीएमसी नेता ममता बनर्जी ने कोलकाता में चुनाव प्रचार ने करने की घोषणा की. भवानीनगर से टीएमसी उम्मीदवार ने भी कोई बड़ी रैली ना करने का फैसला किया है. भवानीनगर, पहले ममता बनर्जी की सीट थी, लेकिन ममता के नंदीग्राम से चुनाव लड़ने के ऐलान पर अन्य उम्मीदवार को उतारा गया है.

टीएमसी भी करेगी छोटी-छोटी सभाएं

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने रविवार को कहा था कि उनकी पार्टी तृणमूल कांग्रेस कोलकाता में छोटी-छोटी चुनावी सभाएं आयोजित करेगी और वह उन जिलों में आयोजित रैलियों में छोटे-छोटे भाषण देंगी, जिनमें शेष तीन चरणों में मतदान होना है. बनर्जी ने एक टीवी चैनल से कहा कि वह राज्य के विभिन्न भागों में आम तौर पर दिए जाने वाले 50 मिनट से एक घंटे के भाषण में 20 मिनट या उससे अधिक समय की कटौती करेंगी, ताकि लोगों को सभा में लंबे समय तक न रहना पड़े.
उन्होंने कहा, ''हां, हमने अगले तीन चरणों में शहर में गली-कूचों में छोटी-छोटी सभाएं करने का निर्णय है. हम अब बड़ी-बड़ी सभाएं नहीं करेंगे. साथ ही मेरे भाषण भी काफी छोटे होंगे.'' तृणमूल कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य डेरेक ओ'ब्रायन ने ट्वीट किया, ''ममता बनर्जी अब कोलकाता में प्रचार नहीं करेंगी. शहर में 26 अप्रैल को मतदान के अंतिम दिन केवल सांकेतिक सभा होगी. उन्होंने सभी जिलों में अपनी सभी चुनावी रैलियों के समय में कटौती की है. उनके भाषण केवल 30 मिनट के होंगे.''



पश्चिम बंगाल में आठ चरण में हो रहा विधानसभा चुनाव अभी जारी है. राज्य में रविवार को एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के 8,419 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या 6,59,927 हो गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज