होम /न्यूज /राष्ट्र /BJP ने चुनाव आयोग से की मांग, पश्चिम बंगाल को घोषित करें अति संवेदनशील राज्य

BJP ने चुनाव आयोग से की मांग, पश्चिम बंगाल को घोषित करें अति संवेदनशील राज्य

बीजेपी ने चुनाव आयोग से कहा कि उसे बंगाल पुलिस पर भरोसा नहीं है, इसलिए आयोग बंगाल पुलिस की सुरक्षा में चुनाव न कराए.

बीजेपी ने चुनाव आयोग से कहा कि उसे बंगाल पुलिस पर भरोसा नहीं है, इसलिए आयोग बंगाल पुलिस की सुरक्षा में चुनाव न कराए.

बीजेपी ने चुनाव आयोग से कहा कि उसे बंगाल पुलिस पर भरोसा नहीं है, इसलिए आयोग बंगाल पुलिस की सुरक्षा में चुनाव न कराए.

    भारतीय जनता पार्टी के प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग से मुलाकात कर पश्चिम बंगाल को अति संवेदनशील राज्य घोषित करने की मांग की है. बीजेपी ने मांग की है कि पश्चिम बंगाल में राज्य पुलिस की केवल सीआरपीएफ तैनात हो. बीजेपी ने कहा कि उसे बंगाल पुलिस पर भरोसा नहीं है इसलिए आयोग बंगाल पुलिस की सुरक्षा में चुनाव न कराए.




    चुनाव आयोग से मुलाकात के बाद केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया, 'बंगाल में चुनावों के दौरान होने वाली हिंसा के कारण बहुत से लोग प्रभावित हुए हैं. बंगाल में हो रही हिंसा की आशंका देखते हुए हमने चुनाव आयोग से पूरे बंगाल को अतिसंवेदनशील क्षेत्र घोषित करने की मांग की है. सभी बूथ केंद्रों पर सीआरपीएफ की तैनाती करने की भी मांग की. बंगाल में चुनावों के दौरान मीडिया पर भी पाबंदी अघोषित तौर पर रहती है. हमने मीडिया को प्रवेश मिले इसकी भी मांग की.'

    ये भी पढ़ें- गुजरात में कांग्रेस को मजबूत होता देख ‘स्पेशल 26’ प्लान पर काम कर रही है BJP

    बीजेपी ने इसके साथ ही चुनाव आयोग से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की भी शिकायत की है. केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने यह जानकारी देते हुए कहा, 'हमने राहुल गांधी के खिलाफ शिकायत की है. राहुल गांधी ने पीएम के खिलाफ को झूठे आरोप लगाए हैं, जो कि मॉडल कोड ऑफ कन्डक्ट का उल्लंघन है जिसकी चुनाव आयोग में शिकायत की गई है.' कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को अहमदाबाद रैली में पीएम के बारे में बयान दिया था. जिसकी शिकायत बीजेपी ने चुनाव आयोग में की है.

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp 

    Tags: Bengal, BJP, Election 2019, India, News Updates, Ravishankar prasad, Trending news

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें