लाइव टीवी

Lok Sabha Election 2019: केरल में कांग्रेस और लेफ्ट के लिए चिंता का कारण बन सकती है बीजेपी!

News18.com
Updated: April 23, 2019, 9:33 AM IST
Lok Sabha Election 2019: केरल में कांग्रेस और लेफ्ट के लिए चिंता का कारण बन सकती है बीजेपी!
थिरुनेल्ली मंदिर में पूजा करते हुए राहुल गांधी

बीजेपी सबरीमाला मुद्दे को लेकर लेफ्ट पर हमला बोलती रही है. बीजेपी ने केरल के लोगों को भरोसा दिलाया कि वह राज्य की परंपराओं और विश्वास को बनाए रखने के लिए हर संभव कदम उठाएगी.

  • News18.com
  • Last Updated: April 23, 2019, 9:33 AM IST
  • Share this:
लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण में मंगलवार को वोटिंग हो रही है. इस चरण केरल की सभी 20 सीटों के लिए वोटिंग हो रही है, जहां राहुल गांधी, केंद्रीय मंत्री केजी अल्फॉन्स, शशि थरूर, कुम्मानम राजशेखरन जैसे बड़े नेताओं की किस्मत ईवीएम में कैद होगी.

सीपीएम की अगुवाई वाली एलडीएफ और कांग्रेस की अगुवाई वाली यूडीएफ के बीच इस बार करो या मरो जैसे हालात हैं. वहीं एनडीए भी केरल में अपनी जगह बनाने के लिए सारी कोशिशें कर रही है. एनडीए कम से कम तीन सीटों- तिरुवनंतपुरम, पतनमथिट्टा और त्रिशूर में इन दोनों पार्टियों को चुनौती दे सकती है. वहीं केरल की वायनाड सीट पर सभी की नज़रें टिकी हैं क्योंकि राहुल गांधी यहां से चुनाव लड़ रहे हैं. तिरुवनंतपुरम में शशि थरूर तो एर्णाकुलम से केजी अलफॉन्स चुनाव लड़ रहे हैं.

ये भी पढ़ें: दिल्ली: उलझन में फंसी रही कांग्रेस, BJP ने किया चार उम्मीदवारों का ऐलान

वहीं, बीजेपी सबरीमाला मुद्दे को लेकर लेफ्ट पर हमले बोलती रही है. सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद केरल की लेफ्ट सरकार ने सबरीमाला मंदिर में महिलाओं का प्रवेश कराने का वादा किया था, लेकिन बीजेपी ने इसका विरोध किया. बीजेपी ने केरल के लोगों को भरोसा दिलाया कि अगर उसकी सरकार बनती है तो वह राज्य की परंपराओं और विश्वास को बनाए रखने के लिए हर संभव कदम उठाएगी.

साथ ही वायनाड सीट को लेकर पीएम मोदी ने राहुल गांधी पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, 'केरल से चुनाव लड़ने के पीछे दक्षिण भारत की जनता को संदेश देने का उद्देश्य नहीं है बल्कि राहुल गांधी तुष्टीकरण की राजनीति कर रहे हैं.'

हालांकि, लेफ्ट ने राहुल गांधी के वायनाड से चुनाव लड़ने पर ऐतराज़ जताया. लेफ्ट का कहना है कि कांग्रेस ने बीजेपी के खिलाफ मिलकर चुनाव नहीं लड़ा. वायनाड सीट पर कांग्रेस का कब्जा रहा है. 2014 और 2009 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के एमआई शानवास यहां से सांसद चुने गए थे. वायनाड में 20 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं.

ये भी पढ़ें: वाराणसी में क्या पीएम मोदी को टक्कर दे पाएंगी प्रियंका? जानें सारा समीकरणसीपीएम के महासचिव सीताराम येचुरी, पोलित ब्यूरो सदस्य प्रकाश करात और बिंद्रा करात ने पूरे राज्य में प्रचार किया. मुख्य चुनाव अधिकारी टीका राम मीणा के अनुसार 817 बूथ संवेदनशील 425 अति संवेदनशील पोलिंग स्टेशन के अंतर्गत आते हैं. स्थितियों पर नियंत्रण बनाए रखने के लिए केंद्रीय बलों की 57 कंपनियां और करीब 4700 सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है.

केरल में कुल 2.61 करोड़ मतदाता हैं. इनमें महिलाओं की संख्या ज्यादा है. पहली बार वोट करने वालों में करीब दो लाख मतदाता हैं. कैंपेन के दौरान कई रोड शो किए गए लेकिन रविवार को कई हिंसक घटनाओं के कारण काफी लोग घायल हो गए. किसी भी तरह की हिंसा से बचने के लिए कोझीकोड जिला प्रशासन ने वटकरा सीट पर मंगलवार को शाम को 6 बजे से लेकर रात के 10 बजे तक के लिए निषेधाज्ञा लागू कर दी है ताकि चुनाव बाद के किसी हिंसा को रोका जा सके.
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 23, 2019, 8:01 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर