ओडिशा में उज्ज्वला को सफल बनाने के लिए सरकार ने शुरू की उज्ज्वला दीदी योजना

पेट्रोलियम मंत्रालय के आंकड़े बताते हैं कि ओडिशा में एलपीजी उपभोक्ताओं की संख्या और उज्ज्वला की कवरेज में 2014 से 2019 तक में 200% से ज्यादा की बढ़ोतरी हुई है.

अमिताभ सिन्हा | News18Hindi
Updated: February 24, 2019, 2:46 PM IST
ओडिशा में उज्ज्वला को सफल बनाने के लिए सरकार ने शुरू की उज्ज्वला दीदी योजना
केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान (फाइल फोटो)
अमिताभ सिन्हा
अमिताभ सिन्हा | News18Hindi
Updated: February 24, 2019, 2:46 PM IST
लोकसभा चुनाव से पहले केंद्र सरकार ने ओडिशा के लिए योजनाओं की झड़ी लगा दी है. पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान खुद हर योजना की मॉनिटरिंग में लगे रहते हैं. हालांकि उनकी शिकायत है कि मुख्यमंत्री नवीन पटनायक उन योजनाओं को अमली जामा पहनाने में तरजीह नहीं देते.

गेमचेंजर उज्ज्वला योजना की अभूतपूर्व सफलता के बाद अब बारी है उस योजना को और मजबूती देने की, ताकि महिलाओं को जिस मुश्किल से निकालने की ये मुहिम शुरू की गई थी वह ठंडी न पड़ जाए. इसलिए धर्मेंद्र प्रधान ने एक अनूठी योजना को मूर्त रूप दिया है.

चुनाव के बाद होगी अगली 'मन की बात', पीएम बोले- सालों चलेगा बातचीत का सिलसिला

भुवनेश्वर में शनिवार को एक अनूठी योजना उज्ज्वला दीदी योजना शुरू की गई है. पेट्रोलियम मंत्रालय के तहत चलने वाली इस योजना को शुरू करने के लिए आयोजित कार्यक्रम में 10 हजार महिलाओं ने हिस्सा लिया. ओडिशा के कोने-कोने से आई इन महिलाओं की जिंदगी उज्ज्वला योजना ने बदली है. 1 फरवरी, 2019 को जारी आंकड़ों के मुताबिक, पीएम उज्ज्वला योजना के तहत पूरे ओडिशा में 37,16 लाख महिला लाभार्थी हैं.

अब यही महिलाएं दीदी बन कर पूरे राज्य में घूमेंगी और समाज में बदलाव लाने वाले एजेंट के रूप में काम करेंगी. इनका काम होगा पूरे ओडिशा को क्लीन फ्यूल राज्य बनाना. गरीब महिलाओं को सिलिंडर की रीफिलिंग में मदद करने, एलपीजी सुरक्षा को लेकर महिलाओं की चिंता को दूर करने, नए कनेक्शन दिलवाने में मदद करने और उनकी शिकायतों के निपटारे में मदद का जिम्मा उज्ज्वला दीदी को दिया गया है. इन्हें दीदी नाम दिया गया है, ताकि दूरदराज के इलाकों में रह रही गरीब महिलाएं उन्हें अपना हिस्सा ही समझें.

चिदंबरम ने पीएम किसान योजना पर कसा तंज, कहा-'आज कैश फॉर वोट डे है'

पेट्रोलियम मंत्रालय के आंकड़े बताते हैं कि ओडिशा में एलपीजी उपभोक्ताओं की संख्या और उज्ज्वला की कवरेज में 2014 से 2019 तक में 200% से ज्यादा की बढ़ोतरी हुई है. 2014 में ओडिशा में उपभोक्ताओं की संख्या 20.22 लाख थी जो 2019 में बढ़कर 76.65 लाख हो गयी यानी 279% और एसपीजी कवरेज 20% से 71.50% हो गया यानी 257% की बढ़ोतरी हुई.
Loading...

इसे कहते हैं धर्मेंद्र प्रधान का एक पंथ दो काज- एक तो समाज का भला होगा और साथ ही इस चुनावी मौसम में राज्य के कोने-कोने में पहुंचने का फायदा मिल जाए तो बीजेपी आलाकमान के लिए तो खुशी का ही मौका होगा.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
First published: February 24, 2019, 1:53 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...