मोदी सरकार में कैबिनेट मंत्री नारायण राणे बोले- बालासाहेब ठाकरे हैं मेरे गुरु

नारायण राणे को सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय की ज़िम्मेदारी दी गई है. (फ़ाइल फोटो)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की नई टीम में एक बड़ा नाम महाराष्ट्र (Maharashtra) के कद्दावर नेता नारायण राणे (Narayan Rane) का भी रहा. राणे को सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय की ज़िम्मेदारी दी गई है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की नई कैबिनेट (Cabinet) में शामिल नए चेहरे बुधवार शाम जब सामने आए तो कई पार्टियों के माथे पर चिंता की लकीरें तन गईं. पीएम मोदी की नई टीम में एक बड़ा नाम महाराष्ट्र के कद्दावर नेता नारायण राणे (Narayan Rane) का भी रहा. राणे को सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय की ज़िम्मेदारी दी गई है.

    ऐसा माना जा रहा है राणे को कैबिनेट में जगह देकर भाजपा ने शिवसेना के नेतृत्व वाली महा विकास आघाडी सरकार को कड़ा संदेश दिया है. सरकार ने बता दिया है कि वो महाराष्ट्र में चुपचाप बैठने वाली नहीं है. बता दें कि नारायण राणे पहले शिवसेना में ही थे. इसके बाद उन्होंने कांग्रेस का हाथ थाम लिया और फिर अपनी पार्टी बना ली. 2019 में उन्होंने बीजेपी ज्वाइन की थी. अभी नारायण राणे राज्यसभा सांसद हैं. आई जानते है कैबिनेट में जगह मिलने को लेकर नारायण राणे क्‍या सोच रखते हैं.



    इंडिया टुडे में प्रकाशित नारायण राणे के साक्षात्‍कार के कुछ अंश

    [q]आप मोदी कैबिनेट में शपथ लेने वाले पहले मंत्री थे. क्या यह महाराष्ट्र की राजनीति और शिवसेना के लिए एक राजनीतिक संदेश था?[/q]
    [ans]यह आपकी सोच है. बीजेपी ऐसा नहीं सोचती. प्रधानमंत्री ने मुझे सांसद बनाया. जब उन्होंने सोचा कि मुझे मंत्री बनाना चाहिए, तो उन्होंने ऐसा किया. यह शिवसेना को कोई संदेश देने के बारे में नहीं है.[/ans]

    [q]आपने शिवसेना पर निशाना साधा है. क्‍या इसके जरिए आप उद्धव ठाकरे को संदेश देना चाहते हैं?[/q]
    [ans]अगर मेरे किसी भी बयान से महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे तक कोई संदेश जा रहा है, तो उसे जाने दें. मुझे किसी भी तरह का कोई संदेश भेजने के लिए कैबिनेट में शामिल नहीं किया गया है.[/ans]

    [q]अगर शिवसेना निशाना नहीं है तो फिर आपको मंत्री क्यों बनाया गया?[/q]
    [ans]मैं एक सांसद हूं और एक भाजपा कार्यकर्ता हूं. मैं महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री रह चुका हूं. ऐसे में मुझे नई जिम्‍मेदारी मिली है और मैं उसके लिए तैयार हूं.[/ans]

    [q]मुंबई में जल्द ही नगर निकाय चुनाव होंगे. मराठा वोट बैंक पर आपकी अच्छी पकड़ है. क्या आपको शिवसेना विरोधी मराठा चेहरे के रूप में पेश किया जा रहा है?[/q]
    [ans]ऐसा आप सोचते हैं. भाजपा इस तरह की कोई सोच नहीं रखती. महाराष्ट्र की जनता गुस्से में है और राज्य सरकार किसी भी तरह का कोई विकास कार्य नहीं कर रही है.[/ans]

    [q]आप महाराष्ट्र सरकार को निशाना बनाते रहेंगे?[/q]
    [ans]हम लक्ष्य निर्धारित करके कोई काम नहीं करते हैं. महाराष्‍ट्र सरकार की गलतियों को उजागर करना हमारा कर्तव्य है. भ्रष्टाचार बढ़ रहा है. महाराष्ट्र में कानून-व्यवस्था नहीं है. इसे उजागर करना हमारा कर्तव्य है.[/ans]

    [q]कुछ लोग कहते हैं कि नारायण राणे वहीं जाते हैं जहां सत्ता होती है[/q]
    [ans]मैं 39 साल तक शिवसेना के साथ रहा. बालासाहेब जी ने मुझे सीएम बनाया. आज भी, मैंने कैबिनेट में जगह हासिल करने के लिए किसी से कुछ नहीं कहा है. जब मैं पार्टी के लिए काम करता हूं तो पार्टी मेरे बारे में सोचती है. इसमें कुछ भी गलत नहीं है. मैं बालासाहेब जी का सम्मान करता हूं और उन्हें अपना गुरु मानता हूं. मैंने उद्धव ठाकरे की वजह से ही शिवसेना छोड़ी.[/ans]

    [q]बीजेपी और शिवसेना के साथ आने से क्या आप खुश होंगे?[/q]
    [ans]बीजेपी जो भी फैसला करेगी मैं उसे स्वीकार करूंगा.[/ans]

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.