अपना शहर चुनें

States

BJP सांसद सनी देओल को मिली Y श्रेणी की सुरक्षा, अब साथ रहेंगे 11 जवान और 2 PSO

सनी देओल पंजाब के गुरदासपुर से भारतीय जनता पार्टी के सांसद हैं. (PTI)
सनी देओल पंजाब के गुरदासपुर से भारतीय जनता पार्टी के सांसद हैं. (PTI)

सनी देओल (Sunny Deol) पंजाब के गुरदासपुर (Punjab Gurudaspur) से भारतीय जनता पार्टी (BJP) के सांसद हैं. गुरदासपुर भारत और पाकिस्तान सीमा के पास है. ऐसे में खतरा लगातार बना रहता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 16, 2020, 11:42 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बॉलीवुड एक्टर से बीजेपी सांसद बने सनी देओल (Sunny Deol) को केंद्रीय गृह मंत्रालय (Home Ministry) ने Y  कैटेगरी की सुरक्षा दी है. अब उनके साथ केंद्रीय सुरक्षा बलों की एक टीम हमेशा मौजूद रहेगी. सनी देओल की ये सुरक्षा उनकी जान की खतरे को देखते हुए बढ़ाई गई है. वाई श्रेणी की सुरक्षा के तहत उनके साथ 11 जवान और 2 पीएसओ रहेंगे. सनी देओल पंजाब के गुरदासपुर से भारतीय जनता पार्टी के सांसद हैं. गुरदासपुर भारत और पाकिस्तान सीमा के पास है.

सनी देओल की सुरक्षा ऐसे वक्त में बढ़ाई गई है, जब पंजाब में कृषि कानूनों का भारी विरोध हो रहा है. किसान संगठनों ने भी बीजेपी के नेताओं, मंत्रियों के घेराव की बात कही है. सनी देओल पंजाब से ही आते हैं, ऐसे में लंबे वक्त तक कृषि कानून के मसले पर उनकी चुप्पी पर सवाल उठे थे.

किसानों से जुड़े बयान पर ट्रोल हुए सनी देओल, लोगों ने कहा- 'सनी देओल 'चड्ढा' और 'दामिनी' के साथ हैं!'



हाल ही में सनी देओल ने ट्वीट कर किसानों से आंदोलन समाप्त करने की बात कही थी. उन्होंने कहा था, 'मैं पूरी दुनिया से यह अनुरोध करता हूं कि यह हमारे किसानों और सरकार के बीच का मामला है. उनके बीच में ना आएं क्योंकि चर्चा के बाद दोनों जरूर रास्ता निकालेंगे. मैं जानता हूं कि कई लोग इसका फायदा उठाना चाहते हैं और वे समस्या खड़ी कर रहे हैं. वे किसानों के बारे में नहीं सोच रहे हैं. उनका अपना एजेंडा है.'
क्या है सिक्योरिटी कैटेगरी?
एक्स श्रेणी की सुरक्षा: इस श्रेणी में 2 सुरक्षा गार्ड तैनात होते हैं। जिसमें एक पीएसओ (व्यक्तिगत सुरक्षा अधिकारी) होता है.

वाई श्रेणी की सुरक्षा: इसमें कुल 11 सुरक्षाकर्मी शामिल होते हैं। जिसमें दो पीएसओ (निजी सुरक्षागार्ड) भी होते हैं. इस श्रेणी में कोई कमांडो नहीं तैनात होता है.

वाई प्लस श्रेणी सुरक्षा: इसमें 11 सुरक्षाकर्मी मिले होते हैं। इनमें 1 या 2 कमांडो और 2 पीएसओ भी शामिल होते है। इस सुरक्षा के तहत कपिल मिश्रा को 24 घंटे दिल्ली पुलिस का एक सिपाही बतौर निजी सुरक्षा अधिकारी के तौर पर मिला है.

शाहरुख खान से 27 साल पहले हुई थी तकरार, सनी देओल ने गुस्से में फाड़ दी थी अपनी जींस

जेड श्रेणी की सुरक्षा: जेड श्रेणी की सुरक्षा में चार से पांच एनएसजी कमांडो सहित कुल 22 सुरक्षागार्ड तैनात होते हैं. इसमें दिल्ली पुलिस, आईटीबीपी या सीआरपीएफ के कमांडो व स्थानीय पुलिसकर्मी भी शामिल होते हैं.

जेड प्लस श्रेणी की सुरक्षा: स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप की सुरक्षा के बाद जेड प्लस भारत की सर्वोच्च सुरक्षा श्रेणी है. इस श्रेणी में संबंधित विशिष्ट व्यक्ति की सुरक्षा में 36 जवान लगे होते हैं. इसमें 10 से ज्यादा एनएसजी कमांडो के साथ दिल्ली पुलिस, आईटीबीपी या सीआरपीएफ के कमांडो और राज्य के पुलिसकर्मी शामिल होते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज